Hindi News »Madhya Pradesh »Damoh» गुरुदेव भक्त को भाग्यवान ही नहीं भगवान भी बना देते हैं: आर्यिकाश्री

गुरुदेव भक्त को भाग्यवान ही नहीं भगवान भी बना देते हैं: आर्यिकाश्री

दिगंबर जैन धर्मशाला में दीक्षा दिवस मनाया गया भास्कर संवाददाता | दमोह दीक्षा दिवस उपकार दिवस होता है, यह गुरू...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 01:25 PM IST

दिगंबर जैन धर्मशाला में दीक्षा दिवस मनाया गया

भास्कर संवाददाता | दमोह

दीक्षा दिवस उपकार दिवस होता है, यह गुरू का कृपा दिवस है, गुरू के उपकार को मोक्ष मार्ग पाकर ही चुकाया जा सकता है। मोक्ष मार्ग में मंजिल तो होती है किंतु विश्राम नहीं होता है। गुरूदेव भक्त को भाग्यवान ही नहीं भगवान भी बना देते हैं। ये उदगार आर्यिका श्री ने दिगंबर जैन धर्म शाला में आर्यिका श्री ने अपने दीक्षा दिवस के मौके पर अभिव्यक्त किए। इसके पूर्व श्रावक श्राविकाओं के द्वारा आर्यिका संघ को शास्त्र भेंट किए।

आर्यिका श्री ने आगे कहा कि गुरू की कृपा को भव भव में भी नहीं चुकाया जा सकता। गुरू की अनंत ऊर्जा और साधना से बड़े बड़े चमत्कार घटित हो जाते हैं। इस संदर्भ में आर्यिका श्री ने एक दृष्टांत सुनाते हुए एक सच्ची घटना सुनाते हुए कहा कि एक बार एक श्रावक जिसके कमर में बहुत दर्द था, डाॅक्टरो ने शीघ्र आॅपरेशन करवाने की सलाह दी किंतु उन्होंने आचार्य श्री के दर्शन के बिना आॅपरेशन न करवाने का प्रण लिया और कुछ दिन उनके चरणो के जल को कमर में लगाते रहे और 2-4 दिन में उनका दर्द गायब हो गया। आर्यिका श्री निकट मुनि माता जी ने कहा कि बैराग्य के बाद दीक्षा दिवस मनाने का कारण दूसरो को भी प्रेरणा प्राप्त हो इसलिए मनाया जाता है। इस मौके पर शाकाहार उपासना परिसंघ के अध्यक्ष स्वतंत्र जैन, महामंत्री संजीव शाकाहारी, कोषाध्यक्ष महेश बडकुल, उपाध्यक्ष रतनचंद प्राचार्य, उपाध्यक्ष मनीष बजाज, चक्रेश सराफ, सुनील बेजीटेरियन, आनंद जैन, अरविंद इटोरिया, डॉ आईसी जैन, संदीप मोदी आदि की उपस्थिति रही।

कुंडलपुर में पाण्डुक शिला पर हुआ अभिषेक

कुंडलपुर में माघ मेले के समापन पर श्री जी का पाण्डुक शिला पर अभिषेक हुआ। श्री जी की शोभायात्रा गाजो बाजो के साथ मान स्तंभ मंदिर से प्रांरभ होकर पहाडी़ पर स्थित पाण्डुक शिला तक पहुंची जहां पर अभिषेक पूजन एवं शांतिधारा की गई। इस मौके पर कुंडलपुर कमेटी के अलावा दूर दराज अंचलो से सभी भक्तगणों की उपस्थिति रही।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Damoh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×