पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Damoh News Mp News 24 Illegal Sand Storage In Posh Colonies Sliding Down From The Sand On The Road

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पॉश कॉलोनियों में रेत के 24 अवैध भंडारण, सड़क पर रेत से फिसलकर गिर रहे राहगीर

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिला मुख्यालय पर रेत का अवैध कारोबार जोरों पर है। रोजाना सुबह होते ही हाइवे किनारे खडे़ डंपरों में रेत की बोली लगाई जाती है। इसके बाद शहर में जगह-जगह रेत डंप हो रही है। विवेकानंद एवं मुकेश कॉलोनी क्षेत्र में 24 से ज्यादा स्थानों रेत के ढेर लगाए जाते हैं, जहां से दिन भर ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से रेत बेचने का कारोबार चल रहा है।

एक डंपर की कीमत 35 से 40 हजार रुपए तक है वहींं एक ट्रॉली रेत 5 से 6 हजार रुपए में बिक रही है। रेत का कारोबार करने वाले लोग धड़ल्ले से रेत बेचते हैं, लेकिन खनिज विभाग कभी भी यहां जांच नहीं करता। रेत के काले कारोबार के साथ परेशानी यह है कि दिन भर लोडिंग व अनलोडिंग होने के कारण सड़क पर रेत बिखरी होने से आए दिन वाहन चालक रेत से फिसलकर हादसों का शिकार हो रहे हैं। दूसरी ओर शहर में नो एंट्री के बावजूद भी दिन भर रेत से भरे डंपरों का आना-जाना लगा रहता है। ऐसे में किसी भी दिन बड़ा हादसा हो सकता है। दुकानदार अनुपम खरे ने बताया कि दो दिन पहले ही एक छात्रा स्कूटी सहित रेत से फिसल गई थी, जिसका इलाज क्लीनिक में किया गया था। डॉ. रजनीश गांगरा ने बताया कि रेत के कारोबार से पूरी कॉलोनी के लोगों का जीना मुश्किल हो गया है। क्योंकि दिन भर डंपर व ट्रैक्टरों के आने-जाने की आवाज से लोग ध्वनि प्रदूषण का शिकार हो रहा है। उन्होंने कहा कई बार सीएम हेल्पलाइन में शिकायत करने के बाद भी स्थिति जस की तस है। मेडीकल स्टोर्स संचालक संतोष गुप्ता, ट्रांसपोर्ट कारोबारी अनिल कुमार आरोरा ने बताया कि सड़क पर रेत पड़ी होने से आए दिन हादसे हो रहे हैं। सरकारी जमीन पर होने के कारण कोई विरोध नहीं कर पाता।

शासकीय जमीन पर कब्जा कर हो रहा कारोबार: भास्कर टीम ने विवेकानंद कॉलोनी एवं मुकेश कॉलोनी क्षेत्र में डंप की जा रही रेता का जायजा लिया तो यह बात सामने आई कि रेत व्यापारियों द्वारा सड़क किनारे ही कब्जा करके रेत का कारोबार किया जा रहा है। विवेकानंद कॉलोनी में संचालित 12 स्थानों पर हाऊसिंग बोर्ड की सरकारी जमीन पर रेत डंप की जा रही है वहीं मुकेश कॉलोनी में भी विवादित जमीन पर रेत का कारोबार चल रहा है। जिला खनिज अधिकारी रवि पटेल ने कहा- मैंने दो माह पहले ही दमोह में ज्वाइन किया है। तभी सभी रेत कारोबारियों को नोटिस जारी किए गए थे। जल्द ही इस मामले में फिर कार्रवाई की जाएगी।



बसंत श्रीवास्तव|दमोह

जिला मुख्यालय पर रेत का अवैध कारोबार जोरों पर है। रोजाना सुबह होते ही हाइवे किनारे खडे़ डंपरों में रेत की बोली लगाई जाती है। इसके बाद शहर में जगह-जगह रेत डंप हो रही है। विवेकानंद एवं मुकेश कॉलोनी क्षेत्र में 24 से ज्यादा स्थानों रेत के ढेर लगाए जाते हैं, जहां से दिन भर ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से रेत बेचने का कारोबार चल रहा है।

एक डंपर की कीमत 35 से 40 हजार रुपए तक है वहींं एक ट्रॉली रेत 5 से 6 हजार रुपए में बिक रही है। रेत का कारोबार करने वाले लोग धड़ल्ले से रेत बेचते हैं, लेकिन खनिज विभाग कभी भी यहां जांच नहीं करता। रेत के काले कारोबार के साथ परेशानी यह है कि दिन भर लोडिंग व अनलोडिंग होने के कारण सड़क पर रेत बिखरी होने से आए दिन वाहन चालक रेत से फिसलकर हादसों का शिकार हो रहे हैं। दूसरी ओर शहर में नो एंट्री के बावजूद भी दिन भर रेत से भरे डंपरों का आना-जाना लगा रहता है। ऐसे में किसी भी दिन बड़ा हादसा हो सकता है। दुकानदार अनुपम खरे ने बताया कि दो दिन पहले ही एक छात्रा स्कूटी सहित रेत से फिसल गई थी, जिसका इलाज क्लीनिक में किया गया था। डॉ. रजनीश गांगरा ने बताया कि रेत के कारोबार से पूरी कॉलोनी के लोगों का जीना मुश्किल हो गया है। क्योंकि दिन भर डंपर व ट्रैक्टरों के आने-जाने की आवाज से लोग ध्वनि प्रदूषण का शिकार हो रहा है। उन्होंने कहा कई बार सीएम हेल्पलाइन में शिकायत करने के बाद भी स्थिति जस की तस है। मेडीकल स्टोर्स संचालक संतोष गुप्ता, ट्रांसपोर्ट कारोबारी अनिल कुमार आरोरा ने बताया कि सड़क पर रेत पड़ी होने से आए दिन हादसे हो रहे हैं। सरकारी जमीन पर होने के कारण कोई विरोध नहीं कर पाता।

शासकीय जमीन पर कब्जा कर हो रहा कारोबार: भास्कर टीम ने विवेकानंद कॉलोनी एवं मुकेश कॉलोनी क्षेत्र में डंप की जा रही रेता का जायजा लिया तो यह बात सामने आई कि रेत व्यापारियों द्वारा सड़क किनारे ही कब्जा करके रेत का कारोबार किया जा रहा है। विवेकानंद कॉलोनी में संचालित 12 स्थानों पर हाऊसिंग बोर्ड की सरकारी जमीन पर रेत डंप की जा रही है वहीं मुकेश कॉलोनी में भी विवादित जमीन पर रेत का कारोबार चल रहा है। जिला खनिज अधिकारी रवि पटेल ने कहा- मैंने दो माह पहले ही दमोह में ज्वाइन किया है। तभी सभी रेत कारोबारियों को नोटिस जारी किए गए थे। जल्द ही इस मामले में फिर कार्रवाई की जाएगी।



नई गाइड लाइन में 50 हजार तक का जुर्माना
शासन द्वारा 17 सितंबर 2018 को रेत डंप करने के संबंध में नई गाइड लाइन बनाई गई है। इस गाइड लाइन के मुताबिक रेत डंप करने के पहले खनिज विभाग में पंजीयन कराना अनिवार्य है। इसके अलावा जहां रेत डंप कराई जाना है यदि वह सरकारी जमीन है तो उसकी अनुमति तहसीलदार से या फिर निजी जमीन है तो जमीन मालिक की लिखित अनुमति जरूरी है। इसके बाद जमीन का खसरा-नक्शा करने के साथ संबंधित रेत व्यापारी को विभाग को 10 हजार जमा करने पड़ते हैं। यदि इन शर्तों का पालन नहीं किया जाता है तो संबंधित रेत व्यापारी पर 50 हजार रूपए का जुर्माना लगाया जाता है। लेकिन गाइड लाइन के 4 माह बीतने के बावजूद भी शहर में एक भी रेत कारोबार का पंजीयन खनिज विभाग में नहीं कराया गया न ही जुर्माना लगाया गया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें