• Hindi News
  • Mp
  • Datia
  • Datia News mp news the lover said to the husband on the phone your wife is with me and come and take her beat her husband in the bus

प्रेमी ने पति से फोन पर कहा- तेरी पत्नी मेरे पास है आकर ले जा, डबरा में पहुंचे पति को बस में पिटवाया

Datia News - ग्वालियर के किलागेट घासमंडी के पास निवासी 19 वर्षीय नवविवाहिता शनिवार को दोपहर 2 बजे के करीब ससुराल से जेवर समेटकर...

Oct 13, 2019, 07:11 AM IST
ग्वालियर के किलागेट घासमंडी के पास निवासी 19 वर्षीय नवविवाहिता शनिवार को दोपहर 2 बजे के करीब ससुराल से जेवर समेटकर अपने प्रेमी के साथ रफूचक्कर हो गई। रास्ते में प्रेमी ने नवविवाहिता के पति को फोन लगाकर बताया कि उसकी प|ी मेरे पास है और दतिया आकर ले जा। जब महिला का पति बस में बैठकर दतिया आ रहा था तभी प्रेमी के साथियों ने महिला के पति को बस में पिटवाया और नीचे फिंकवा दिया। जिससे वह घायल हो गया। घायल युवक ने डायल-100 और अपने परिजन को जानकारी दी। शाम 7 बजे दतिया आकर डायल-100 में बैठकर परिजन चिरूला में स्थित ढावा के सामने पहुंचे तो नवविवाहिता अपने प्रेमी के साथ खड़ी थी। पुलिस कर्मियों को देख प्रेमी खाई फांदकर भाग खड़ा हुआ। उसी खाई को फांदने के चक्कर में डायल-100 कर्मचारी भी घायल हो गए। महिला को कोतवाली लगाया गया है।

ग्वालियर के घासमंडी निवासी अर्जुन (बदला हुआ नाम) ने बताया कि उसका विवाह 9 फरवरी को झांसी के नयागांव निवासी रेखा (बदला हुआ नाम) के साथ सामूहिक विवाह सम्मेलन में हुआ था। उसने ने बताया कि दो महीने पहले रेखा बीमार हो गई तो मायके पक्ष के कहने पर वह अपनी प|ी को मायके छोड़ आया। दशहरा के दो दिन पहले ही वह रेखा को अपने घर लेकर आया। लेकिन रेखा ससुराल में रोजाना विवाद करती थी, जिससे वह काम पर नहीं गया। शनिवार को सुबह अर्जुन मजदूरी करने चला गया। घर पर रेखा के साथ जेठानी अकेली थी। दोपहर 2 बजे जब जेठानी छत पर काम कर रही थी तभी रेखा ने टीवी की आवाज तेज की और अलमारी में रखे अपने व जेठानी के तकरीबन 40 हजार कीमत के जेवर व पांच हजार रुपए लेकर अपने मायके में ही रहने वाले सत्येंद्र राय नामक प्रेमी के साथ बाइक से भाग खड़ी हुई। एक घंटे बाद सत्येंद्र ने अर्जुन को फोन कर बताया कि तुम्हारी प|ी मेरे साथ है और डबरा में आकर ले जाओ।

डबरा में बस के अंदर प्रेमी के साथियों ने पति से की मारपीट और बस से नीचे फेंक दिया

यह सुनकर अर्जुन बस में बैठकर डबरा पहुंचा। यहां घात लगाए खड़े प्रेमी सत्येंद्र के दोस्त उसी बस में चढ़ गए और उसके साथ मारपीट कर बस से नीचे फेंक दिया, जिससे वह घायल हो गया। इसके बाद अर्जुन ने परिजन को पूरी जानकारी दी। पीछे से परिजन भी डबरा पहुंच गए। डबरा से दतिया आते वक्त सत्येंद्र बार-बार अर्जुन को फोन लगाकर अपनी लोकेशन बता रहा था और रेखा को ले जाने के लिए कह रहा था।

प्रेमी बार-बार फोन कर अपनी लोकेशन बता रहा था, जैसे ही पुलिस को देखा, तो भाग गया



X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना