--Advertisement--

ग्रामीण क्षेत्रों में पुलिस ने निकाला फ्लैग मार्च

विधानसभा चुनाव की तिथि ज्यों ज्यों नजदीक आ रही है अधिकारी एवं पुलिस विभाग सक्रिय होता जा रहा है। प्रदेश में...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 02:30 AM IST
Jatara - police march flagged in rural areas
विधानसभा चुनाव की तिथि ज्यों ज्यों नजदीक आ रही है अधिकारी एवं पुलिस विभाग सक्रिय होता जा रहा है। प्रदेश में विधानसभा चुनाव के दौरान शांति व्यवस्था को बनाए रखने के लिए पुलिस प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों ने बैठक की। सीमा पर चुनावी समर के दौरान आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों पर निगरानी रखने के लिए बैठक का आयोजन उप्र की कनेरा चौकी में किया गया। जिसमें जतारा एसडीओपी एस सी बोहित ने उत्तर प्रदेश पुलिस से सीमा सहयोग की अपील की।

वहीं उत्तर प्रदेश पुलिस के वरिष्ट अधिकारी मऊरानीपुर सीईओ देवेन्द्र कुमार द्वारा आश्वासन दिया गया। जिसमें थाना प्रभारी चंदेरा प्रदीप सराफ, थाना प्रभारी पलेरा नवीन जैन, थाना प्रभारी लिधौरा जगेत, बम्हौरी थाना प्रभारी मनीष सिंघल, थाना प्रभारी मऊरानीपुर प्रेमचंद्र, कटेरा थाना प्रभारी कृष्ण सिंह एवं कनेरा चौकी प्रभारी रश्मि जैन मौजूद थीं। इसी क्रम में थाना पुलिस द्वारा निष्पक्ष और शांति पूर्ण मतदान करने के उद्देश्य से ग्राम सहित थाना क्षेत्र में फ्लैग मार्च निकाला गया। थाना प्रभारी प्रदीप सराफ ने बताया निर्वाचन आयोग एवं पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर नगर मे फ्लेग मार्च का आयोजन किया गया, जो थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले मैदवारा, हरकनपूरा, जेवर, उपरारा, स्यावनी सहित सहित आधा दर्जन ग्रामों मे पहुंचा। पुलिस बल के द्वारा फ्लैग मार्च निकालकर मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित किया गया। इसके साथ ही लोगो से रूबरू होते हुए थाना प्रभारी ने कहा विधानसभा निर्वाचन के मद्देनजर वोट देने के लिए डराना धमकाना रिश्वत लेना देना एक दंडनीय अपराध की श्रेणी में आता है। अगर कोई आपके वोट के बदले पैसों की पेशकस करता है तो ठुकराकर निष्पक्ष मतदान कर देश के सच्चे नागरिक होने का परिचय दें। उन्होंने कहा कि आप सभी का वोट बहुत कीमती है। अगर कोई व्यक्ति मतदाता को अपने में वोट डालने के लिए डराता है या किसी प्रकार का प्रलोभन देता है, तो तत्काल सूचना थाने में दें। साथ ही निर्भीक और निष्पक्ष मतदान करें।

थाना प्रभारी ने कहा कि कहा की अगर कोई मतदान में गड़बड़ी करता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। फ्लैग मार्च के दौरान पुलिस महकमें से सुकरत राय, भरत लाल तिवारी, देवेन्द्र त्यागी, बीरेन्द्र अहिरवार, प्रताप, सुनील निरंजन, जयकान्त प्रजापति, शंभू प्रजापति, भानसिंह दांगी, अबध किशोर उइके, ध्रुव पटेरिया, जयकान्त प्रजापति, जितेंद्र यादव आदि मौजूद थे।

लगातार वाहनों की हो रही जांच

एसडीओपी एससी बोहित ने बताया कि उप्र से अाने वाले वाहनों की लगातार जांच हो रही है। उन्होंने कहा कि सभी लोग सफर करते समय अपने वाहन का सभी दस्तावेज साथ में लेकर सफर करें। जिससे लोगों को किसी प्रकार की असुविधा न हो। उन्होंने कहा कि उप्र की सीमावर्ती इलाकों पर वाहनों की विशेष अौर सघन जांच हो रही है। जिन वाहनों के कांच पर काली फिल्म लगी है उसे भी हटवाकर चालान काटा जा रहा है।

X
Jatara - police march flagged in rural areas
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..