• Hindi News
  • Rajya
  • Madhya Pradesh
  • Damoh
  • Damoh News mp news three days ago the forester fell from the bridge half a kilometer away the dead body found in the roots of the tree handed over to the family

तीन दिन पहले पुल से गिरा था वनपाल, आधा किमी दूर पेड़ की जड़ों में फंसा मिला शव, परिजनों के सुपुर्द किया

Damoh News - जिले के तेजगढ़ गांव से निकली गौरैया नदी का पुल पार करते नदी में बहे वनपाल का शव तीन दिन बाद खोज लिया गया। शव नदी...

Bhaskar News Network

Sep 16, 2019, 07:11 AM IST
Damoh News - mp news three days ago the forester fell from the bridge half a kilometer away the dead body found in the roots of the tree handed over to the family
जिले के तेजगढ़ गांव से निकली गौरैया नदी का पुल पार करते नदी में बहे वनपाल का शव तीन दिन बाद खोज लिया गया। शव नदी किनारे लगे पेड़ों के झुरमुट की जड़ों में फंसा हुआ था। हालांकि एसडीआरएफ की टीम ने गहराई में जाकर शव तलाशने का प्रयास किया था। पुलिस ने शव का पीएम कराने के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया। इधर शव मिलने के बाद पुलिस, वन विभाग और स्थानीय लोगों ने राहत की सांस ली। पिछले तीन दिन से यहां पर अधिकारियों का जमघट लगा हुआ था।

गौरतलब है कि कंसाघाट बीट में पदस्थ वनपाल पन्नालाल आदिवासी 55 शुक्रवार की शाम करीब 6 बजे अपनी बाइक से गौरेया नदी से पुल पार कर रहे थे। इस बीच वे पुल से नीचे गिर गए थे। काफी खोजबीन के बाद उनका कोई पता नहीं चला।

इस दौरान आपदा प्रबंधन टीम, होमगार्ड के बचाव दल व स्थानीय गोताखोरों द्वारा शुक्रवार की रात से ही वनपाल की खोजबीन की जाती रही। े तेज बहाव के बावजूद भी गोताखोर नदी की गहराई में खोजबीन करते रहे, जबकि अन्य सदस्यों ने वोट से करीब 20 किमी क्षेत्र में खाक छानी। इस दौरान रेंजर इंद्रमणी मिश्रा, थाना प्रभारी केके तिवारी, आपदा प्रबंधन प्रभारी प्राची दुबे, रजनी खटीक टीम को निर्देश देती रहीं। लेकिन शनिवार की शाम तक कोई पता नहीं चला। रविवार की सुबह पुन: रेस्क्यू टीम ने अपना अभियान शुरू किया। करीब 10 बजे वनपाल का शव तेजगढ़ पुल से आधा किमी दूर चकराघाट के पास एक पेड़ों की झुरमुटों में फंसा मिला। पुलिस ने पंचनामा तैयार कर शव तेंदूखेड़ा पीएम के लिए भेजा। इसके बाद परिजनों को सौंप दिया। रविवार की देर शाम दमोह में उनका अंतिम संस्कार किया गया।

गहराई में जाकर तलाशा, तब मिला शव

लगातार दो दिनों से नदी के 20 किमी क्षेत्र की खाक छानने के बाद जब वनपाल के शव का कोई पता नहीं चला तब जबलपुर से एसडीआरएफ की टीम बुलाई गई। टीम द्वारा रविवार की सुबह लाइट युक्त विशेष मास्क लगाकर गहराई में जाकर तलाश शुरू की गई। इस दौरान स्थानीय गोताखोर वीरन रैकवार को पेड़ के नीचे जड़ों में शव फंसा नजर आया। जिसके बाद पूरी टीम शव निकालकर बाहर ले आई। शव को जैसे ही नदी के बाहर निकाला गया तो मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई। रेंजर इंद्रमणी मिश्रा ने बताया कि शव को तलाशने में सभी की भूमिका है। वन विभाग का पूरा अमला शव की खोजबीन में जुटा रहा। इस संबंध में एसडीओ एसएस धुर्वे ने बताया कि ऐसी स्थिति में अनुकंपा नियुक्ति का प्रावधान है। यह प्रक्रिया आगे बढ़ाई जाएगी।

भास्कर संवाददाता | दमोह

जिले के तेजगढ़ गांव से निकली गौरैया नदी का पुल पार करते नदी में बहे वनपाल का शव तीन दिन बाद खोज लिया गया। शव नदी किनारे लगे पेड़ों के झुरमुट की जड़ों में फंसा हुआ था। हालांकि एसडीआरएफ की टीम ने गहराई में जाकर शव तलाशने का प्रयास किया था। पुलिस ने शव का पीएम कराने के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया। इधर शव मिलने के बाद पुलिस, वन विभाग और स्थानीय लोगों ने राहत की सांस ली। पिछले तीन दिन से यहां पर अधिकारियों का जमघट लगा हुआ था।

गौरतलब है कि कंसाघाट बीट में पदस्थ वनपाल पन्नालाल आदिवासी 55 शुक्रवार की शाम करीब 6 बजे अपनी बाइक से गौरेया नदी से पुल पार कर रहे थे। इस बीच वे पुल से नीचे गिर गए थे। काफी खोजबीन के बाद उनका कोई पता नहीं चला।

इस दौरान आपदा प्रबंधन टीम, होमगार्ड के बचाव दल व स्थानीय गोताखोरों द्वारा शुक्रवार की रात से ही वनपाल की खोजबीन की जाती रही। े तेज बहाव के बावजूद भी गोताखोर नदी की गहराई में खोजबीन करते रहे, जबकि अन्य सदस्यों ने वोट से करीब 20 किमी क्षेत्र में खाक छानी। इस दौरान रेंजर इंद्रमणी मिश्रा, थाना प्रभारी केके तिवारी, आपदा प्रबंधन प्रभारी प्राची दुबे, रजनी खटीक टीम को निर्देश देती रहीं। लेकिन शनिवार की शाम तक कोई पता नहीं चला। रविवार की सुबह पुन: रेस्क्यू टीम ने अपना अभियान शुरू किया। करीब 10 बजे वनपाल का शव तेजगढ़ पुल से आधा किमी दूर चकराघाट के पास एक पेड़ों की झुरमुटों में फंसा मिला। पुलिस ने पंचनामा तैयार कर शव तेंदूखेड़ा पीएम के लिए भेजा। इसके बाद परिजनों को सौंप दिया। रविवार की देर शाम दमोह में उनका अंतिम संस्कार किया गया।

गोताखेर वीरन की महत्वपूर्ण भूमिका


हटा : संदिग्ध अवस्था में मिला युवक का शव, पुलिस जांच में जुटी

भास्कर संवाददाता | हटा

रविवार की सुबह सड़क हरदुआ गांव में एक युवक का शव संदिग्धावस्था में मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच की। जानकारी के अनुसार सड़क हरदुआ निवासी र|ेश पिता पूरन बंसल 21 रविवार की सुबह खेत में काम करने गया था, लेकिन दोपहर में खाना खाने नहीं आया। जिसके बाद उसके पिता पूरन उसने देखने खेत गए, तो वहां र|ेश मृत अवस्था में पड़ा था। जिसकी सूचना उन्होंने पुलिस को दी।

तत्काल ही एसडीओपी सरिता उपाध्याय, टीआई विजय मिश्रा, एसएसएल टीम मौके पर पहुंची। इसके बाद शव का पंचनामा बनाकर पीएम के लिए हटा अस्पताल भिजवाया गया। थाना प्रभारी विजय मिश्रा का कहना है कि युवक का शव खेत में पड़ा मिला है। पीएम रिपोर्ट के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में लिया है।

Damoh News - mp news three days ago the forester fell from the bridge half a kilometer away the dead body found in the roots of the tree handed over to the family
X
Damoh News - mp news three days ago the forester fell from the bridge half a kilometer away the dead body found in the roots of the tree handed over to the family
Damoh News - mp news three days ago the forester fell from the bridge half a kilometer away the dead body found in the roots of the tree handed over to the family
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना