Hindi News »Madhya Pradesh »Damoh» यातायात सुरक्षा सप्ताह में अपनी प्रतिभा दिखाने वाले हुए सम्मानित, कई रोचक काम भी सामने आए

यातायात सुरक्षा सप्ताह में अपनी प्रतिभा दिखाने वाले हुए सम्मानित, कई रोचक काम भी सामने आए

स्थानीय मानस भवन में सड़क सुरक्षा सप्ताह के समापन अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। 23 से 30 अप्रैल तक यातायात...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:15 AM IST

यातायात सुरक्षा सप्ताह में अपनी प्रतिभा दिखाने वाले हुए सम्मानित, कई रोचक काम भी सामने आए
स्थानीय मानस भवन में सड़क सुरक्षा सप्ताह के समापन अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। 23 से 30 अप्रैल तक यातायात सप्ताह के दौरान शहर में मुहिम चलाकर लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया गया। इस मुहिम में यातयात प्रभारी रीता सिंह द्वारा सीधे जनता की भागीदारी सुनिश्चित की गई, जिसमें प्रशासन के साथ-साथ स्कूली छात्र-छात्राओं सिविल सोसायटी के लोगों ने भी पूरे सप्ताह लोगों को विभिन्न तरीकों से जागरूक करने का प्रयास किया। जनभागीदारी से हुए इन प्रयासों को शहर की जनता से बहुत सालों बाद महसूस किया कि यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए केवल पुलिस प्रशासन की जिम्मेदारी नहीं है इसमें आम जनमानस की भी बराबर भागीदारी होती है। सिविल सोसायटी से जुड़े लोगों ने सप्ताह भर ट्रैक्टर-ट्रालियों में रेडियम लगाने का काम किया।

व्यस्ततम चौराहों पर छोटे बच्चों को वाहन न चलाने की हिदायत देते हुए तीन सवारी वाहन को रोककर गांधीगिरी करते हुए उन्हें गुलाब के फूल बांटे साथ ही हेलमेट रेली निकालकर लोगों को अपनी जान बचाने का संदेश दिया गया। इस दौरान यातायात पुलिस द्वारा स्कूलों में जाकर यातायात नियमों का पाठ पढ़ाया गया।

सोमवार को मानस भवन में आयोजित कार्यक्रम बच्चों, अभिभावकों और सिविल सोसायटी पर केंद्रित रहा। एक दिन पहले रविवार को बच्चों को यातायात से संबंधित पेंटिंग, चित्रकला, निबंध लेखन, स्लोगन प्रतियोगिता कराई गई। चारों विधाओं में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार प्राप्त करने वालों को सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एएसपी अरविंद दुबे, पूर्व विधायक आनंद श्रीवास्तव, रमन खत्री व बस एसोशिएशन के पदाधिकारी मौजूद थे। इस दौरान सिविल सोसायटी से जुड़े लोगों द्वारा पूरे सप्ताह विभाग के साथ मिलकर लोगों को जागरूक करने की मुहिम का हिस्सा बनने पर उनकी टीम को सामूहिक रूप से शील्ड देकर सम्मानित किया गया। इस टीम में धर्मेंद्र राय, धीरज जानसन, बाबी बाधवा, अखिलेश श्रीवास्तव, ऋषि तिवारी शामिल रहे। यातायात प्रभारी रीता सिंह द्वारा जनता और पुलिस के बीच समन्वय और संवाद स्थापित करने का प्रयास किया गया। इस दौरान राष्ट्रीय नाट्य मंच के कलाकारों द्वारा नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरूक किया। जिसमें कलाकारों द्वारा लगातार हो रहे सड़क हादसे एवं उनसे बचने के उपाय के बारे में बताया।

यह दिए गए सुझाव

यातायात सप्ताह के समापन पर जो सुझाव दिए उनमें शादी के अवसरों पर बाराती, पुलिस को सूचित करें कि बारात किस मार्ग से जाएगी व यातायात में बाधा उत्पन्न नहीं होगी व 45 डेसीबल से ज्यादा शोर नहीं होगा, वाहन चलाते समय थूकने पर प्रतिबंध हो, चार पहिया वाहन चालकों को वाहन चलाने का एक समय की अधिकमत अवधि 6 से 8 घंटे निर्धारित की जाए, जिससे थकावट न हो, पुलिस द्वारा समय-समय पर नशे करने वाले लोगों को चेक किया जाए, जनता की भागीदारी के रूप में दुकानों के सामने सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Damoh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×