दमोह

--Advertisement--

यात्रियों की निगरानी करेंगे 15 सीसीटीवी कैमरे

रेल यात्रियों की सुरक्षा एवं आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए रेलवे स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।...

Danik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:30 AM IST
रेल यात्रियों की सुरक्षा एवं आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए रेलवे स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। शुक्रवार को कैमरे लगाने का काम पूरा हो चुका है। यह कैमरे एक अप्रेल से चालू हो जाएंगे। कैमरे लगने के बाद पूरा स्टेशन परिसर की निगरानी आसानी से हो सकेगी। जिससे अपराधी तत्व किसी भी वारदात को अंजाम देने के पहले सोचेंगे।

दमोह रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ व जीआरपी पुलिस बल तैनात है, लेकिन स्टॉफ की कमी के कारण समूचे स्टेशन की निगरानी संभव नहीं हो पाती। स्टेशन परिसर चारों ओर से खुला होने के कारण अपराधी तत्व वारदातों को अंजाम देने में सफल हो जाते हैं लेकिन अब उनके लिए ऐसा करना संभव नहीं होगा। क्योंकि उनकी हर गतिविधि कैमरे में कैद होगी। क्योंकि आरपीएफ थाना में बने कंट्रोल रूम से अपराधी की शिनाख्त होने के बाद उसे तत्काल ही पकड़ लिया जाएगा। हालही में 15 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। जिसमें जिनमें से टेस्टिंग में आठ कैमरे चालू गए हैंं, बाकी एक सप्ताह में लग जाएंगे। जहां पर कैमरे लगाए गए हैं उनमें आरक्षण केंद्र, टिकट घर, प्लेटफार्म नंबर एक एवं दो, ओवर ब्रिज के दोनों ओर, जीआरपी चौकी के सामने, पथरिया फाटक ओवर ब्रिज के पास कैमरे लगाए गए हैं। जिससे पूरा रेलवे परिसर कैमरों से कवर्ड हो गया है। अभी तक आरक्षण केंद्र में तत्काल टिकट लेने के लिए रोजाना बड़ी संख्या में दलाल सक्रिय रहते हैं। जो आरक्षण केंद्र खुलते ही सबसे आगे लाइन में खड़े होकर टोकन ले लेते हैं और बाद में टिकट को बेंच देते हैं, जिससे अन्य यात्रियों को तत्काल टिकट नहीं मिल पाता, लेकिन यहां पर सीसीटीवी कैमरे लगने के बाद दलालों पर अंकुश लग जाएगा।



अच्छी खबर

कल से चालू हो जाएंगे सभी कैमरे, पूरा स्टेशन हुआ कवर्ड

लंबे समय से चली आ रही थी मांग

दरअसल दमोह रेलवे स्टेशन से रोजाना 30 से अधिक यात्री गाड़ी निकलते हैं। जिससे रोजाना हजारों की संख्या में रेल यात्री आवागमन करते हैं। ऐसे में रेल यात्रियों की सुरक्षा को लेकर लंबे समय से मांग चली आ रही थी। रेल सुधार संघर्ष समिति द्वारा दमोह के दौरे पर आए जीएम व डीआरएम को भी इस संबंध में कई बार ज्ञापन सौंपे गए हैं। जिसके चलते लंबे इंतजार के बाद अब सीसीटीवी कैमरों की मांग पूरी हो पाई है।

Click to listen..