--Advertisement--

मिट्‌टी से गणेश की मूर्ति बना रहा कलाकार

मिट्‌टी से गणेश की मूर्ति बना रहा कलाकार दमोह| विघ्न विनाशक भगवान गणेश उत्सव 13 सितंबर से शुरू होने वाला है।...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 02:40 AM IST
Damoh - मिट्‌टी से गणेश की मूर्ति बना रहा कलाकार
मिट्‌टी से गणेश की मूर्ति बना रहा कलाकार

दमोह| विघ्न विनाशक भगवान गणेश उत्सव 13 सितंबर से शुरू होने वाला है। जिसके चलते मूर्तिकार गणेश प्रतिमाओं को अंतिम रूप देने में लगे हैं।डदैनिक भास्कर पिछले कई वर्षों से मिट्‌टी के गणेश घर में ही विसर्जन का अभियान चला रहा है। इसका मूल उद्देश्य यही है कि हम अपने तालाब और नदियों को प्रदूषित होने से बचा सकें। इसलिए भास्कर लोगों से आग्रह करता है कि हर वर्ष की तरह इस बार भी अपने घरों में मिट्‌टी से बने गणेश जी की स्थापना करें।

यहां पर बनाए जा रहे मिट्‌टी के गणेश: े महाकाली चौराहा पर संजू की चक्की के पीछे मूर्तिकार मनोज रैकवार मिट्‌टी की गणेश प्रतिमाएं बना रहे हैं। कलाकार मिट्‌टी के गणेश प्रतिमाओं को अंतिम रूप देने में जुटे हैं।

मिट्‌टी के गणेश के साथ सेल्फी

पाठक अपने घर में विराजित होने वाले मिट्‌टी के गणेश के साथ अपनी सेल्फी दैनिक भास्कर को भेज सकते हैं। 13 से 23 सितंबर तक प्रतिदिन होने वाली सेल्फीज में से बेस्ट पांच सेल्फी को अगले दिन के एडिशन में प्रकाशित किया जाएगा। पाठक मोबाइल नं. 9977001072, 9993929420 पर वाट्सएस पर सेल्फी भेज सकते हैं।

पर्युषण पर्व विशेष

शांति के लिए तीर्थंकरों के सिद्धांतों को समझना होगा

पर्युषण का आज सातवां दिन है, इसमें प्रभु के जन्म के बाद की घटनाएं एक के बाद सुनने को मिलती है। वर्तमान का पुरुषार्थ हमारे भविष्य का निर्माण करता है। जैन धर्म जीवन जीने की शैली है, ईमानदार, निष्पाक व श्रेष्ठ इंसान बनने की प्रेरणा जैन धर्म देता है। दुनिया को शाकाहार का संदेश देता है। विश्व में आज शांति स्थापित करनी है तो तीर्थंकरों व उनके सिद्धांतों को समझना होगा। अहिंसा का सिद्धांत अद्भुत है। आज विश्व बारूद के ढेर पर है, कोई भी देश एक बटन दबा देगा तो सब खत्म। यह स्थिति शक्ति प्रदर्शन नहीं भय के कारण है। तीर्थंकर अभय देते है। तीर्थंकरों की वाणी वस्तुओं पर नहीं आसक्ति पर प्रहार करती है। प्रतिदिन 20 फुटबॉल के मैदान जीतना जंगल काटा जा रहा है। उपभोक्तावाद बढ़ा है। आने वाले समय में ई-गारबेज विश्व के लिए घातक सिद्ध होगा। यदि तीर्थंकरों के सिद्धांत अपरिग्रह को समझे तो इसका समाधान है।

सुखद भविष्य की नींव तैयार होगी- भगवान महावीर को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा, लेकिन उन्होंने शांतभाव से सबका सामना करते हुए परमात्म को प्राप्त किया। मनुष्य जीवन में कर्मों के बंधन के लिए क्रोध, लोभ, मान, माया सभी आते है। इन्हें अपने श्रेष्ठ पुरुषार्थ से निष्फल किया जा सकता है। संसार की सारी चुनौतियों को समभाव से स्वीकार कर सभी प्राणियों के सुख की कामना करने से सुखद भविष्य की नींव तैयार होती है।

शादियों में अनावश्यक खर्च बंद हो- एक ओर केरल में ही हजारों लोग भूख से मर रहे है वहीं दूसरी ओर शादियों में अनावश्यक खर्च किया जा रहा है। यह गलत है। शादियों में संगीत संध्या ना हो, दहेज की मांग ना हो, एल्कोहल का भी आज चलन बढ़ा है इसके काउंटर भी नहीं होने चाहिए।

आरक्षण से समाज बंटेगा- आरक्षण से समाज बंटेगा, पहले ही समाज बंटा हुआ है और यदि फिर बांटा गया, तो सब अलग-अलग हो जाएंगे। एकता की ताकत को समझे और वात्सल्य भाव से रहे। मोती की माला को जैसे एक डोरा पिरोए रखता है, वैसे ही घर में वात्सल्य सबको पिरोकर रखता है। आजादी की लड़ाई में भगतसिंह यह कहकर हंसते-हंसते फांसी पर चढ़े थे कि मेरे मरने पर कई भगतसिंह पैदा होंगे, लेकिन आजकल के नेता तो जनता के सामने जाने में ही घबरा रहे है।

