• Hindi News
  • Mp
  • Datia
  • Datia News mp news those employees who were never seen in the cleaning of the pond the reason the administrator is why you can go to the job anytime

तालाब की सफाई में लगाए वे कर्मचारी जो कभी दिखते नहीं थे, कारण: प्रशासक है इसलिए कभी भी जा सकती है नौकरी

Datia News - सीतासागर तालाब की सफाई में उन कर्मचारियों को जलकुंभी निकालने में लगाया गया है जो कभी भी मैदान में न तो सफाई कार्य...

Feb 22, 2020, 07:01 AM IST

सीतासागर तालाब की सफाई में उन कर्मचारियों को जलकुंभी निकालने में लगाया गया है जो कभी भी मैदान में न तो सफाई कार्य में दिखाई देते थे और न ही अन्य कार्यों में। केवल राजनीतिक पहुंच की दम पर ही घर बैठकर नगर पालिका से पूरी तनख्वाह लेते थे। लेकिन अब इन कर्मचारियों को अपनी नौकरी बचाना मुश्किल हो गया है।

इसका मुख्य कारण यह है कि नगर पालिका में जनप्रतिनिधियों का हस्तक्षेप खत्म हो गया है। जो प्रशासक कहते हैं वही होता है। नपा प्रशासक एवं कलेक्टर रोहित सिंह ने सीएमओ बाबूलाल कुशवाहा को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि अगर कोई जनप्रतिनिधि साफ सफाई या निकाय में किसी भी कार्य के लिए हस्तक्षेप करे तो हमें बताएं। कलेक्टर ने कहा कि हमें हर हालत में शहर के अंदर बदलाव चाहिए।

सीतासागर तालाब में जलकुंभी की सफाई का कार्य 18 फरवरी से शुरू हो गया है। तालाब में सफाई शुरू होने पर सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने प्रशासनिक अफसरों की आलोचना भी करी। सोशल मीडिया पर लोगों ने तरह-तरह की पोस्टें डालकर कहा कि तालाब कभी साफ नहीं होगा, आखिर तालाब को क्या समझ रखा है....और भी कई तरह की पोस्ट देखी गईं। लेकिन अब लोगों का सकारात्मक रवैया देखने को मिल रहा है। यहां तक कि सुबह माॅर्निंग वाॅक वॉक के लिए जाने वाले लोग भी इस अभियान में जुड़ रहे हैं। गुरुवार को नपा कर्मचारियों के साथ पीजी कॉलेज के एनसीसी कैडेट, समाज सेवियों और बुद्धजीवियों ने भी हिस्सा लिया था। शुक्रवार को नगर पालिका के वाटर बॉक्स के कर्मचारी पहुंचे। पेयजल सप्लाई कर्मचारियों ने तालाब से जलकुंभी निकाली, जबकि अन्य कर्मचारियों ने निकाली गई जलकुंभी को कचरा वाहन में डाला। प्रतिदिन 25 गाड़ी जलकुंभी निकालने का लक्ष्य नपा अफसरों ने निर्धारित किया है। सीएमओ कुशवाहा ने बताया कि उन्होंने घर बैठे तनख्वाह लेने की परंपरा को खत्म कर दिया है। अब जो भी काम नहीं करेगा उसकी अनुपस्थिति लगाकर वेतन काटेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि वे सभी कर्मचारियों को अंतिम सूचना पत्र जारी कर अवगत करा रहे हैं कि जो कर्मचारी नियमित काम पर नहीं आएगा उसका वेतन राजसात होगा।

सीतासागर तालाब मेें सफाई करते नगर पालिका के कर्मचारी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना