दतिया

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Datia News
  • कृषि योजनाओं में गड़बड़ी करने पर उप संचालक को अनिवार्य सेवानिवृत्ति
--Advertisement--

कृषि योजनाओं में गड़बड़ी करने पर उप संचालक को अनिवार्य सेवानिवृत्ति

वर्ष 2013-14 में सतना में उप संचालक रहते की थी गड़बड़ी भास्कर संवाददाता | दतिया कृषि विभाग में उप संचालक के पद पर...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:35 AM IST
वर्ष 2013-14 में सतना में उप संचालक रहते की थी गड़बड़ी

भास्कर संवाददाता | दतिया

कृषि विभाग में उप संचालक के पद पर पदस्थ एसके शर्मा ने प्रदेश के सतना जिले में उप संचालक रहते हुए कृषि योजनाओं में गड़बड़ी की। जांच में गड़बड़ी सही पाई गई। जिस पर मप्र शासन किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग विभाग अपर सचिव बबीता वसुनिया ने श्री शर्मा को अनिवार्य सेवानिवृत्ति के आदेश जारी किए हैं। यह आदेश बुधवार को जारी किया गया। वहीं सतना में शर्मा के साथ वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी विकासखंड उचेहरा में पदस्थ रहे गंगासिंह को सेवानिवृत्ति पश्चात की पेंशन कटौती के आदेश जारी हुए हैं।

आदेश में बताया कि सतना के तत्कालीन एवं दतिया के वर्तमान उप संचालक एसके शर्मा और वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी उचेहरा गंगासिंह के खिलाफ लोकायुक्त कार्यालय में शिकायत की गई थी। शिकायत की जांच कराने पर उक्त दोनों अधिकारियों के विरुद्ध अनियमितताएं पाई गईं और अनियमितताओं के लिए विभागीय पत्र 27 सितंबर 2016 द्वारा आरोप पत्र जारी किए गए हैं। एक अन्य विभागीय जांच में श्री शर्मा के सतना में तैनात रहने के दौरान की गई अनियमितताओं के लिए दो वेतन वृद्धियां रोकने का दंड मिला। शासन ने श्री शर्मा और श्री सिंह द्वारा की गई अनियमितताओं को सिविल सेवा आचरण अधिनियम के तहत दोषी माना। विभागीय जांच के प्रकरण में श्री शर्मा पर 10 आरोपों में से एक प्रमाणित एवं शेष आरोप आंशिक रूप से प्रमाणित पाए गए।

इन योजनाओं में की गड़बड़ी

उप संचालक शर्मा और सतना के उचेहरा वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी गंगा सिंह ने रबी वर्ष 2013-14 में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन गेहूं अंतर्गत कृषकों के यहां आयोजित फसल प्रदर्शन, ए-3-पी योजना के तहत मसूर फसल प्रदर्शन 100 हेक्टेयर आयोजन, अतिरिक्त दलहन कार्यक्रम चना क्लस्टर प्रदर्शन, जिंक सल्फेट वितरण, चना क्लस्टर प्रदर्शन, आईपीएम सामग्री वितरण, ए-3पी-चना प्रदर्शन, दलहन अतिरिक्त दलहन वितरण योजना के तहत पौध संरक्षण दवा वितरण में अनियमितता की।

X
Click to listen..