बनना था रेन बसेरा, साइकिल स्टैंड बन गया

Damoh News - दमोह के मॉडल स्टेशन को मिलने वाली एक और नई सुविधा छिन गई है। रेलवे द्वारा रेलवे द्वारा स्टेशन परिसर के बाहर बनने...

Feb 22, 2020, 06:56 AM IST
Damoh News - mp news rain shelters were to be built became a bicycle stand

दमोह के मॉडल स्टेशन को मिलने वाली एक और नई सुविधा छिन गई है। रेलवे द्वारा रेलवे द्वारा स्टेशन परिसर के बाहर बनने वाला रेन बसेरा को कैंसिल कर दिया गया है। इतना ही नहीं जहां पर रेन बसेरा बनाया जाना था वहां पर अब साइकल स्टैंड को शिफ्ट कर दिया है।

इस मामले को लेकर रेलवे सलाहकार समिति सदस्य की तमाम आपत्ति को भी दरकिनार कर दिया गया है। गौरतलब है कि दमोह में द्वितीय श्रेणी सामान्य यात्री प्रतीक्षालय नहीं है। जुलाई 2019 को दमोह स्टेशन का निरीक्षण करने आए तत्कालीन डीआरएम एके सिंह के समक्ष रेल समिति द्वारा इस बात को उठाया गया था, जिसके चलते डीआरएम ने अधिकारियों ने आरक्षण केंद्र के बाजू से रेनबसेरा बनाने के निर्देश दिए थे।

अधिकारियों द्वारा रेन बसेरा के लिए टेंडर की प्रक्रिया शुरू हो गई थी। साथ ही नक्शा भी पास हो गया था। फरवरी माह में रेन बसेरा का काम भी चालू होने वाला था। लेकिन वर्तमान डीआरएम संजय विश्वास जब बीते माह दमोह स्टेशन का जायजा लेने आए तो उन्होंने यहां पर प्रस्तावित रेन बसेरा को कैंसिल कर साइकिल स्टैंड बनाने के निर्देश दिए थे। जिसके बाद अधिकारियों ने पूर्व से संचालित साइकिल स्टैंड को रेनबसेरा की जगह शिफ्ट कर दिया है। दमोह रेलवे स्टेशन पर रोजाना दस हजार से अधिक लोग आना-जाना लगा रहता है। ऐसे में रोजाना 500 से अधिक यात्री स्टेशन परिसर के बाहर ही खुले में परिवार के साथ बैठने मजबूर रहते हैं।

जोन समिति की बैठक में उठाया था मुद्दा: बीते माह जनवरी में जबलपुर में पश्चिम मध्य रेल जाेन की सलाकार समिति की बैठक हुई थी। जिसमें दमोह से केंद्रीय मंत्री मंत्री के प्रतिनिधि एवं समिति सदस्य आलोक गोस्वामी भी शामिल हुए थे। उस दौरान उन्होंने जीएम के समक्ष रेनबसेरा के मुद्दे को उठाया था और कहा था कि जहां पर रेनबसेरा प्रस्तावित है, वहीं पर बनाया जाए, जिस पर जीएम ने आश्वासन भी दिया था, लेकिन रेलवे अधिकारियों ने इस पर कोई विचार नहीं कया। इस मामले को लेकर अब रेल सुधार संघर्ष समिति के सदस्य प्रांजल चौहान, सुरेंद्र दवे छोटू ने रेल मंत्री को पत्र लिखा है और यात्रियों की सुविधा को देखते हुए रेनबसेरा बनाने की मांग की है। वहीं रेल सलाहकारी समिति के सदस्य आलोक गोस्वामी ने कहा कि न्यायालय में जनहित याचिका दर्ज कराएंगे साथ ही रेलमंत्री से शिकायत की जाएगी। इस मामले में रेलवे के अधिकारियों ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया।

मैं पता करता हूं


दमाेह। अारक्षण केंद्र के बाजू से जहां से जहां रेन बसेरा बनना था, जहां अब साइकिल स्टैंड काे शिफ्ट करा दिया है।

X
Damoh News - mp news rain shelters were to be built became a bicycle stand

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना