Hindi News »Madhya Pradesh »Damoh» मातृ-शिशु स्वास्थ्य सेवाओं मँ सुधार लाने के लिए मॉनीटरिंग करें: कलेक्टर

मातृ-शिशु स्वास्थ्य सेवाओं मँ सुधार लाने के लिए मॉनीटरिंग करें: कलेक्टर

जिला स्वास्थ्य समिति समीक्षा बैठक मे कलेक्टर ने दिए निर्देश भास्कर संवाददाता | दमोह मातृ-शिशु स्वास्थ्य...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:10 AM IST

जिला स्वास्थ्य समिति समीक्षा बैठक मे कलेक्टर ने दिए निर्देश

भास्कर संवाददाता | दमोह

मातृ-शिशु स्वास्थ्य सेवाओं मे सुधार लाने सतत रूप से पर्यवेक्षण करने के निर्देश जिला स्वास्थ्य समिति समीक्षा बैठक में कलेक्टर डा. श्रीनिवास शर्मा ने दिए। उन्होने कहा हितग्राही सूची की सत्यता को परखने मैदानी पड़ताल करें। उन्होंने नीति आयोग मे शामिल स्वास्थ्य एवं पोषण से जुड़े विभिन्न सूचकांको की बारीकी से समीक्षा की। कलेक्टर महिला बाल विकास अधिकारी को अति कुपोषित बच्चों की सूची 15 दिवस के अंदर प्रस्तुत करने निर्देशित किया। उन्होंने कहा यह भी सुनिश्चित करें कि कुपोषित बच्चों के लिए एनआरसी साफ-सुथरी रहे। शहरी क्षेत्र मे आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एएनएम को टीकाकरण मे पूर्ण सहयोग प्रदान करते हुए उनके साथ संयुक्त रूप से मिलकर अन्य सेवाओं मे भी अपेक्षित सहयोग प्रदान करें। इस दौरान सीएमएचओ डॉ. आरके बजाज, सिविल सर्जन डॉ. ममता तिमोरी सहित अनेक अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

अब महिला स्वास्थ्य शिविर प्रत्येक तीन माह में: इस दौरान बताया गया कि सभी गर्भवती महिलाओं की सेहत का बेहतर रूप से ध्यान रखा जा सके इसके लिए सभी ग्रामों मे प्रत्येक तीन माह मे महिला स्वास्थ्य शिविर आयोजित किए जाएंगे। सभी सीबीएमओ से कहा गया कि खून में एचबी का स्तर कम पाए जाने वलाीं महिलाओं को आयरन सुक्रोज एवं आवश्यकतानुसार रक्ताधान प्रभावी कार्ययोजना बनाकर समयानुसार सुनिश्चित किया जाए। साथ ही दूसरी एवं तीसरी तिमाही वाली गर्भवती महिलाओं तथा एनिमिक महिलाओं की सूची संधारित करें। बैठक दौरान निर्देश दिए गए कि अति कुपोषित बच्चों की नामजद सूची जिसमें नाम, मोबाईल नंबर स्पष्ट रूप से लिखा हो 15 दिवस के भीतर उपलब्ध कराएं। बच्चों की सेहत मे सुधार एवं उनकी सुचारू रूप से देखभाल सुनिश्चित करने के लिए बच्चों को गोद ऐंसा व्यक्ति ले जो परवरिश कर सके।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Damoh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×