Hindi News »Madhya Pradesh »Dabra» 15 अगस्त तक सुरक्षा बलों की रहेगी तैनाती

15 अगस्त तक सुरक्षा बलों की रहेगी तैनाती

प्रशासनिक रिपोर्टर | ग्वालियर कथित बंद को लेकर गुरुवार को ग्वालियर में माहौल शांतिपूर्ण रहा। कड़े सुरक्षा पहरे...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 10, 2018, 02:25 AM IST

  • 15 अगस्त तक सुरक्षा बलों की रहेगी तैनाती
    +1और स्लाइड देखें
    प्रशासनिक रिपोर्टर | ग्वालियर

    कथित बंद को लेकर गुरुवार को ग्वालियर में माहौल शांतिपूर्ण रहा। कड़े सुरक्षा पहरे में कहीं भी किसी घटना या विवाद की शिकायत सामने नहीं आई। जिला एवं पुलिस अधिकारियों ने पूरा दिन शांतिपूर्ण बीतने के बाद राहत की सांस ली है लेकिन फिलहाल सुरक्षा व्यवस्था में ढिलाई नहीं बरती जाएगी। सुरक्षा को लेकर सबसे ज्यादा फोकस थाटीपुर, मुरार व गोले का मंदिर थाना क्षेत्र में रहा। क्योंकि, खुफिया रिपोर्ट में इन्हीं क्षेत्रों को संवेदनशील बताया गया है।

    जानकारी के मुताबिक, 15 अगस्त तक शहर के तमाम क्षेत्रों को सुरक्षा बल के पहरे में ही रखा जाएगा ताकि कोई अप्रिय घटना न हो। गौरतलब है कि 2 अप्रैल को हुई हिंसा में नामजद एससी-एसटी वर्ग के लोगों से केस वापस लेने के लिए दलित संगठनों ने सोशल साइट्स पर 9 अगस्त को भारत बंद की पोस्ट डाली थीं। इसके बाद से लगातार सतर्कता बरती जा रही है।

    सुबह से बंद बाजार हालात सामान्य दिखने पर दोपहर में खुले

    मुरार का सदर बाजार। यहां साधारण दिनों में भीड़ रहती है। गुरुवार को दुकानें तो खुलीं रहीं लेकिन खरीददार नहीं आए। क्षेत्र का पैनोरमा व्यू।

    संदिग्ध क्षेत्रों में ड्रोन से रखी जा रही है नजर, बंद रहे प्राइवेट स्कूल

    हालात गुरुवार को बंद रखने की सूचनाएं सोशल साइट्स पर पिछले कई दिनों से चल रही थीं। आंदोलन व हिंसा की सूचनाओं के बीच जिला व पुलिस प्रशासन ने बुधवार से ग्वालियर-डबरा में धारा 144 लागू कर दी, जो कि 13 अगस्त को रात 12 बजे तक रहेगी। थाटीपुर, गोले का मंदिर, मुरार के संदिग्ध क्षेत्रों को सूची में शामिल रखा। ड्रोन कैमरे व अन्य संसाधनों से इन क्षेत्रों में निगरानी रखी जा रही है।

    असर प्रशासनिक अधिकारियों ने किसी भी प्रकार के बंद को सिर्फ अफवाह बताया था। लेकिन 2 अप्रैल को हुई हिंसा से भयभीत लोगों ने गुरुवार को सुबह से रोजाना के समय पर अपनी दुकानें नहीं खोलीं। वहीं प्राइवेट स्कूल संचालकों ने छुट्‌टी घोषित कर दी थी। जब आंदोलन बेअसर दिखा तो दोपहर से बाजार खुल गए। लश्कर व ग्वालियर में रोजाना की तरह बाजार खुल चुके थे।

    आगे क्या ग्वालियर जिले में 13 अगस्त तक धारा 144 लागू रहेगी। प्रशासन ने वार्ड नंबर 21, 22, 24, 28 व 29 को संवेदनशील व संदिग्ध क्षेत्रों की सूची में रखा है। अधिकारियों ने प्लानिंग की है कि इन क्षेत्रों में अभी भी सुरक्षा व्यवस्था गुरुवार की तरह ही बनी रहेगी। इसके अलावा शहर के दूसरे हिस्सों में भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रखी जाएगी।

    हर 15 मिनट में वायरलैस पर एसपी लेते रहे जानकारी

    9 अगस्त को लेकर पुलिस बुधवार से ही अलर्ट थी। गुरुवार सुबह 5 बजे सभी पुलिसकर्मियों ने पॉइंट पर तैनात हो गए। 1500 पुलिसकर्मी तैनात रहे। सुबह से एसपी नवनीत भसीन अन्य पुलिस अधिकारियों के साथ निकले, पूरे क्षेत्रों का जायजा लिया। एसपी हर 15 मिनट में वायरलैस सेट पर आए और घटना का जायजा लिया

    सुरक्षा व्यवस्था जारी रहेगी

    गुरुवार को जिले में कहीं भी कोई विवाद या घटना की स्थिति नहीं बनी। जो संवेदनशील क्षेत्र हैं, उनमें सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम अभी की तरह ही रहेंगे। संदिग्ध लोग व क्षेत्रों पर निगरानी रखी जा रही है। - संदीप करेकेट्टा, एडीएम

    ओपीडी पर दिखा असर

    बंद का असर जेएएच की ओपीडी पर देखने को मिला। यहां ओपीडी आमतौर पर 2000 से अधिक रहती है। बुधवार को ओपीडी में महज 1375 मरीज ही दिखाने आए। जिला अस्पताल और सिविल अस्पताल हजीरा की ओपीडी में भी मरीज रोज की तुलना में कम आए।

  • 15 अगस्त तक सुरक्षा बलों की रहेगी तैनाती
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dabra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×