• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Damoh News
  • संविदा स्वास्थ्य कर्मियों के हड़ताल पर जाने से स्वास्थ्य सेवाएं बिगड़ीं
--Advertisement--

संविदा स्वास्थ्य कर्मियों के हड़ताल पर जाने से स्वास्थ्य सेवाएं बिगड़ीं

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी अपनी दो सूत्रीय मांगों के लेकर 19 फरवरी से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर हैं। शनिवार को भी...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 07:35 AM IST
संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी अपनी दो सूत्रीय मांगों के लेकर 19 फरवरी से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर हैं। शनिवार को भी जिला अस्पताल पार्क में धरना प्रदर्शन जारी रहा। जिससे आम जनमानस को मिलने वाली स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हो रही हैं। गौरतलब है कि ग्रामीण क्षेत्रों में कार्य करने वाले स्वास्थ्य कर्मचारी जिसमें एएनएम, फार्मासिस्ट स्टाफ नर्स, तकनीशियन, डाक्टर्स एवं अन्य तकनीकी एवं गैर तकनीकी कर्मचारी सभी हड़ताल पर हैं।

स्वास्थ्य विभाग में अधिकतम अमला विगत 15 से 20 वर्षों से संविदा पर कार्य कर रहा है ऐसे में इनके हड़ताल पर जाने से व्यवस्थाएं डगमगा रहीं हैं। हड़ताल के चल ते विभिन्न उप स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बंद रहे। जिला अस्पताल के अधिकतर कमरे एवं वार्डाे में ताले डले हैं। टीकाकरण वार्ड, दवा स्टोर, सातों एनआरसी, डीईआईसी भी 11 दिनों से बंद हैं। जिलो से जो जानकारी राज्य स्तर पर भेजी जा रही है वह भी जानकारी के अभाव में निरंक भेजी जा रही है।

आशा कार्यकर्ताओं ने धरना स्थल पर मनाया भाईदोज का पर्व : दमोह। आशा कार्यकर्ताओं ने शनिवार को भी धरना प्रदर्शन जारी रखा और भाईदोज का पर्व धरना स्थल पर ही मनाया। पांच सूत्रीय मांगों को लेकर आशा कार्यकर्ताएं कलेक्टोरेट के सामने धरना प्रदर्शन कर रही हैं। इस मौके पर प्रांताध्यक्ष ममता पटेल, मिथलेश श्रीवास्तव जिला शाखा अध्यक्ष सहित आशा कार्यकर्ताओं ने पंडाल के नीचे बैठकर नारेबाजी की और धरना देकर भाईदोज का पर्व मनाया। लगातार ग्यारह दिन से मांगों को लेकर आशा कार्यकर्ताओं द्वारा धरना प्रदर्शन किया जा रहा है।

दमोह। धरने पर बैठे संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी।