• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Damoh News
  • पीडब्ल्यूडी ने कहा जब तक छतिपूर्ति राशि जमा नहीं होगी तब तक सड़क खुदाई की अनापत्ति नहीं मिलेगी
--Advertisement--

पीडब्ल्यूडी ने कहा जब तक छतिपूर्ति राशि जमा नहीं होगी तब तक सड़क खुदाई की अनापत्ति नहीं मिलेगी

शहर की कीर्ति स्तंभ से लेकर जबलपुर नाका तक पाइप लाइन बिछाने के लिए खोदी जा रही मुख्य सड़क का काम एक बार फिर बंद हो गया...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 04:30 AM IST
शहर की कीर्ति स्तंभ से लेकर जबलपुर नाका तक पाइप लाइन बिछाने के लिए खोदी जा रही मुख्य सड़क का काम एक बार फिर बंद हो गया है। बीते एक सप्ताह में नगर पालिका व पीडब्ल्यूडी के बीच चल रही आपसी खींचतान का खामियाजा आम नागरिकों को भुगतना पड़ रहा है। क्योंकि पाइप लाइन बिछाने के लिए एसपी बंगला से महाराणा प्रताप चौराहा तक करीब 200 मीटर सड़क खुदी पड़ी है। साथ ही आधी सड़क पर मिट्‌टी भी डली है, जिससे वाहन चालकों को आवागमन में परेशानी हो रही है। लेकिन विभागीय अधिकारियों को जनता की परेशानियों से कोई लेना-देना नहीं है।

हैरानी की बात तो यह है कि कलेक्टर के हस्तक्षेप के बाद भी यह मामला सुलझ नहीं पा रहा है। कलेक्टर ने इस मामले में आदेश जारी कर पीडब्ल्यूडी व एमपीआरडसी के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जनहित में लोगों को पेयजल की आपूर्ति के लिए बिछाई जा रही पाइप लाइन में कोई अवरोध पैदा न किया जाए। सड़कों की जो भी छति होगी उसकी मरम्मत नगर पालिका स्वयं कराई जाएगी। इस आदेश के बाद नगर पालिका ठेकेदार द्वारा शुक्रवार को पुन: काम शुरू कर दिया, लेकिन करीब 100 फीट खुदाई के बाद पीडब्ल्यूडी ने पुन: इस पर रोक लगा दी है। ऐसे में पाइप लाइन का काम अटका पड़ा है।

पूरी राशि जमा करने के बाद ही मिलेगी अनापत्ति: - जेपी सोनकर, ईई पीडब्ल्यूडी का कहना है कि नगर पालिका करीब 200 मीटर सड़क को क्षतिग्रस्त किया गया है। सड़क के दूसरे ओर पर्याप्त जगह थी, वहां से भी खुदाई की जा सकती थी, लेकिन जानबूझकर डामर की सड़क को खोदकर पाइप लाइन बिछाई ज रही है। जब तक नगर पालिका पर्याप्त राशि जमा नहीं करेगी तब तक अनापत्ति देना संभव नहीं है।

हमने सुरक्षा निधि जमा करा दी है

कपिल खरे, सीएमओ का कहना है कि हमने पाइप लाइन के लिए अनुमति की मांग की है, साथ ही जो सुरक्षा निधि पीडब्ल्यूडी द्वारा मांगी गई है, उसे भी जमा करा दिया है, इसके बाद भी पाइप लाइन के लिए अनापत्ति जारी नहीं की जा रही है।