दमोह

  • Home
  • Madhya Pradesh News
  • Damoh News
  • दमोह की प्यास बुझाने वाली सतधरू मध्यम सिंचाई परियोजना को मिली मंजूरी
--Advertisement--

दमोह की प्यास बुझाने वाली सतधरू मध्यम सिंचाई परियोजना को मिली मंजूरी

मप्र सरकार के वित्तमंत्री और दमोह के विधायक जयंत मलैया ने विधानसभा में अंतिम बजट पेश करते समय उनके स्वयं के विजन...

Danik Bhaskar

Mar 01, 2018, 02:30 AM IST
मप्र सरकार के वित्तमंत्री और दमोह के विधायक जयंत मलैया ने विधानसभा में अंतिम बजट पेश करते समय उनके स्वयं के विजन मंे शामिल सतधरू मध्यम सिंचाई परियोजना को मंजूरी दिलाई। उन्होंने इस योजना को बजट में शामिल करने के लिए कई प्रयास किए थे। पहले इसकी टीएस मंजूर कराई थी, अब उसे बजट में भी शामिल किया है।315 करोड़ रुपए की यह सिंचाई परियोजना शहर की प्यास भी बुझाएगी।

भास्कर से चर्चा में वित्तमंत्री श्री मलैया ने बताया कि वे इस योजना को लेकर लंबे समय से प्रयासरत थे। यहां तक कि बार-बार अधिकारियांे से परियोजना को लेकर अपडेट लिए, ताकि इस बजट में दमाेह के लिए इस परियोजना को बजट दिला सकें। उन्होंने बताया कि यह परियोजना दमोह शहर के लिए अगले कई सालों तक पानी उपलब्ध कराने का काम करेगी। यह उनकी अहम और सबसे यादगार परियोजना है और इसके लिए वे सालों से प्रयास कर रहे थे। उन्होंने बताया कि सिंचाई के लिए बजट में प्रस्तावित किए गए 10 हजार 928 करोड़ में इस योजना को भी शामिल किया।

उन्हांेने भास्कर से चर्चा मंे बताया कि विधानसभा मंे 14 वां बजट था। जबकि सरकार के कार्यकाल का यह अंतिम बजट पेश किया। बजट मंे उन्हांेने हर वर्ग का ध्यान रखने का प्रयास किया। बजट मेंखासकर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में वृद्धि और पंेशनरों को सातवें वेतनमान देने की घोषणा की गई है। इसके अलावा नगरीय निकाय और बोर्डों को भी सातवें वेतनमान का लाभ देने का प्रस्ताव रखा गया है। अब तक निकायाें में सातवें वेतन मान को लेकर कोई पहल नहीं हुई थी। इसके अलावा विधवा महिलाआंे को भी बीपीएल सूची से बाहर रखा गया है। ऐसा होने से अब उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। योजनाआंे का लाभ मिल सकेगा। उन्होंने बताया इस बजट में दमोह के लिए कुछ सड़कें, एस्ट्रो टर्फ ग्राउंड, पेयजल सप्लाई और नलजल योजनाओं काे भी शामिल किया है। इधर हटा के लिए भी 5 करोड़ रुपए की लागत से पटेरा पालर माता मार्ग और उदयपुर से अंचलपुरा 2किमी मार्ग को बजट में मंजूरी मिली है।

एक नजर सतधरू मध्यम सिंचाई परियोजना पर

Á लागत : 315.65 करोड़ रुपए

Á सिंचाई रकबा: 7 करोड़ 555 हेक्टेयर

Á भराव क्षमता: 63.03 मिलियन घनमीटर

Á सिंचाई के लिए: 25 मिलियन घनमीटर

Á शहर के लिए: 10 मिलियन घनमीटर

Á माध्यम: प्रसराइज्ड पाइप लाइन सिस्टम

Á पानी सप्लाई का एरिया: 20 किमी

Á लाभ: दमोह सहित 700 गांवों में पहुंचेगा पानी

पीने के पानी की कभी किल्लत नहीं होगी

जल संसाधन विभाग के ईईआरसी तिवारी ने बताया कि यह सिंचाई परियोजना के साथ-साथ पेयजल सप्लाई परियोजना भी है। अभी जितना पानी जुझारघाट से आ रहा है, योजना कंपलीट होने के बाद दोगुना पानी शहर को मिलेगा। उन्होंने बताया कि इसके बनने के बाद दमोह में कभी पीने के पानी को लेकर किल्लत खड़ी नहीं होगी। सिंचाई और पेयजल को लेकर यह दमोह के लिए सबसे बड़ी उपलब्धि है। इससे पहले इस परियोजना को दिल्ली से स्वीकृति मिली थी। अब बजट में शामिल किया गया है।

Click to listen..