--Advertisement--

बीयर पीकर मुफ्त में खाना खाने पहुंचे...

बीयर पीकर मुफ्त में खाना खाने पहुंचे... जैकेट फेंक दिया था ताकि पहचान न हो : आरोपी ने सुबह घर से पहले कुछ दूरी पर...

Dainik Bhaskar

Jun 23, 2018, 03:40 AM IST
बीयर पीकर मुफ्त में खाना खाने पहुंचे...

जैकेट फेंक दिया था ताकि पहचान न हो : आरोपी ने सुबह घर से पहले कुछ दूरी पर अपना जैकेट उतारकर फेंक दिया था, ताकि उसे पहचाना न जा सके। पुलिस ने जैकेट और जूते सहित उसके कपड़े भी सबूत के तौर पर जब्त किए हैं। कपड़ों पर खून के निशान भी मिले हैं। इन्हें फॉरेंसिक जांच के लिए सागर भेजा जाएगा।

परिजन बोले- आरोपी को हमें सौंप दें : मासूम से दुष्कृत्य के आरोपी जितेंद्र कुशवाह के पकड़े जाने की सूचना पर बच्ची के पिता व परिजन पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे। पिता व परिजन आरोपी को उन्हें सौंपने की मांग कर रहे थे। गुस्से तमतमा रहे पिता व परिजन ने पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों से कहा कि इसने हमारी फूल सी मासूम बेटी के साथ इतना बुरा हाल किया हम भी तो कुछ देख पूछ लें 10 मिनट के लिए इसे हमेंं दो दो फिर चाहे हमें फांसी चढ़ा देना। बच्ची के परिजन एसपी आफिस में आरोप को ढूंढ रहे थे और पुलिस कर्मी उसे छिपाए कर निकल गए। बच्ची के परिजन का कहना था कि इसे तुरंत चौराहे पर फांसी चढ़ा देना चाहिए।

पकड़े जाने पर बोला मैं डबरा से आकर सो गया था : पुलिस ने आरोपी को शुक्रवार सुबह उसके घर से पकड़ा। उसने बताया कि वह गुरुवार को डबरा गया था और रात में वापस आकर घर में सो गया। जबकि आरोपी के भाई ने बताया कि जितेंद्र रात में आने के बाद चांदमारी में क्रॉकरी देखने की बात बोल कर गया था। शुक्रवार सुबह तक घर पहुंचा था। बयान के इस अंतर के बाद जब उससे सख्ती से पूछताछ की गई तब उसने घटना कुबूल करते हुए पूरी कहानी सुना दी। इसके बाद पुलिस उसे साथ लेकर घटना स्थल गई। समारोह स्थल से जिस रास्ते से वह बच्ची को पहाड़ी तक ले गया था उसी रास्ते से उससे पूछते हुए घटनास्थल पर पहुंची।

एसी का तापमान देशभर में 24 डिग्री पर...

इसको देखते हुए जापान जैसे कुछ देशों में तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रखने के लिए नियम बनाए हैं।’ ये बातें उन्होंने एसी बनाने वाली प्रमुख कंपनियों एवं उनके संगठनों के साथ बैठक में कहीं।

6 महीने तक जागरुकता अभियान के बाद होगा सर्वे : मंत्रालय से जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक ‘4 से 6 महीने के जागरुकता अभियान के बाद लोगों की राय जानने के लिए सर्वे किया जाएगा। इसके बाद मंत्रालय इसे अनिवार्य करने पर विचार करेगा। यदि सभी ग्राहक इसे अपनाते हैं तो एक साल में ही 20 अरब यूनिट बिजली की बचत होगी।’ बीईई का कहना है कि मौजूदा बाजार स्थिति को देखते हुए एसी के कारण देश में कुल लोड 2030 तक 200,000 मेगावॉट हो जाएगा। इसमें आगे और वृद्धि की उम्मीद है। अभी देश में केवल 6 प्रतिशत घरों में एसी का इस्तेमाल हो रहा है। अभी लगे एसी की क्षमता 8 करोड़ टीआर (टन ऑफ रेफ्रिजरेटर) है। जो 2030 तक 25 करोड़ टीआर हो जाएगी।

चुनावी साल में बाजार में आएंगे 15-16 हजार करोड़, सोशल मीडिया पर 500...

M नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक फाइनेंस एंड पॉलिसी के प्रोफेसर एवं वित्त आयोग के सलाहकार मंडल में शामिल पिनाकी चक्रवर्ती कहते हैं- चुनाव के दौरान सब्सिडी व सरकारी खर्च से राजकोषीय घाटा बढ़ जाता है। चुनाव आयोग के अनुसार लोकसभा चुनाव लड़ने वाला एक प्रत्याशी अधिकतम 70 लाख खर्च कर सकता है। हर उम्मीदवार व सरकारी खर्च को नियम से जोड़ें तो हर सीट पर 4 करोड़ व 543 सीटों पर 2172 करोड़ खर्च होंगे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..