• Hindi News
  • Mp
  • Datia
  • Datia News mp news told the prisoners the art of living a better life with aids

कैदियों को बताई एड्स के साथ बेहतर जीवन जीने की कला

Datia News - बुखार आना, एक माह से दस्त लगना या फिर वजन कम होने पर जरुरी नहीं है कि व्यक्ति एड्स की बीमारी से ही पीड़ित है। एड्स की...

Dec 04, 2019, 08:12 AM IST
बुखार आना, एक माह से दस्त लगना या फिर वजन कम होने पर जरुरी नहीं है कि व्यक्ति एड्स की बीमारी से ही पीड़ित है। एड्स की बीमारी का सही पता खून के जांच के बाद ही लगता है। एड्स से बचाव का एक ही रास्ता है कि लोग इसकी जानकारी रखें। यह बात डॉ. अनूप प्रधान ने कही। वह मंगलवार को जिला जेल में विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में आयोजित एड्स जागरुकता कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

कार्यक्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव दिनेश खटीक से एड्स रोगी व उनके परिवार को मिलने वाली विभिन्न शासकीय योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्राधिकरण इसके लिए अभियान चला रहा है। बता दें कि मप्र राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा एड्स दिवस पर 2 दिसंबर से 6 दिसंबर तक अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत 2 दिसंबर को न्यायालय परिसर के एडीआर भवन में एड्स पर कार्यशाला का आयोजन किया गया था। मंगलवार को जिला जेल में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डॉ. प्रधान ने कहा कि एचआईवी संक्रमित अधिकांश लोगों में कई सालों तक बीमारी का कोइ्र्र लक्षण दिखाई नहीं देता पर आगे चलकर बीमारी के लक्षण प्रकट हो जाते है। डॉ. प्रधान ने एड्स रोगियों की गोपनीयता रखे जाने एवं अन्य बीमारियों की तरह एड्स रोग के साथ बेहतर जीवन जीने की कला के बारे में भी बताकर, जागरूक किया गया। कार्यक्रम में डॉ.केएम वरुण, शारलेट इन्हान बैरो, ममता नार्वे, पीएस बड़ेरिया, अंकिता शांडिल्य आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।

जिला जेल में एड्स जागरूकता पर कार्यक्रम को संबोधित करते अतिथि।

मेडीकल कॉलेज के चिकित्सक व छात्र 6 को निकालेंगे जागरुकता रैली

दतिया मेडिकल कॉलेज में भी बुधवार 4 दिसंबर से 6 दिसंबर तक तीन दिवसीय जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। 4 दिसंबर को एमबीबीएस के प्रथम वर्ष के छात्रों एड्स की जानकारी दी जाएगी। 5 दिसंबर को एड्स पर प्रश्नोत्तरी का होगा आयोजन व 6 दिसंबर को जागरुकता रैली निकाली जाएगी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना