Hindi News »Madhya Pradesh »Daloda» नए आरटीओ कैंपस में वाहन चालकों का टेस्टिंग ट्रायल ट्रैक होगा चालू, तैयारी शुरू

नए आरटीओ कैंपस में वाहन चालकों का टेस्टिंग ट्रायल ट्रैक होगा चालू, तैयारी शुरू

लंबे समय से तैयार नए परिवहन विभाग कार्यालय कैंपस में अब वाहन चालकों की टेस्टिंग के लिए ट्रायल ट्रैक शुरू करने की...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:15 AM IST

लंबे समय से तैयार नए परिवहन विभाग कार्यालय कैंपस में अब वाहन चालकों की टेस्टिंग के लिए ट्रायल ट्रैक शुरू करने की तैयारी है। वर्तमान में मेघदूतनगर राेड पर किराये के भवन में संचालन होता है। रोड संकरा होने से वाहनों की सुरक्षित ट्रायल भी नहीं हो पाती है। आसपास से 24 घंटे वाहन गुजरते हैं। ऐसे में सप्ताह में 2 दिन होने वाली वाहनों की ट्रायल को नए कैंपस में कराए जाने पर विचार हो रहा है। दरअसल विभाग ने पिछले दिनों नए कैंपस में ही स्कूल बसों की जांच भी की थी। ऐसे में यह ट्रायल के लिए सुरक्षित स्थान है।

बायपास रोड पर करीब 3 करोड़ रुपए से परिवहन विभाग का नया कार्यालय तैयार हुआ है। प्रभारी मंत्री अर्चना चिटनीस की ओर से शुभारंभ के लिए विभाग को अब तक अधिकृत कार्यक्रम नहीं मिलने से मामला अटका है और अब तक मेघदूतनगर स्थित भवन में किराये के भवन में ही संचालन हो रहा है। दरअसल पिछले दिनों स्कूल बसों की स्पीड ट्रायल व अन्य जांचें इसी कैंपस में हुई थीं। इसके बाद से अधिकारी चाहते हैं कि शुभारंभ भले ही कुछ देरी से हो लेकिन सुरक्षा को लेकर यहां ट्रायल शुरू कर दी जाए। प्रत्येक सप्ताह में 700 से 800 लोग रजिस्ट्रेशन, ड्राइविंग लाइसेंस, परमिट, फिटनेस, रिन्युअल जैसे कामों के लिए परिवहन विभाग कार्यालय आते हैं।

वर्तमान में कई शाखाओं के अपने कक्ष तक नहीं

शुभारंभ के इंतजार में बायपास राेड स्थित नया परिवहन विभाग कैंपस।

दो मंजिला भवन में हर काम के लिए अलग शाखाएं रहेंगी

बायपास रोड पर बने दो मंजिला नए आरटीओ कैंपस में रजिस्ट्रेशन, परमिट, फिटनेस, ड्राइविंग लाइसेंस, लर्निंग, स्मार्ट कार्ड समेत अन्य शाखाएं रहेंगी। जहांं शाखा प्रभारियों को खोजने की जरूरत नहीं लगेगी, हर नियत कक्ष में कर्मचारी मिलेेंगे। दरअसल मंदसौर के वर्तमान कार्यालय में अकसर जिले की 8 तहसीलों मंदसौर, दलौदा, मल्हारगढ़, सीतामऊ, गरोठ, भानपुरा, सुवासरा और शामगढ़ से लोग परिवहन विभाग संबंधी काम के लिए आते हैं। ऐसे में कैंपस छोटा होने से बैठक व्यवस्था भी नहीं है। इस तुलना में नए कैंपस में सीटिंग, पेयजल, एंट्री रूम, शिकायत कक्ष जैसी सुविधाओं पर काम होगा।

मेघदूतनगर स्थित आरटीओ कैंपस में वर्तमान में कई शाखाओं के अपने कैंपस तक नहीं हैं। ऐेसे में दूसरी मंजिल के एक ही हॉल में 4 से 5 शाखाओं के क्लर्क बैठते हैं। सारा रिकाॅर्ड भी यहीं रखना पड़ता है। इस तुलना में नए भवन का निर्माण 8 बीघा से अधिक क्षेत्रफल में हुआ है। जहां पर वेटिंग रूम, कम्प्यूटर कक्ष, दो मंजिल बड़ा भवन होने से लोगों को भी तुलनात्मक सुविधा रहेगी।

नए कैंपस में बसों की ट्रायल ली थी, यहीं जांच हुई थी

पिछले दिनों स्कूल बसों की ट्रायल के लिए बस संचालकों को नए कैंपस बुलाया गया था, वहीं पर दल ने जांच की थी। नए भवन के शुभारंभ के लिए प्रभारी मंत्री का मंदसौर कार्यक्रम मांगा है, हमें जल्द मंजूरी की उम्मीद है। वैसे सावधानी के ताैर पर मंगलवार को वाहनों की टेस्टिंग पर विचार हो रहा है। जो यहां सुविधाजनक रहेगा। इससे पहले आवश्यक सूचना भी जारी करेंगे। रंजनासिंह कुशवाह, आरटीओ मंदसौर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Daloda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×