यदि मां की ममता मर गई, तो धरती कैसे बचेगी- आज कई मां अपनी संतान को जन्म देने के बजाए कोख में ही मार रही है। मां की गोद में संतान को दुनिया भर से सुरक्षा मिलती है। यदि मां की ममता मर गई, तो धरती कैसे बचेगी। पिछली जनगणना में गर्भपात का आंकड़ा चिंताजनक निकला है। भ्रुण हत्या देखकर पशु भी मानव जन्म लेने से कतराने लगे हैं।

जैसा उन्होंने विकल्प मेहता (रतलाम) को बताया।

परिचय

व्यसनमुक्ति प्रणेता, आचार्य 1008 श्री रामलालजी मसा

हुक्म संघ के नवम आचार्य, आचार्य नानेश पट्टधर

जन्म- देशनोक ग्राम (राज.)

जन्म तिथी- चैत्र शुक्ल चतुर्दशी विस 2009

पर्यावरण...पौधे रोपकर लिया हिफाजत का संकल्प

दमोह | डॉ. विजय लाल स्मृति महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्रा इकाई 2 के छात्राओं ने डॉ. विजय लाल स्मृति आईटीआई महाविद्यालय परिसर में वृक्षारोपण किया। जिसमें लगभग 50 वृक्ष छात्राओं द्वारा लगाए गए। कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी नीलिमा मैसी, महेश पाठक, डॉ. विजयेयता अग्निभोज, निर्मला आर्या के साथ छात्र छात्राओं की उपस्थिति रही।

बैठक...समान अधिकार दिलाने के संबंध में चर्चा

दमोह | मानव अधिकार समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय पांडे, प्रदेश महामंत्री प्रशांत दुबे की उपस्थिति में सर्किट हाऊस में जिला कार्यकारिणी सदस्यों की बैठक की गई। दमोह जिलाध्यक्ष के पद पर विनोद माखीजा के नाम की घोषणा की गई। श्री पांडे ने बताया कि प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति भारत सरकार को 7 सितंबर को सौंपे गए ज्ञापन के बारे में चर्चा की गई। बेरोजगारी, मंहगाई पर अंकुश लगाने समान अधिकार दिलाने के लिए किए जाने वाले कार्यो की जानकारी दी। बैठक में राजेश माखीजा, अमित नौतानी, प्रवीण कुमार गुप्ता, नितिन सेन, गुड्डू मिश्रा, संजय कारवानी, अनिल नावानी, हरीश वाधवानी, मिंटू माखीजा, जय माखीजा, कमलेश, हरनाम, संजय, महेश, मिंटू, मनीश, नरेश, अमर सिंह, ज्ञानचंद, कन्हैया आदि थे।

समाज, धर्म, क्लब, एसोसिएशन, डॉक्टर, वकील, इंजीनियर, नर्सेज, पुलिस, शिक्षक, चैम्बर ऑफ कॉमर्स

सातवां दिन : जैन धर्म की महत्ता

गोद भराई...आंगनबाड़ी केंद्र में अन्नप्राशन

दमोह | आंगनबाड़ी केंद्र भूरी में मंगल दिवस कार्यक्रम के अंतर्गत अन्नप्राशन कार्यक्रम किया गया। जिसमें बच्चे के माता-पिता को बच्चे के छह माह पूर्ण होने के बाद से ऊपरी आहार की शुरूआत कराना बताया गया और समय से पूर्ण टीकाकरण व वनज कराना बताया। इस मौके पर पर्यवेक्ष राजकुमारी, कार्यकर्ता विनोद शर्मा, शोभा यादव, सहायिका गोमती, गीता की उपस्थित रही। वहीं एकीकृत बाल विकास परियोजना दमोह शहरी वार्ड 3 के आंगनबाड़ी केंद्र 7 में सामूहिक रूप से राष्ट्रीय पोषण आहार माह के दौरान द्वितीय मंगलवार को छह माह पूर्ण होने पर अंश, दुर्गा विश्वकर्मा, विराज पारासर को खीर खिलाकर अन्नप्राशन किया गया। एवं उपहार स्वरूप कटोरी चम्मच गिलास प्लेट दी गई। बच्चों की माताओं को ऊपरी आहार देने के लिए समझाइश दी गई। इसी दौरान केंद्र पर विभिन्न प्रकार व्यंजन बनाकर रखे गए।

Damoh - मिट्‌टी से गणेश की मूर्ति बना रहा कलाकार
X
Damoh - मिट्‌टी से गणेश की मूर्ति बना रहा कलाकार
Damoh - मिट्‌टी से गणेश की मूर्ति बना रहा कलाकार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..