--Advertisement--

किराया सूची नहीं, वसूल रहे मनमाना किराया

भांडेर से भिंड, झांसी और दतिया की ओर जाने वाली बसों में किराया सूची चस्पा नहीं है। बस संचालक अपने फायदे के लिए...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:35 AM IST
किराया सूची नहीं, वसूल रहे मनमाना किराया
भांडेर से भिंड, झांसी और दतिया की ओर जाने वाली बसों में किराया सूची चस्पा नहीं है। बस संचालक अपने फायदे के लिए निर्धारित किराया से ज्यादा किराया वसूलने के लिए सूची वाहनों के अंदर और चस्पा नहीं करते हैं। त्योहारों के सीजन में बस संचालक यात्रियों से मनचाहा किराया वसूलते हैं। अगर कोई यात्री ज्यादा किराया देने में आना कानी करता है तो उसे रास्ते में उतार दिया जाता है या फिर अभद्रता की जाती है।

बता दें कि परिवहन विभाग ने सभी बस संचालकों को बैठकों में निर्देश दिए हैं कि वह अपनी बसाें पर किराया सूची लगाएं। इसके बावजूद भी बस ऑपरेटरों द्वारा नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है। वहीं बस कंडेक्टर द्वारा यात्रियों से मनमाना किराया वसूल रहे हैं। यदि कोई विरोध करता है, तो लड़ने तक के लिए तैयार हो जाते हैं। जिसकी वजह से यात्रियों को मजबूर होकर अधिक पैसा देना पड़ता है। यही नहीं बस संचालकों ने परिवहन विभाग द्वारा जारी किए गए आदेश को बसों के अंदर और बाहर चस्पा नहीं किया है।

अगर किसी विकलांग यात्री को इस आदेश के बारे में पता है और वह कंडक्टर से पचास प्रतिशत किराया देता है तो उसे रास्ते में उतार दिया जाता है। मजबूरन विकलांग को पूरा किराया देना पड़ता है। ऐसा सभी यात्री बसों में हो रहा है। यात्री वाहनों की नियमित चैकिंग न होने से वाहन चालक मनमानी कर रहे हैं। हाईवे सड़क पर दौड़ रही प्राईवेट बसों के चालक परिचालक नियमों को अनदेखी कर रहे हैं। इन प्राईवेट बसों के कंडक्टर पूरी तरह अपनी मनमानी पर उतारू हैं। हाईवे सड़क पर प्रतिदिन समथर, दबोह, भांडेर, लहार, झांसी, दतिया, ग्वालियर, सेंवढ़ा, डबरा आदि स्थानों के लिए बसों का आवागमन होता है। क्षेत्र के लोगों ने बस संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

मनमानी

ग्रामीण रूटों पर चलने वाले वाहनों के संचालक कर रहे मनमानी

बसों में किराया सूची नहीं होने के कारण वसूल रहे मनमाना किराया।

सभी बस संचालकों को किराया सूची लगाने के दिए हैं निर्देश


X
किराया सूची नहीं, वसूल रहे मनमाना किराया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..