देवरीकला

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Devrikala
  • महिला बोली - बदमाशों की प्रताड़ना के चलते उसके पति को झूठे मामले में फंसा कर जेल भिजवाया
--Advertisement--

महिला बोली - बदमाशों की प्रताड़ना के चलते उसके पति को झूठे मामले में फंसा कर जेल भिजवाया

भास्कर संवाददाता | देवरीकलां गांव बदमाशों के कारण एक गरीब महिला आदिवासी सरपंच परेशान हैं। बदमाशों की प्रताड़ना...

Dainik Bhaskar

Feb 20, 2018, 03:20 AM IST
महिला बोली - बदमाशों की प्रताड़ना के चलते उसके पति को झूठे मामले में फंसा कर जेल भिजवाया
भास्कर संवाददाता | देवरीकलां

गांव बदमाशों के कारण एक गरीब महिला आदिवासी सरपंच परेशान हैं। बदमाशों की प्रताड़ना के चलते कुछ दिन पूर्व उसके पति को एक झूठे मामले में फंसा कर जेल भिजवा दिया गया। इसके बाद उसके खिलाफ दबंग परिवारों के पंचों द्वारा अविश्वास प्रस्ताव की सूचना दी गई।

रविवार को सरपंच से उनकी पंचायत के पंच रघु द्वारा मोबाइल पर अश्लील बातचीत कर वोट के एवज में अस्मत की मांग की गई। इस मामले में पुलिस ने अपराध तो कायम कर लिया है लेकिन पंच की गिरफ्तारी राजनीतिक दबाव में नहीं की जा रही है। सोमवार को अनुभागीय अधिकारी देवरी के न्यायालय में अविश्वास प्रस्ताव की सूचना पर पंचों की उपस्थिति दर्ज की गई। जिसमें सात पंचों ने सरपंच के विरोध में अविश्वास प्रस्ताव के लिए शपथ पत्र प्रस्तुत किए, वहीं तीन पंचों ने सरपंच के पक्ष में शपथ पत्र प्रस्तुत किए। जिन पंचों द्वारा अविश्वास प्रस्ताव की सूचना दी गई जब उनसे पूछा गया कि सरपंच के विरोध में अविश्वास प्रस्ताव लाने की वजह क्या है तो वह नहीं बता पाए। कुछ महिला पंच यह कहती रहीं कि वह अपने आदमी से पूछ कर बताएंगी। वहीं महिला सरपंच श्रीमती राधिका आदिवासी ने कहां की वह गरीब हैं और मजदूरी करके उनके परिवार का भरण पोषण होता है। पिछले 3 सालों से उनकी पंचायत का काम गांव के दबंग लोग करा रहे हैं, उनके नाम से वह फर्जी हस्ताक्षर बनाकर पंचायत की राशि में गड़बड़ी कर रहे हैं। जिसका हम विरोध करते हैं तो वह हमें धमकाते हैं कि तुम्हें सरपंच पद से हटा देंगे। उन्होंने बताया कि गांव के दबंग लोगों के इशारे पर काम ना करने के कारण उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। उनके पति को झूठी रिपोर्ट करके रोजगार सहायक के द्वारा फंसाया गया। इसके बाद दबंग परिवारों की महिला पंच के माध्यम से अविश्वास प्रस्ताव लाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि गांव के दबंग लोग उन्हें धमका रहे हैं कि तुम्हें सरपंच पद से हटवा देंगे और गांव में नहीं रहने देंगे। ज्ञात होगा ग्राम पंचायत खामखेड़ा में आदिवासी महिला सरपंच श्रीमती राधिका द्वारा रविवार को गौरझामर पुलिस थाना में पंच रघु द्वारा अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन में वोटिंग करने के एवज में अस्मत की मांग किए जाने की खबर के बाद सुर्खियों सुर्खियों में हैं।

बदमाशों से परेशान महिला सरपंच; अविश्वास मामले में वोट करने के लिए पंच ने मांगी अस्मत

Ãग्राम पंचायत खामखेड़ा की सरपंच के विरोध और समर्थन में पंचों ने उपस्थिति दर्ज कराई है जिसकी जांच की जा रही है। इसके बाद अविश्वास प्रस्ताव के लिए सम्मेलन की तिथि निर्धारित की जाएगी। -राकेश मोहन त्रिपाठी, एसडीएम देवरी

X
महिला बोली - बदमाशों की प्रताड़ना के चलते उसके पति को झूठे मामले में फंसा कर जेल भिजवाया
Click to listen..