• Hindi News
  • Mp
  • Damoh
  • Jabera News mp news bandarbant became fierce in the amount spent in the name of maintenance of canals of pauri reservoir

पौड़ी जलाशय की नहरों के मेंटेनेंस के नाम पर खर्च हुई राशि में जमकर हुआ बंदरबांट

Damoh News - पौड़ी जलाशय की जल उपभोक्ता संथा के अध्यक्ष का आरोप सब इंजीनियर ने अध्यक्ष के आरोपों को बताया...

Feb 27, 2020, 08:05 AM IST
Jabera News - mp news bandarbant became fierce in the amount spent in the name of maintenance of canals of pauri reservoir

{पौड़ी जलाशय की जल उपभोक्ता संथा के अध्यक्ष का आरोप

{सब इंजीनियर ने अध्यक्ष के आरोपों को बताया बेमुनियाद

जनपद जबेरा के पौड़ी जलाशय से नहरों के माध्यम से किसानों के खेतों तक सिंचाई का पानी पहुंचाने के लिए किया गया मेंटनेंस सवालों में आ गया है। विभाग के अधिकारियों ने खरपतवार की सफाई के नाम पर जारी की गई राशि नहरों की सफाई के बिना ही निकालकर बंदरबांट कर दिया है।

किसानों को नहरों की सफाई खुद करनी पड़ रही है। तब कहीं खेतों तक पानी पहुंचता है। बताया जाता है कि हर वर्ष बारिश के पानी नहरें क्षतिग्रस्त हो जाती है और उनमें झाड़ व घास उग आती है, जिसकी सफाई मेंटनेंस की राशि जारी की जाती है। जिसका काम अधिकारी नहीं कराते हैं और राशि का आहरण कर लेते हैं। जल उपभोक्ता संथा पौड़ी के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने सब इंजीनियर पर लगाते हुए बताया कि पौड़ी जलाशय से पांच गांव के किसानों के खेतों सिंचाई के लिए बनी नहरों की साफ सफाई विगत वर्षों से नहीं की जा रही है। जिससे बांध में बड़े बड़े झाड़ खड़े हो गए हैं। बांध का मेंटनेंस नहीं होने से जल का रिसाव हो रहा है, नहरों की सफाई नहीं होने से किसानों को खेतों तक पानी ले जाने में अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जब किसान नहरों की साफ सफाई करता है, तब कही खेतों तक पानी पहुंच पाता है।

अधिकारियों को इस विषय पर कई बार अवगत करवा चुके हैं: पौड़ी जलाशय के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने बताया कि अधिकारियों को इस विषय पर कई बार अवगत करवा चुके हैं, लेकिन मेंटनेंस फिर भी गंभीरता से नहीं किया जा रहा है। अध्यक्ष सिंह ने बताया पिछले साल तालाब की मेढ़ पर बजरा डलवाया था, अभी तक उसका पैसा मिला नहीं, सिंचाई विभाग के पौड़ी जलाशय के इंजीनियर जेके अग्रवाल को भी बताया उन्होंने कहा 30 हजार रुपए तक का खर्च आएगा और खाली चेक पर दस्तक करवा कर ले गए, अभी तक कुछ हुआ ही नहीं और बताया जाता कि राशि निकाल ली गई लेकिन नहरों की साफ सफाई नहीं की गई है।

जलाशय के अंतर्गत नहरों की साफ-सफाई मैंने खुद जेसीबी से करवाई

पौड़ी जलाशय के सब इंजीनियर जेके अग्रवाल का कहना है कि जलाशय के अंतर्गत पौड़ी, आमघट, कंजई और आरबीसी नहरों की साफ-सफाई मैंने खुद जेसीबी से करवाई है, बांध की साफ-सफाई के लिए अलग से विभागीय फंड आता है और पौड़ी जलाशय के खाते में अभी भी पर्याप्त राशि जमा है, फिर साफ-सफाई नहीं करवाने का सवाल ही नहीं उठता। राशि का आहरण एसडीओ के अंडर में आता है। चेक पर साइन करवाकर राशि निकालने का सवाल ही नहीं उठता।

कई बार अवगत करवा चुके हैं, लेकिन मेंटनेंस फिर भी गंभीरता से नहीं किया जा रहा है। अध्यक्ष सिंह ने बताया पिछले साल तालाब की मेढ़ पर बजरा डलवाया था, अभी तक उसका पैसा मिला नहीं, सिंचाई विभाग के पौड़ी जलाशय के इंजीनियर जेके अग्रवाल को भी बताया उन्होंने कहा 30 हजार रुपए तक का खर्च आएगा और खाली चेक पर दस्तक करवा कर ले गए, अभी तक कुछ हुआ ही नहीं और बताया जाता कि राशि निकाल ली गई लेकिन नहरों की साफ सफाई नहीं की गई है।

जबेरा। नहराें का नहीं हो रहा सुधार कार्य।

Jabera News - mp news bandarbant became fierce in the amount spent in the name of maintenance of canals of pauri reservoir
X
Jabera News - mp news bandarbant became fierce in the amount spent in the name of maintenance of canals of pauri reservoir
Jabera News - mp news bandarbant became fierce in the amount spent in the name of maintenance of canals of pauri reservoir

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना