पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Futerikalan,Batiyagarh,Kumhari News Platform Will Be Increased By 500 Meters At Sagoni Station Feet Will Be Overbridge

सगौनी स्टेशन पर 500 मीटर बढ़ेगा प्लेटफॉर्म, फुट ओवरब्रिज बनेगा

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दमोह-कटनी रेलखंड के बीच सगौनी रेलवे स्टेशन पर आने वाले यात्रियों को अब आगामी समय में एक साथ कई सुविधाएं मिलेगी। जहां हाइलेबल प्लेटफार्म के साथ नया स्टेशन भवन, टिकट काउंटर, यात्री प्रतीक्षालय बनाया जाएगा। इसके साथ ही एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर आने-जाने के लिए फुट ओवर ब्रिज भी बनाया जाएगा।

यात्री सुविधाएं बढ़ने से आसपास के सौ से अधिक गांव के हजारों लोगों को राहत मिलेगी। सबसे महत्वपूर्ण बात तो यह है कि 40 साल पुरानी जर्जर बिल्डिंग की जगह यात्रियों को सर्वसुविधायुक्त नए स्टेशन भवन बनेगा। जिसकी शुरूआत भी हो गई है। एजेंसी द्वारा पिलर बनाए जा रहे हैं।

दरअसल रेलवे द्वारा सगौनी रेलवे स्टेशन को मॉडल स्टेशन का दर्जा दिया गया है। जिसके चलते यात्री सुविधाआंें में विस्तार किया जा रहा है। रेलवे स्टेशन के दोनों प्लेटफार्म की लंबाई भी 500 मीटर बढ़ाई जाएगी।

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यात्रियों को एक प्लेटफार्म से लेकर दूसरे प्लेटफार्म आने-जाने के लिए फुट ओवर ब्रिज भी बनेगा। जिसकी मांग कई वर्षों से चल रही है। गौरतलब है कि इस स्टेशन पर यात्री सुविधाएं बढ़ाने की मांग करीब 30 साल से चल रही है, लेकिन रेलवे द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा था। यात्रियों की इस प्रमुख समस्या को लेकर भास्कर द्वारा बीते साल प्रमुखता के साथ खबर प्रकाशित की गई थी। जिसके कारण रेलवे द्वारा इस दमोह-कटनी रेलखंड के सगौनी व सलैया रेलवे स्टेशन काे मॉडल स्टेशन का दर्जा दिया गया था। साथ ही दोनों स्टेशनों के कायाकल्प के लिए 10 करोड़ की राशि भी स्वीकृत की थी। जिसका काम अब चालू हो गया है।

फुट ओवर ब्रिज बनने से हादसों पर लगेगा अंकुश
सगौनी रेलवे स्टेशन पर दो प्लेटफार्म हैं, जिन्हें जिन्हें जोड़ने के लिए ओवरब्रिज नहीं है। ऐसे में यात्रियों को मजबूरी रेलवे पटरियां पार कर एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर आना-जाना पड़ता है। जबकि इस इस रेलखंड पर हर एक घंटे में 5 से 8 मालगाड़ी निकलतीं हैं। ऐसे में यहां पर यात्रियों की जान को हर समय खतरा बना रहता है। इसके साथ आए दिन दोनों प्लेटफार्म के बीच में कोई मालगाड़ी आकर खड़ी हो जाती है तो यात्रियों को ट्रेन के नीचे से होकर निकलना पड़ता है। इसके साथ ही फुट ओवर ब्रिज न होने से एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर जाने के लिए पटरियां पार करनी पड़ती हैं। जिससे यहां पर आए दिन हादसे भी घटित होते रहते हैं।

सबसे ज्यादा परेशानी गर्भवती महिलाओं को पटरियों से के उपर से आने-जाने में होती है। साथ ही यदि कोई ट्रेन अचानक आ जाती है तो हादसों की आशंका भी बनी रहती है। अपडाउन करने वाले यात्री दीपक पटेल, हेमराज ठाकुर ने बताया कि वह प्रतिदिन अपने व्यापार से दमोह कटनी आते-जाते हैं।

कई लोग हो चुके हैं हादसों का शिकार
कई बार स्टेशन पर पहंुचते ही प्लेटफार्म नंबर दो पर ट्रेन आकर खड़ी हो जाती है। जिससे जल्दबाजी में पटरी पार करने से हादसे का शिकार हो चुके हैं।

स्टेशन प्रबंधक महेश मीणा ने कहा मॉडल स्टेशन का काम शुरू हो गया है। काम पूरा होते ही यात्रियों को अच्छी से अच्छी सुविधाएं मिलने लगेंगी।

26 कोच की ट्रेन खड़़ी हो सकेगी

सगौनी स्टेशन पर हाइेबल प्लेटफॉर्म बनाए जाएंगे। जिनकी लंबाई 500-500 मीटर रहेगी। इतनी ही लंबाई प्लेटफार्म नंबर 2 पर भी रहेगी। जिससे दोनों स्टेशनों पर 26 कोच की ट्रेन खड़ी हो सकेंगी। प्लेटफार्म की ऊंचाई बढ़ने से यात्रियों को ट्रेन में चढ़ने व उतरने में असानी होगी। अभी तक यात्रियों को जमीन में ही खड़े होकर ट्रेन में चढ़ना-उतरना पड़ता है। कई बार भीड़ अधिक होने के कारण यात्री ट्रेन में चढ़ नहीं पाते या फिर उतर नहीं पाते। सबसे ज्यादा महिला यात्रियों को बोगी में चढ़ने व उतरने में परेशानी होती है। बीते साल ट्रेन से उतरते समय एक गर्भवती महिला भी नीचे गिर गई थी। जिसकी जान बाल-बाल बची थी। इसके पूर्व भी कई हादसे हो चुके हैं।

खबरें और भी हैं...