• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Damoh
  • घंटों माथा पच्ची के बाद किशोरी के परिजनों का पता चला, रात 2.30 बजे पिता के सुपुर्द किया
--Advertisement--

घंटों माथा पच्ची के बाद किशोरी के परिजनों का पता चला, रात 2.30 बजे पिता के सुपुर्द किया

Damoh News - कोतवाली थाना क्षेत्र में बस स्टैंड परिसर में बुधवार की रात लावारिस हालत में घूमती मिली किशोरी को देर रात करीब 2.30...

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 02:35 AM IST
घंटों माथा पच्ची के बाद किशोरी के परिजनों का पता चला, रात 2.30 बजे पिता के सुपुर्द किया
कोतवाली थाना क्षेत्र में बस स्टैंड परिसर में बुधवार की रात लावारिस हालत में घूमती मिली किशोरी को देर रात करीब 2.30 बजे परिजनों के सुपुर्द किया गया। बुधवार की रात करीब 10 बजे एक किशोरी सरकारी बस स्टैंड के पास घूमते हुए मिली थी जो किसी बस से उतरी थी और यहां वहां भटक रही थी।

इस दौरान लोगों की सूचना पर यातायात थाना प्रभारी रीता सिंह ने किशोरी को अपने साथ यातायात चौकी में बिठाया और उसे उसका नाम पता परिजनों के संबंध में पूछताछ की। लेकिन किशोरी द्वारा पूछताछ में सही जानकारी नहीं दी जा रही थी। रात करीब 12 बजे तक किशोरी से यातायात थाना प्रभारी द्वारा पूछताछ की और उसके अनुसार बताए गए पते और नाम के आधार पर परिजनों का पता लगाने अपने वरिष्ठ अधिकारियों सहित छतरपुर पुलिस से संपर्क किया गया। इस बीच एक गुम बालिका की फोटो भी उन्होंने अपने मोबाइल पर मंगवाई जिससे किशोरी का चेहरा नहीं मिल रहा था। देर रात किशोरी के माता पिता की जानकारी लगी जिसके बाद किशोरी दमोह में होने सूचना परिजनों को दी गई। परिजनों का पता चलने के बाद यातायात पुलिस चौकी से किशोरी को कोतवाली भेजा गया जहां से बाल कल्याण समिति के सुपुर्द कर दिया गया।

बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष सुधीर विद्यार्थी नेे बताया कि पुलिस द्वारा देर रात किशोरी काे बाल कल्याण समिति कार्यालय लाया गया। जिसका श्रेया पिता अरूण कुमार शर्मा बताया गया। किशोरी के माता पिता वार्ड नंबर 38 हाउस नंबर 22 पुराने रोजगार कार्यालय के पीछे बुनियादी शिक्षा मोहल्ला कविता भवन छतरपुर के निवासी से संपर्क किया गया। किशोरी के पिता अरूण कुमार ने समिति के समक्ष उपस्थित होकर किशोरी की सुपुर्दगी लेने के लिए निवेदन किया जिसमें पिता द्वारा उचित पहचान दस्तावेज प्रस्तुत किए गए। जिसमें किशोरी को पिता को 2.30 बजे सुपुर्द किया गया।

X
घंटों माथा पच्ची के बाद किशोरी के परिजनों का पता चला, रात 2.30 बजे पिता के सुपुर्द किया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..