• Hindi News
  • Mp
  • Damoh
  • Damoh News mp news after the administration39s explanation and strictness agreed to not take out the procession internet stopped in fear of tension

प्रशासन की समझाइश और सख्ती के बाद जुलूस नहीं निकालने पर बनी सहमति, तनाव की आशंका में इंटरनेट बंद

Damoh News - अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद शनिवार को दिनभर माहौल अच्छा रहा, लेकिन रात गड़बड़ाने लगा था। कुछ...

Nov 11, 2019, 07:40 AM IST
अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद शनिवार को दिनभर माहौल अच्छा रहा, लेकिन रात गड़बड़ाने लगा था। कुछ युवा रविवार को जुलूस निकालने को लेकर अड़े रहे, लेकिन जब प्रशासन ने अनुमति नहीं दी और गृह मंत्रालय ने रोक दिया तो प्रशासन ने सख्ती दिखाई। देर रात कशमकश के बीच कलेक्टर एसपी की समझाइश काम आई और सभी पक्षों की सहमति के बाद आखिरकार रविवार को जुलूस नहीं निकला। हालांकि शांति व्यवस्थाएं बनाए रखने के लिए शहर की इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं। सुबह 4 बजे बंद हुईं संचार सेवाओं से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

दरअसल रविवार को पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब का जन्मोत्सव था, इस अवसर पर रैली निकालने को लेकर कुछ पदाधिकारी अड़े थे, जबकि स्थिति काे देखते हुए प्रदेश के 51 जिलों में रैली निकालने से समाज के वरिष्ठ नागरिक मना कर चुके थे, लेकिन दमोह में पदाधिकारी मानने को मंजूर नहीं थे, ऐसी स्थिति में कलेक्टर तरुण राठी और एसपी विवेक सिंह ने देर रात तक समझाया, समाज के वरिष्ठ लोग सहमत भी हो गए, लेकिन कुछ युवा इस बात को मानने के लिए तैयार नहीं थे, जिसपर कलेक्टर-एसपी ने ऐसे युवाओं को एक-एक करके फोन लगाकर कोतवाली बुलवाया और कड़ी चेतावनी देते हुए समझाइश दी। इस तरह सुबह 3.45 बजे तक दोनों अधिकारियों ने 15 से ज्यादा युवाओं को एक-एक करके चैंबर में बुलाया और उन्हें स्थिति से अवगत भी कराया। नतीजतन सभी युवा मान गए और रविवार सुबह 7 बजे मुर्शिद बाबा मैदान में जश्ने ईद-मीलादुन्नबी कमेटी द्वारा पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब का जन्मोत्सव शांतिपूर्ण तरीके से मनाया गया।

इस बीच परचम कुशाई से पीरे तरीकत हजरत सूफी सैय्यद फैजानुलहक साहब ने की। सभी ने एक-दूसरे को मुबारकबाद दी। लेकिन जुलूस नहीं निकाला गया।कार्यक्रम में कलेक्टर तरूण राठी, एसपी विवेक सिंह, अपर कलेक्टर आनंद कोपरिहा, एएसपी विवेक लाल, एसडीएम रवींद्र चौकसे, सीएसपी मुकेश अबिद्रा, तहसीलदार बबीता राठौर, टीआई आरके पांडे सहित अन्य जनप्रतिनिधि व बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग मौजूद रहे।

फैसले के चलते लगाई थी रोक: गौरतलब है कि अयोध्या फैसला आने के बाद समस्त कार्यक्रमों- रैली, जुलूस पर रोक लगाई गई है। शनिवार को फैसला आने के चलते शहर में सिख समाज द्वारा निकाली जाने वाली शोभायात्रा भी नहीं निकाली गई, लेकिन रविवार को मुस्लिम समाज के कुछ युवाओं द्वारा जुलूस निकाले जाने की बात कही गई, जिसपर शनिवार देर रात तक जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के अधिकारी कोतवाली में बैठे रहे और शहर में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। जुलूस निकाले जाने की बात करने वाले युवाओं को समझाइश दी गई, लेकिन वे मानने काे तैयार नहीं हो रहे थे, इसपर कलेक्टर ने मुख्य मार्गों पर बेरीकेड्स कराई, पेट्रोलिंग के लिए गाड़ी भेजी, रात में एनाउंस कराने के लिए वाहन बुलवाए गए, इस बीच कलेक्टर ने भी शासन को स्थिति से अवगत कराया। उधर देर रात एक युवक द्वारा जुलूस निकाले जाने की बात लिखकर सोशल मीडिया पर पोस्ट डाल दी, जिसे पुलिस ने पकड़कर कोतवाली लेकर पहुंची और 151 के तहत कार्रवाई की गई।

