नौ माह में बनकर तैयार होना था फोरलेन बायपास मार्च में समय सीमा खत्म, सिर्फ 25% ही काम पूरा

Datia News - सेंवढ़ा चुंगी से कलापुरम तक बन रहा बायपास अधूरा। छह महीने से बिना समय सीमा बढ़े चल रहा काम बायपास निर्माण की...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:11 AM IST
Datia News - mp news fourlane bypass to be ready in nine months deadline ends in march only 25 completed
सेंवढ़ा चुंगी से कलापुरम तक बन रहा बायपास अधूरा।

छह महीने से बिना समय सीमा बढ़े चल रहा काम

बायपास निर्माण की समय सीमा 28 मार्च को खत्म होने के बाद समय सीमा अब तक नहीं बढ़ी है और पिछले छह महीने से निर्माण कार्य बिन समय सीमा बढ़े चल रहा है। हालांकि ठेकेदार ने एमपीआरडीसी अधिकारियों को नौ महीने की समय सीमा और बढ़ाने के लिए लिखा। विभाग के स्थानीय अधिकारियों ने एक महीने पहले शासन को नौ महीने की समय सीमा बढ़ाने के लिए लिखा था लेकिन अब तक शासन ने अनुमति नहीं दी। ठेकेदार बिना समय सीमा बढ़े काम कर रहा है।

सेंवढ़ा चुंगी से ग्वालियर-झांसी हाईवे तक बनाया जा रहा है फोन लेन बायपास

भास्कर संवाददाता | दतिया

शहर में सेंवढ़ा चुंगी से ग्वालियर-झांसी हाइवे तक बन रहे सबसे बड़े बायपास का निर्माण बहुत ही धीमी गति से चल रहा है। बायपास नौ महीने में बनकर तैयार होना था, मार्च महीने में बायपास निर्माण की समय सीमा खत्म हो गई। हैरानी कि अब तक महज 25 प्रतिशत ही काम पूरा हुआ है। विभागीय अधिकारियों ने समय सीमा बढ़ाने के लिए एक महीने पहले शासन को पत्र भी लिखा लेकिन मार्च से अब तक बिना समय सीमा बढ़े काम चल रहा है। जिस गति से काम चल रहा है उससे स्पष्ट है कि निर्माण कार्य एक साल के अंदर पूरा होना संभव नहीं है।

मप्र रोड डेवलपमेंट कार्पोरेशन (एमपीआरडीसी) द्वारा सेंवढ़ा चुंगी से भांडेर रोड, कृषि उपज मंडी के पीछे, उनाव रोड, हमीरपुर, डगरई होते हुए कलापुरम के आगे ग्वालियर-झांसी हाइवे तक सबसे बड़े 8 किमी लंबे बायपास का निर्माण कराया जा रहा है। यह बायपास 13 करोड़ 52 लाख की लागत से बनाया जा रहा है। निर्माण कार्य का ठेका भोपाल की राज लक्ष्मी देव बिल्डर्स नामक फर्म को मिला था। इसका निर्माण अगस्त 2018 में प्रारंभ हुआ था और 9 महीने में यानि 28 मार्च 2019 तक काम पूरा होना था। बायपास पर जहां जल भराव होता है वहां पुलियों का निर्माण कराया जाना था। लेकिन शुरुआत में भांडेर रोड पर अतिक्रमण की वजह से निर्माण कार्य में देरी हुई। कई जगह निजी जमीन होने के कारण मुआवजा राशि का वितरण होने के बाद काम शुरू हो सका।

निर्माण कार्य की समय सीमा महज नौ महीने थी लेकिन 13 महीने बाद भी निर्माण कार्य महज 25 प्रतिशत ही काम पूरा हो सका है। अब तक कंपनी ने दो पुलियों का निर्माण हमीरपुर रोड पर किया है जबकि 70 फीसदी हिस्से में मिट्टी बिछाई गई है। लाइट के खंबों की शिफ्टिंग की गई है। बायपास निर्माण के लिए हमीरपुर गांव की सड़क खोद दी गई है और पिछले पांच महीने से गांव के लोग खासी परेशानी का सामना कर रहे हैं।

बायपास से होगा फायदा

सेंवढ़ा, भांडेर और उनाव की तरफ से आने वाले भारी वाहन वर्तमान में साढ़े तीन किमी लंबे बस स्टैंड बायपास से निकल रहे हैं। यह बायपास पूरी तरह उखड़कर बड़े-बड़े गड्ढों में तब्दील हो गया है। आए दिन वाहन फंसने से जाम लग जाता है। जिसके चलते वाहनों को शहर के अंदर बने फोरलेन सड़क मार्ग से निकलना पड़ता है। यह बायपास एक साल से उखड़ा पड़ा है। सेंवढ़ा चुंगी से हाइवे तक के बीच बायपास बन जाने से सेंवढ़ा, भांडेर और उनाव रोड से आने वाले वाहन इस बड़े बायपास से सीधे निकल सकेंगे। जिससे बस स्टैंड बायपास और शहर के अंदर बने फोरलेन मार्ग पर वाहनों की आवाजाही बंद हो जाएगी। हादसों पर अंकुश लगेगा, जाम की समस्या भी खत्म होगी।

ठेकेदार से जल्द काम खत्म करने के लिए कहा है

बायपास का निर्माण अभी 25 प्रतिशत पूरा हुआ है। हमने समय सीमा बढ़ाने के लिए शासन को लिखा है लेकिन वहां से किसी तरह का जवाब नहीं आया। ठेकेदार से भी कहा है कि काम तेजी से करें और जल्द खत्म करें। पीके गुप्ता, डीवीजनल इंजीनियर, एमपीआरडीसी

X
Datia News - mp news fourlane bypass to be ready in nine months deadline ends in march only 25 completed
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना