--Advertisement--

एक ऐसा स्कूल जहां पढ़ाई के साथ स्टूडेंट्स को दी जाती है बम डिफ्यूज की ट्रेनिंग, इतना ही नहीं पिस्टल भी चलाते हैं छात्र

राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत कक्षा 9वीं में पहुंचने वाले विद्यार्थियों के लिए नए ट्रेड विषय शुरू किए गए हैं।

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 11:37 AM IST
bomb defuse training for student

दमोह (मप्र). जिले में एक ऐसा स्कूल है जहां छात्र-छात्रओं को पढ़ाई के साथ बम डिफ्यूज करने और पिस्टल चलाने की ट्रेनिंग दी जाती है। अभी तक कक्षा बारहवीं पास करने के बाद ही अधिकांश छात्र-छात्राएं कॅरिअर की राह तलाशने में जुट जाते थे, लेकिन अब उन्हें यह राह तय करने का मौका कक्षा 9वीं में प्रवेश के साथ ही मिलने लगेगा।

दरअसल, राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत कक्षा 9वीं में पहुंचने वाले विद्यार्थियों के लिए नए ट्रेड विषय शुरू किए गए हैं। जिसके तहत कक्षा 9वीं में पहुंचते ही छात्र-छात्राएं यह तय कर सकेंगे कि उसे भविष्य में कौन सा व्यवसाय चुनना है। एक्सीलेंस स्कूल में कक्षा 9वीं में प्रवेश लेने वाले बच्चों के लिए सिक्युरिटी एवं सूचना एवं प्रौद्योगिकी ट्रेड शुरू किया गया है।

इस ट्रेड में कक्षा 9वीं एवं 10वीं में संस्कृत विषय के स्थान पर एवं कक्षा 11वीं एवं 12वीं में अंग्रेजी विषय के स्थान पर लिया जाता है जिसके लिए यहां एक विशेष लैब बनाई गई है। जिसमें सुरक्षा संबंधी सभी तरह के उपकरण रखे हैं। जिनके माध्यम से बच्चों को प्रैक्टीकल के माध्यम से ट्रेंड किया जाता है। इसमें बम को डिफ्यूज करने के अलावा वीवीआईपी सुरक्षा संबंधी सभी तरह के उपकरणों के बारे में ट्रेनिंग दी जाती है। कक्षा बारहवीं के बाद इस कोर्स को पूरा होने के बाद सीधे निजी व सरकारी सुरक्षा एजेंसियों में प्राथमिकता के साथ चयन किया जाता है।

X
bomb defuse training for student
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..