दूसरे दिन युवाओं को भी समझाइश दी गई। वरिष्ठजनों की समझाइश और प्रशासन की सख्ती के चलते शहर में शांतिपूर्ण तरीके से जन्मोत्सव मनाया गया। इधर तनाव की स्थिति निर्मित न हो। इसलिए जिलेभर में इंटरनेट वाट्सएस आदि की सेवाएं भी बंद करा दी गई। दिनभर इंटरनेट सेवाएं बंद रहीं, जिससे लोग परेशान रहें वहीं व्यापारियों, दुकानदारों का काम भी बंद रहा। साइबर कैफे संचालक सहित अन्य दुकानदारों ने अपनी दुकानें बंद रखीं। दिनभर मुस्लिम बाहुल्य इलाकों सहित शहर के मुख्य चौराहों पर पुलिस बल की तैनाती रही। कलेक्टर तरुण राठी ने बताया कि समाज के वरिष्ठ लोगों की राय जानने के बाद युवाओं को समझाइश दी गई थी, जो मानने के लिए तैयार नहीं थे, उन्हें भविष्य की स्थिति से अवगत कराया गया था, हालांकि देर रात में सभी पक्ष मान गए थे और शांत पूर्ण तरीके से जन्मोत्सव मनाया गया। एसपी विवेक सिंह ने बताया कि जिले में शांति पूर्ण तरीके से महोत्सव मनाया। सभी पक्षों ने सहयोग किया।

आखिरकार शहरभर में नहीं निकाला गया जुलूस, शांतिपूर्ण तरीके से मनाया गया पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब का जन्मोत्सव

कलेक्टर ने भोपाल, जबलपुर और दूसरे जिले के वीडियो मंगाकर कमेटी के सदस्यों को दिखाए, लेकिन कुछ लोग अपनी मांग पर अड़े रहे, कलेक्टर ने कहा- प्रदेश के 51 जिलों में ऐसा नहीं हो रहा है, दमोह में ही क्यों आप लोग ऐसा कर रहे हैं, मुझे तो यहां पर नहीं रहना है, आप और आपके परिवारों के लिए यह अच्छा नहीं है

कोतवाली : रात का नजारा

दमोह। देर रात तक कुछ ऐसा रहा कोतवाली का नजारा।

दमोह। रविवार के दिन जारी रही प्रशासन की सख्ती। वहीं सादगीपूर्ण तरीके से मनाया गया ईद-मिलादुन्नबी।

हटा: जुलूस नहीं निकल पाया

हटा। जुलूस न निकल पाने के कारण युवाओं में दिखी निराशा।

हजरत मोहम्मद साहब का जन्मोत्सव मनाया

दमाेह। मास्टर लालचंद खरारे आकाशवाणी कलाकार ने रविवार को हजरत मोहम्मद साहब का जन्मोत्सव मनाया। इस मौके पर उन्होंने कार्यक्रम में सहभागिता की और सभी को मुबारकबाद दी।

हटा: एसडीएम, एसडीओपी व टीआई हटा ने संयुक्त रूप से आयोजकों से चर्चा कर जुलूस न निकालने की अपील की

हटा। अयोध्या भूमि पर फैसले के चलते राज्य शासन ने सम्पूर्ण प्रदेश में धारा 144 लगाने के निर्देश देकर सभी प्रकार के सार्वजनिक आयोजन के लिए दी गई अनुमति निरस्त कर दी थी, जिसके कारण हटा में पैगम्बर हज़रत मुहम्मद साहब के जन्म दिन मिलादुन्नबी के जलसे पर भी रोक लग गई, जिसकी सूचना आयोजन समिति को एसडीएम राकेश मरकाम ने शनिवार शाम को दे दी थी। सूचना पर आयोजन समिति के युवाओं में आक्रोश फैल गया, एसडीएम, एसडीओपी व टीआई हटा ने संयुक्त रूप से कई बार आयोजकों से चर्चा कर जुलूस न निकालने की अपील की। तय हुआ कि यदि दमोह में जुलूस नहीं निकलेगा तो हटा में भी नहीं निकालेगा, इसी निर्णय के बाद रविवार को सुबह 8 बजे सभी मुस्लिम भाई छोटी मस्जिद परिसर में एकत्रित हुए, परचम कुरसाई के बाद युवक जुलूस के रूप में जब मंदिर मस्जिद चौराहे पर पहुंचे और आतिशबाजी की तो पुलिस अधिकारियों ने समझाइश दी और युवकों को वापस कर दिया। पुलिस ने लगातार नगर की गतिविधियों पर नज़र रखी, अधिकारियों की टीम ने लगातार शहर गश्त की। चारों ओर शांति रही और व्यापारिक प्रतिष्ठान यथावत चल रहे थे। वहीं नगर में आतिशबाजी करने पर पुलिस ने रोक लग दी। इस बीच जुलूस भी नहीं निकलने दिया गया। बाद में शांतिपूर्ण तरीके से जन्मोत्सव मनाया गया। बताया जाता है कि हटा में जुलूस निकालने की अनुमति नहीं ली गई थी, जिसके चलते जुलूस नहीं निकलने दिया गया। इस दौरान एसडीओपी सरिता उपाध्याय, एसडीएम राकेश मरकाम सहित अनेक अधिकारी मौजूद थे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना