डबरा

--Advertisement--

साक्ष्य पेश न कर पाने पर याचिका खारिज

ग्वालियर| जीवाजी विश्वविद्यालय से पीएचडी के लिए प्रवेश परीक्षा में सफल रहने के बाद भी पीएचडी की अनुमति न देने के...

Dainik Bhaskar

Jun 25, 2018, 03:20 AM IST
साक्ष्य पेश न कर पाने पर याचिका खारिज
ग्वालियर| जीवाजी विश्वविद्यालय से पीएचडी के लिए प्रवेश परीक्षा में सफल रहने के बाद भी पीएचडी की अनुमति न देने के मामले में दायर याचिका हाईकोर्ट ने खारिज कर दी है। हाईकोर्ट की ग्वालियर खंडपीठ में जस्टिस संजय यादव आैर जस्टिस एके जोशी की युगलपीठ ने कहा, याचिकाकर्ता जगदीश शर्मा आैर मंजू शर्मा इस संबंध में कोई साक्ष्य पेश नहीं कर पाए हैं कि प्रवेश परीक्षा में सफल रहने के साथ-साथ उन्होंने हिंदी साहित्य में पीएचडी के लिए तय अन्य पात्रता शर्तें भी पूरी की हैं। मामले में विश्वविद्यालय का पक्ष रखते हुए अधिवक्ता अनुराधा सिंह ने तर्क दिया था कि याचिकाकर्ता ने प्रवेश परीक्षा के बाद पीएचडी के लिए निर्धारित 50 फीसदी अंक प्राप्त नहीं किए हैं। ऐसे में सिर्फ प्रवेश परीक्षा के आधार पर पीएचडी की अनुमति नहीं दी जा सकती है।

पीएचडी की पात्रता का मामला

भाजयुमो प्रदेशाध्यक्ष की जेब काटने पहुंचा युवक कार्यकर्ताओं ने पकड़कर पीटा, पुलिस को सौंपा

डबरा में युवा संकल्प महाअभियान के तहत बाइक रैली में शामिल होने आए थे प्रदेशाध्यक्ष अभिलाष पांडेय

सिटी रिपोर्टर| ग्वालियर/ डबरा

टेकनपुर के टीसीपी क्षेत्र में रविवार की सुबह करीब 11.30 बजे भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष अभिलाष पांडेय के स्वागत के दौरान एक संदिग्ध युवक उनकी जेब काटने के लिए बिल्कुल करीब पहुंच गया। वह जेब काट पाता कि इससे पहले ही प्रदेशाध्यक्ष ने उसे देख लिया और कार्यकर्ताओं को उसे पकड़ने का इशारा किया। यह देख युवक वहां से भाग खड़ा हुआ। कार्यकर्ताओं को उसके पास अवैध हथियार होने की शंका हुई इसलिए उसे पकड़ने के लिए पीछे दौड़े। करीब एक किमी पीछा कर कार्यकर्ताओं ने उसे पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया।

दरअसल, युवा संकल्प महाअभियान के तहत भारतीय जनता युवा मोर्चा ने डबरा में रविवार को बाइक रैली का आयोजन किया था। रैली में शामिल होने के लिए भाजयुमो के प्रदेशाध्यक्ष अभिलाष पांडेय ग्वालियर से डबरा आ रहे थे। इसी दौरान सुबह करीब 11.30 बजे टेकनपुर टीसीपी पर भाजयुमो के जिला कार्यसमिति सदस्य नीरज यादव के घर के बाहर कार्यकर्ताओं ने स्वागत कार्यक्रम रखा था। इसी दौरान एक युवक बार-बार प्रदेशाध्यक्ष के आगे पीछे हो रहा था लेकिन स्वागत करने के लिए आगे नहीं बढ़ रहा था। कार्यक्रम में मौजूद लोगों का कहना है कि उस युवक की नजर प्रदेशाध्यक्ष पर थी। प्रदेशाध्यक्ष को भी उस युवक पर शंका हुई और कार्यकर्ताओं से कहा कि जरा इन्हें देखें, ये कौन हैं। यह सुनते ही उस युवक ने दौड़ लगा दी। कार्यकर्ता भी उसके पीछे भागे। उसे एक किमी दूर गड़वाल कॉलोनी में पकड़ लिया। कार्यकर्ताओं ने उस युवक को पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस के अनुसार, पकड़े गए युवक ने अपना नाम रिंकू जाटव (23) पुत्र बाबूराम जाटव, निवासी सिंगल बस्ती मुरैना बताया है। युवक के पास से किसी प्रकार का हथियार बरामद नहीं हुआ है। उससे पूछताछ की जा रही है।

आरोपी को पकड़कर ले जाती पुलिस।



X
साक्ष्य पेश न कर पाने पर याचिका खारिज
Click to listen..