--Advertisement--

जहां से मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा गुजरेगी, कांग्रेस की पाेल खोल यात्रा भी वहीं

मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा 14 को उज्जैन से शुरू होगी, कांग्रेस का पोल खोल अभियान 16 जुलाई को तराना से शुरू होगा

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 04:19 AM IST
सिम्बोलिक इमेज सिम्बोलिक इमेज

भोपाल. प्रदेश में भाजपा सरकार के विकास के दावों की हकीकत बताने के लिए कांग्रेस भी मैदान में उतरेगी। जहां-जहां से भाजपा की जनआशीर्वाद यात्रा निकलेगी वहां-वहां कांग्रेस भी यात्रा निकालकर पोल खोल अभियान चलाएगी। कांग्रेस की यात्रा 16 जुलाई से तराना से शुरू होगी।

सीएम की जनआशीर्वाद यात्रा प्रदेश की सभी 230 विधानसभाओं में जाएगी: मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा 14 जुलाई से उज्जैन से शुरू होना है। उनकी यात्रा प्रदेश के सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों में जाएगी। जनआशीर्वाद यात्रा में मुख्यमंत्री विशेष रथ पर सवार होकर जनता से रूबरू होंगे। वे सरकार की उपलब्धियां और विकास कार्य जनता को बताएंगे। साथ ही यह भी बताएंगे कि कि प्रदेश में भाजपा सरकार के पहले प्रदेश में क्या हालात थे।

दावों की पोल खोलेगी कांग्रेस : इधर, कांग्रेस भी सरकार की विफलताओं को जनता तक पहुंचाने के लिए अभियान चलाएगी। इसके तहत जहां-जहां से भी मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा निकलेगी वहां-वहां अगले दिन कांग्रेस भी यात्रा निकालेगी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता इसमें शामिल होंगे। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के मुताबिक यह पोल खोल यात्रा जैसी होगी। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता के मुताबिक इस यात्रा के लिए विशेष वाहन तैयार करवाया जा रहा है। यात्रा के दौरान जनता को सरकार के दावों की हकीकत बताएंगे। जनता के बीच पहुंचकर उन्हें बताएंगे कि किस प्रकार भाजपा ने उन्हें कर्जदार बना दिया है। प्रदेश में किसानों की आत्महत्या, महिला अपराधों की बढ़ती संख्या, घोटाले, महंगाई सहित अन्य मुद्दे इसमें शामिल रहेंगे।

इधर... जिताऊ प्रत्याशी कौन हो सकता है, मिस्त्री आज लेंगे फीडबैक: प्रदेश कांग्रेस की स्क्रिनिंग कमेटी के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री शुक्रवार को कांग्रेस पदाधिकारियों की बैठक लेंगे। कमेटी के सदस्य अजयकुमार लल्लू और नीता डिसूजा भी इसमें शामिल रहेंगे। स्क्रीनिंग कमेटी के पदाधिकारी प्रदेश कार्यालय में सभी पूर्व कांग्रेस अध्यक्षों, नेता प्रतिपक्ष और सांसदों से मिलकर विचार-विमर्श करेंगे।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी से चर्चा की जाएगी : इसके बाद मिस्त्री प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यवाहक अध्यक्षों, उपाध्यक्षों और अन्य नेताओं से चर्चा करेंगे। शनिवार को स्क्रीनिंग कमेटी एआईसीसी सदस्यों, जिला कांग्रेस अध्यक्षों और नगर पालिका के अध्यक्षाें से चर्चा करेगी। मिस्त्री कांग्रेस पदाधिकारियों से उनके क्षेत्र का फीडबैक लेने के साथ ही यह जानकारी लेंगे कि विभिन्न सीटों के दावेदारों में से किसका प्रभाव ज्यादा है। जिताऊ प्रत्याशी कौन हो सकता इस पर भी मंथन किया जाएगा।