• Hindi News
  • Mp
  • Damoh
  • Damoh News mp news eminent poets of the country recited comic bundeli compositions

देश के ख्याति प्राप्त कवियों ने हास्य बंुदेली रचनाएं सुनाईं

Damoh News - भास्कर संवाददाता। बांदकपुर/दमाेह जागेश्वरनाथ धाम बांदकपुर में पर्युषण पर्व के उपलक्ष्य में श्री दिगंबर जैन...

Sep 13, 2019, 07:05 AM IST
भास्कर संवाददाता। बांदकपुर/दमाेह

जागेश्वरनाथ धाम बांदकपुर में पर्युषण पर्व के उपलक्ष्य में श्री दिगंबर जैन पारसनाथ मंदिर बांदकपुर के तत्वाधान में विराट कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें सांगानेर जयपुर से आए कवि अनेकांत के संचालन में स्थानीय युवा कवियों के द्वारा एक से एक रचना प्रस्तुत की गई।

देर रात तक चले इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोगों की उपस्थिति रही। अनंत चौदस के उपलक्ष्य में स्थानीय दिगंबर जैन मंदिर से श्रीजी की शोभायात्रा निकाली गई। भगवान जी का जल विहार समाज के लोगों ने बड़े उत्साह के साथ किया। शोभायात्रा में इंद्रदेव भी प्रसन्न हुए जोरदार बारिश हुई। शोभायात्रा समाज के लोगों के प्रतिष्ठान व निवास के स्थान से होते हुए निकल रही थी जहां पर लोगों ने भगवान का आरती सजाकर स्वागत किया, भगवान की आरती की का मंदिर जी में भगवान को जल विहार करा कर जलाभिषेक किया गया। वहीं रात्रि में भक्तांबर जी की 48 काव्य से 48 दीपों के द्वारा महाआरती की गई। महाआरती करने का सौभाग्य भागचंद निपुण कुमार जैन के परिवार को प्राप्त हुआ। सांगानेर से आए पंडित अनेकांत जी के प्रवचन हुए। 10 दिनों तक बड़े ही धार्मिक वातावरण में 10 धर्मों का ज्ञान कराकर धर्मों की सरल व्याख्या का लोगों को समझाया।

गाजे-बाजे के साथ निकाली श्रीजी की शोभायात्रा: जबेरा/सिंग्रामपुर। अनंत चतुर्दशी के दिन दशलक्षण महापर्व समापन में श्री जी की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। सुबह अभिषेक शांति धारा पूजा का कार्य संपन्न हुआ दोपहर में गाजे बाजे के साथ श्रीजी की शोभायात्रा बड़ा जैन मंदिर से प्रारंभ हुई जो ग्राम का भ्रमण करते हुए नया जैन मंदिर पांडुक शिला होते हुए वापस बड़े मंदिर पहुंची। बोलियों के साथ श्रीजी का अभिषेक शांति धारा एवं पूजन का कार्य संपन्न किया गया। जुलूस के दौरान घर घर रंगोली सजाई गई और श्री जी की घर घर आरती की गई। शाम को मंदिर जी में आरती, प्रवचन एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम संपन्न हुए।

बांदकपुर। कवि सम्मेलन में प्रस्तुति देती बालिका।

हास्य कवि सम्मेलन मानस भवन में आज

दमोह। पर्युषण पर्व के समापन पर युवक क्रांति संगठन एवं जैन युवा महासंघ द्वारा 13 सितंबर को रात 8 बजे से स्थानीय मानस भवन अंबेडकर चाैक के पास अखिल भारतीय हास्य कवि सम्मेलन कर आयोजन किया जा रहा है। जिसमें भाग लेने वाले देश के ख्याति प्राप्त कवियों में डॉ.रामेंद्र त्रिपाठी गीतकार मुंबई, धमचक मुलथानी हास्याचार्य रतलाम, प्रकाश पटेरिया ह्रदेश ओजस्वी छतरपुर, राजेंद्र विदुआ हास्यबुंदेली टीकमगढ़, दिनेश देहाती हास्यव्यंग बालाघाट, निशा तिवारी गीत गजल भिलाई, अर्चना अर्चन गीत गजल जबलपुर के साथ मंच संचालन प्रकाश प्रलय हास्य कवि कटनी करेंगे। संयोजक सुधीर विद्यार्थी ने बताया कि इस मौके पर प्रेमचंद्र जैन विद्यार्थी द्वारा रचित काव्य संग्रह माटी का तिलक का विमोचन एवं नगर को गौरवान्वित करने वाली प्रतिभाओं को सम्मानित किया जाएगा।

भास्कर संवाददाता। बांदकपुर/दमाेह

जागेश्वरनाथ धाम बांदकपुर में पर्युषण पर्व के उपलक्ष्य में श्री दिगंबर जैन पारसनाथ मंदिर बांदकपुर के तत्वाधान में विराट कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें सांगानेर जयपुर से आए कवि अनेकांत के संचालन में स्थानीय युवा कवियों के द्वारा एक से एक रचना प्रस्तुत की गई।

देर रात तक चले इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोगों की उपस्थिति रही। अनंत चौदस के उपलक्ष्य में स्थानीय दिगंबर जैन मंदिर से श्रीजी की शोभायात्रा निकाली गई। भगवान जी का जल विहार समाज के लोगों ने बड़े उत्साह के साथ किया। शोभायात्रा में इंद्रदेव भी प्रसन्न हुए जोरदार बारिश हुई। शोभायात्रा समाज के लोगों के प्रतिष्ठान व निवास के स्थान से होते हुए निकल रही थी जहां पर लोगों ने भगवान का आरती सजाकर स्वागत किया, भगवान की आरती की का मंदिर जी में भगवान को जल विहार करा कर जलाभिषेक किया गया। वहीं रात्रि में भक्तांबर जी की 48 काव्य से 48 दीपों के द्वारा महाआरती की गई। महाआरती करने का सौभाग्य भागचंद निपुण कुमार जैन के परिवार को प्राप्त हुआ। सांगानेर से आए पंडित अनेकांत जी के प्रवचन हुए। 10 दिनों तक बड़े ही धार्मिक वातावरण में 10 धर्मों का ज्ञान कराकर धर्मों की सरल व्याख्या का लोगों को समझाया।

गाजे-बाजे के साथ निकाली श्रीजी की शोभायात्रा: जबेरा/सिंग्रामपुर। अनंत चतुर्दशी के दिन दशलक्षण महापर्व समापन में श्री जी की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। सुबह अभिषेक शांति धारा पूजा का कार्य संपन्न हुआ दोपहर में गाजे बाजे के साथ श्रीजी की शोभायात्रा बड़ा जैन मंदिर से प्रारंभ हुई जो ग्राम का भ्रमण करते हुए नया जैन मंदिर पांडुक शिला होते हुए वापस बड़े मंदिर पहुंची। बोलियों के साथ श्रीजी का अभिषेक शांति धारा एवं पूजन का कार्य संपन्न किया गया। जुलूस के दौरान घर घर रंगोली सजाई गई और श्री जी की घर घर आरती की गई। शाम को मंदिर जी में आरती, प्रवचन एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम संपन्न हुए।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना