चांदी के विमान में सवार होकर निकले श्रीजी, श्रद्धालुओं ने खींचा

Damoh News - दस दिनों तक चलने वाले जैन पर्युषण पर्व के समापन पर शुक्रवार को शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली गई, जिसमें चांदी के...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:10 AM IST
Damoh News - mp news shreeji exited in a silver plane devotees pulled
दस दिनों तक चलने वाले जैन पर्युषण पर्व के समापन पर शुक्रवार को शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली गई, जिसमें चांदी के विमान में श्रीजी सवार होकर निकले। इस बीच युवतियों की बैंड पार्टी ने धूम मचा दी, महिला व युवतियों सहित बच्चे ने भी जमकर नृत्य किया।

इससे पहले सिटीनल से शोभायात्रा प्रारंभ हुई जो पुराना थाना, बकौली चौक, घंटाघर चौराहा, राय चौराहा होते हुए पलंदी चौराहा के पास नसिया जी मंदिर पहुंची। जहां विभिन्न आयोजनों के साथ श्री जी का पूजन अभिषेक किया गया। शोभायात्रा का रास्ते में जगह जगह रंगोली सजाकर तथा श्रीजी की आरती करके स्वागत अगवानी की गई। वहीं शोभायात्रा में शामिल लोगों का जगह जगह स्वागत अभिनंदन का दौर चलता रहा। इस दौरान लोग एक दूसरे से उत्तम क्षमा बोलकर 10 लक्षण पर्व का समापन करते नजर आए।

शोभायात्रा में सबसे आगे दो अश्व चल रहे थे जिन पर सवार श्रद्धालु धर्मध्वजा लहरा रहे थे। इनके पीछे एक एक कर 10 बग्घियों चल रही थीं जिन पर पात्र सवार थे। पीछे डीजे बैंड की धुन पर श्रद्धालु थिरकते हुए चल रहे थे। शोभायात्रा में आकर्षण का केंद्र बडा़ मंदिर जैन जागृति मंडल था जिसके युवा सदस्य बैंड बजा रहे थे इसमें बालक सहित युवतियां भी बैंड बाजे बजा रहीं थीं। विमान को श्रद्धालु हाथों से खींच रहे थे वहीं पालकी को कांधों पर ले जा रहे थे। शोभायात्रा के नसिया जी प्रांगण पहुंचने पर चांदी के विमान से श्रीजी को पांडुक शिला पर विराजमान किया गया व श्रावक श्रेष्ठी जनों द्वारा श्रीजी का अभिषेक शांतिधारा पूजन करके तथा समाज जनों ने उनके भाव की अनुमोदना करके धर्म लाभ लिया। इस मौके पर ब्रह्मचारी संजू भैया कटंगी और मुकेश शास्त्री जी के प्रवचन के माध्यम से भी सभी को धर्म लाभ अर्जित हुआ।

इस मौके पर सकल जैन समाज की मौजूदगी रही। कार्यक्रम में डॉ सुधा मलैया, नगर पालिका अध्यक्ष मालती असाटी, कुंडलपुर कमेटी के अध्यक्ष संतोष सिंघई, उपाध्यक्ष देवेंद्र सेठ, जैन पंचायत के अध्यक्ष सुधीर सिंघई सहित अन्य पदाधिकारी तथा जैन समाज की विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारी प्रतिनिधियों की मौजूदगी रही। कार्यक्रम के बाद वापस शोभा यात्रा नसिया जी से प्रारंभ होकर घंटाघर से नया बाजार पलंदी मंदिर जैन धर्मशाला चौधरी मंदिर बड़ा जैन मंदिर होते हुए सिटी नल पहुंचकर संपन्न हुई। इस मौके पर शहर के विभिन्न मंदिर समितियों की झांकियां तथा बैंड दल आकर्षण का केंद्र रही। घंटाघर से धगट चौराहा सिटीनल पहुंचने वाले मार्ग पर 10 से ज्यादा स्वागत द्वार लगाए गए थे और लोगों ने अपने द्वार पर सड़कों पर आकर्षक रंगोली सजाई थीं।

दमाेह। शाेभायात्रा में पालकी काे कांधाे पर लेकर जाते भक्त।

भास्कर संवाददाता। दमोह

दस दिनों तक चलने वाले जैन पर्युषण पर्व के समापन पर शुक्रवार को शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली गई, जिसमें चांदी के विमान में श्रीजी सवार होकर निकले। इस बीच युवतियों की बैंड पार्टी ने धूम मचा दी, महिला व युवतियों सहित बच्चे ने भी जमकर नृत्य किया।

इससे पहले सिटीनल से शोभायात्रा प्रारंभ हुई जो पुराना थाना, बकौली चौक, घंटाघर चौराहा, राय चौराहा होते हुए पलंदी चौराहा के पास नसिया जी मंदिर पहुंची। जहां विभिन्न आयोजनों के साथ श्री जी का पूजन अभिषेक किया गया। शोभायात्रा का रास्ते में जगह जगह रंगोली सजाकर तथा श्रीजी की आरती करके स्वागत अगवानी की गई। वहीं शोभायात्रा में शामिल लोगों का जगह जगह स्वागत अभिनंदन का दौर चलता रहा। इस दौरान लोग एक दूसरे से उत्तम क्षमा बोलकर 10 लक्षण पर्व का समापन करते नजर आए।

शोभायात्रा में सबसे आगे दो अश्व चल रहे थे जिन पर सवार श्रद्धालु धर्मध्वजा लहरा रहे थे। इनके पीछे एक एक कर 10 बग्घियों चल रही थीं जिन पर पात्र सवार थे। पीछे डीजे बैंड की धुन पर श्रद्धालु थिरकते हुए चल रहे थे। शोभायात्रा में आकर्षण का केंद्र बडा़ मंदिर जैन जागृति मंडल था जिसके युवा सदस्य बैंड बजा रहे थे इसमें बालक सहित युवतियां भी बैंड बाजे बजा रहीं थीं। विमान को श्रद्धालु हाथों से खींच रहे थे वहीं पालकी को कांधों पर ले जा रहे थे। शोभायात्रा के नसिया जी प्रांगण पहुंचने पर चांदी के विमान से श्रीजी को पांडुक शिला पर विराजमान किया गया व श्रावक श्रेष्ठी जनों द्वारा श्रीजी का अभिषेक शांतिधारा पूजन करके तथा समाज जनों ने उनके भाव की अनुमोदना करके धर्म लाभ लिया। इस मौके पर ब्रह्मचारी संजू भैया कटंगी और मुकेश शास्त्री जी के प्रवचन के माध्यम से भी सभी को धर्म लाभ अर्जित हुआ।

इस मौके पर सकल जैन समाज की मौजूदगी रही। कार्यक्रम में डॉ सुधा मलैया, नगर पालिका अध्यक्ष मालती असाटी, कुंडलपुर कमेटी के अध्यक्ष संतोष सिंघई, उपाध्यक्ष देवेंद्र सेठ, जैन पंचायत के अध्यक्ष सुधीर सिंघई सहित अन्य पदाधिकारी तथा जैन समाज की विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारी प्रतिनिधियों की मौजूदगी रही। कार्यक्रम के बाद वापस शोभा यात्रा नसिया जी से प्रारंभ होकर घंटाघर से नया बाजार पलंदी मंदिर जैन धर्मशाला चौधरी मंदिर बड़ा जैन मंदिर होते हुए सिटी नल पहुंचकर संपन्न हुई। इस मौके पर शहर के विभिन्न मंदिर समितियों की झांकियां तथा बैंड दल आकर्षण का केंद्र रही। घंटाघर से धगट चौराहा सिटीनल पहुंचने वाले मार्ग पर 10 से ज्यादा स्वागत द्वार लगाए गए थे और लोगों ने अपने द्वार पर सड़कों पर आकर्षक रंगोली सजाई थीं।

दमाेह। शाेभायात्रा में युवाअाें बालकाें के साथ युवतियां भी बैंड बजा रहीं थीं।

चांदी के विमान में निकली भगवान की शोभायात्रा, जैन मंदिरों में अभिषेक पूजन के साथ हुई शांतिधारा, जगह-जगह हुआ स्वागत

तेंदूखेड़ा/हटा/जबेरा/बटियागढ़

पर्युषण पर्व के समापन पर शुक्रवार को जिलेभर में भगवान श्रीजी की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। जिले के तेंदूखेड़ा, हटा, जबेरा, बटियागढ़, पथरिया, पटेरा, हिंडोरिया, खड़ेरी, कुम्हारी, बनवार अंचल में धूमधाम के साथ शोभायात्रा निकाली गई।

तेंदूखेड़ा नगर में सुबह से तीनों दिगंबर जैन मंदिरों में भगवान का अभिषेक पूजन के अलावा शांतिधारा की गई। साथ ही भगवान का जल बिहार हुआ। इसके बाद दोपहर एक बजे से बैंड बाजे के साथ भगवान श्रीजी की शोभायात्रा निकाली गई। इस दौरान घरों के सामने सुंदर रंगोली सजाई गई। जगह-जगह स्वागत किया गया। युवा ध्वज पताका लेकर जय घोष के नारे लगाते हुए एवं नाचते हुए शोभा यात्रा मे चल रहे थे।। शोभा यात्रा मुख्य मार्गो से होते हुए भगवान श्री शांतिनाथ जी की मंदिर पहुंची। इसके बाद चैत्यालय जी पहुंची, फिर पुनः नगर के पंचायती मंदिर पहुंची जहां पर भगवान पुनः विधि विधान पूजन कर समापन हुआ। एक दिन पूर्व गुरूवार को सुबह से पूजन अभिषेक, शांतिधारा, दोपहर में जलाभिषेक भगवान का हुआ।

जबेरा। जबेरा जनपद के जबेरा, सिंग्रामपुर, बनवार, सगरा, परस्वाहा गांव में भगवान श्रीजी की शोभायात्रा निकाली गई। इस दौरान सकल जैन समाज की महिलाएं व पुरूष बड़ी संख्या में शामिल हुए। जगह-जगह शोभायात्रा की आरती उतारी गई।

कुम्हारी: गुरुवार को चांदी के विमान पर नगर भ्रमण कर श्रीजी की पालकी निकाली गई। दिगंबर जैन समाज द्वारा दशलक्षण विधान का विसर्जन कर श्रीजी की शोभायात्रा नगर के प्रमुख मार्गो से निकाली। सामाजिक लोगों ने बताया कि जैन परम्परा के अनुसार आत्मशुद्धि के दश धर्म बताए गए है।

बटियागढ़ में झूमकर नाचे श्रद्धालू

शुक्रवार को बटियागढ़ में गाजे-बाजे के साथ श्रीजी की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। जिसका शुभारंभ पारसनाथ मंदिर से होते हुए गांव के मुख्य मार्ग से यात्रा होते हुए चैत्यालय में वंदना करने के बाद पुनः यात्रा का समापन मंदिर में किया गया। इस दौरान युवा डीजे की धुन पर थिरक रहे थे। इस दौरान बृजेंद्र सिंह सहित अन्य लोग भी पहुंचे।

खड़ेरी: गांव में पर्यूषण पर्व पर शोभायात्रा निकाली गई। इस दौरान जैन समाज के लोगों ने घर-घर रंगोली सजाई। जगह-जगह शोभायात्रा का स्वागत किया गया। भगवान श्रीजी को पालकी में विराजमान कर मुख्य मार्गों से होते हुए पुन: मंदिर ले जाया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए।

Damoh News - mp news shreeji exited in a silver plane devotees pulled
Damoh News - mp news shreeji exited in a silver plane devotees pulled
Damoh News - mp news shreeji exited in a silver plane devotees pulled
X
Damoh News - mp news shreeji exited in a silver plane devotees pulled
Damoh News - mp news shreeji exited in a silver plane devotees pulled
Damoh News - mp news shreeji exited in a silver plane devotees pulled
Damoh News - mp news shreeji exited in a silver plane devotees pulled
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना