पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Kannod News Mp News 10 Days Of Rain After 7 Days In Dewas Children Trapped Due To Storm Surge In Chaubaradheera Taken Back To School And Fed

देवास में 7 दिन बाद 10 घंटे बारिश; चौबाराधीरा में नाला उफान पर आने से फंसे बच्चे, वापस स्कूल ले जाकर खिलाया खाना

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मानसून के बरसाती बादलों ने एक बार फिर देवास शहर का रुख किया है। 7 दिन बाद शहर में बुधवार को बारिश हुई। करीब 10 घंटे तक तो लगातार पानी बरसा। कभी रिमझिम तो कभी तेज। दिनभर में शहर में दो इंच से ज्यादा बारिश होने का अनुमान है। हालांकि अधिकृत आंकड़ा गुरुवार सुबह ही सामने आएगा।

लगातार बारिश से शहर के कुछ हिस्सों में जलजमाव की स्थिति बन गई है। वार्ड 22 के जवाहर नगर के शंकर मंदिर के पास लोगों के घरों के आंगन में पानी जमा हो गया। चैंबर चोक होने से यह समस्या खड़ी हुई है। शहर में 30 जुलाई को आखिरी बार बारिश हुई थी। सात दिन से मौसम खुला था। बुधवार सुबह 5.30 बजे से बारिश का दौर शुरू हुआ। 10 बजे तक बारिश हुई। इसके बाद दोपहर 12 बजे तक पानी थमा रहा। 12 बजे फिर बारिश चालू हुई जो रात 10 बजे तक जारी थी। इस दौरान कभी तेज तो कभी रिमझिम पानी गिरा। बंद नहीं हुआ। जिले में अब तक 18.7 इंच बारिश हो चुकी है। इस अवधि तक पिछले साल 16 इंच ही पानी गिरा।

चौबाराधीरा : जीवाजीगढ़-इकलेरा के बीच में बागदी नाला में जरा सी बारिश में सड़क पर पानी आ गया, जिससे स्कूल के छोटे बच्चे दिन में 2.30 बजे से ही नाले का पानी उतरने का इंतजार करते रहे। शाम 7 बजे तक पानी कम नहीं होने पर बच्चे इंतजार करते रहे, लेकिन पानी नहीं उतरा। प्राइवेट स्कूल की बसें फंसी रही, इसके साथ ही अन्य लोग भी परेशान होते रहे। स्कूल संचालकों ने स्कूल बसों को वापस स्कूल में बुलवाया और छोटे बच्चों को स्कूल में ही खाने-पीने की व्यवस्था करवाई गई।

टोंकखुर्द : बुधवार सुबह 4 बजे से तेज बारिश का दौर शुरू हुआ। रात तक पानी बरस रहा था। बारिश पूर्व सफाई पर ध्यान नहीं देने से सड़कें जलमग्न हो गई। शक्तिमाता मंदिर और अमोना रोड पर पानी भर गया। लोगों के घरों में पानी घुस गया। हाट बाजार में 3 फीट पानी जमा हो गया।

सतवास : बुधवार को क्षेत्र में पूरे दिन तेज बारिश होती रही। दिनभर रिमझिम के बाद शाम को तेज बारिश होने से सोयाबीन की फसल में तेजी से वृद्धि होगी। इस बार गत वर्ष में ज्यादा बारिश हो चुकी है।

पीपरी : क्षेत्र में बुधवार सुबह से लगातार रिमझिम बारिश का दौर खबर लिखे जाने तक चालू रहा। बुधवार साप्ताहिक हाट-बाजार होने से छोटे व्यापारियों काे दिक्कतों का सामना करना पड़ा। त्यौहार के समीप आने से बाजार में काफी चहल-पहल का माहौल है।

कुसमानिया : सुबह से तेज बारिश होने से खेतों में पानी भर गया, वहीं नदी-नालों में तेजी से पानी बहने लगा। दिनभर बारिश होने से बाजार में भी सन्नाटा रहा।

चौबाराधीरा. जीवाजीगढ़-इकलेरा के बीच में बागदी नाला में पुल के ऊपर आने से यातायात अवरुद्ध हो गया। नाले के दोनों तरफ खड़े लोग पानी उतरने का इंतजार करते रहे।

भास्कर संवाददाता | देवास

मानसून के बरसाती बादलों ने एक बार फिर देवास शहर का रुख किया है। 7 दिन बाद शहर में बुधवार को बारिश हुई। करीब 10 घंटे तक तो लगातार पानी बरसा। कभी रिमझिम तो कभी तेज। दिनभर में शहर में दो इंच से ज्यादा बारिश होने का अनुमान है। हालांकि अधिकृत आंकड़ा गुरुवार सुबह ही सामने आएगा।

लगातार बारिश से शहर के कुछ हिस्सों में जलजमाव की स्थिति बन गई है। वार्ड 22 के जवाहर नगर के शंकर मंदिर के पास लोगों के घरों के आंगन में पानी जमा हो गया। चैंबर चोक होने से यह समस्या खड़ी हुई है। शहर में 30 जुलाई को आखिरी बार बारिश हुई थी। सात दिन से मौसम खुला था। बुधवार सुबह 5.30 बजे से बारिश का दौर शुरू हुआ। 10 बजे तक बारिश हुई। इसके बाद दोपहर 12 बजे तक पानी थमा रहा। 12 बजे फिर बारिश चालू हुई जो रात 10 बजे तक जारी थी। इस दौरान कभी तेज तो कभी रिमझिम पानी गिरा। बंद नहीं हुआ। जिले में अब तक 18.7 इंच बारिश हो चुकी है। इस अवधि तक पिछले साल 16 इंच ही पानी गिरा।

चौबाराधीरा : जीवाजीगढ़-इकलेरा के बीच में बागदी नाला में जरा सी बारिश में सड़क पर पानी आ गया, जिससे स्कूल के छोटे बच्चे दिन में 2.30 बजे से ही नाले का पानी उतरने का इंतजार करते रहे। शाम 7 बजे तक पानी कम नहीं होने पर बच्चे इंतजार करते रहे, लेकिन पानी नहीं उतरा। प्राइवेट स्कूल की बसें फंसी रही, इसके साथ ही अन्य लोग भी परेशान होते रहे। स्कूल संचालकों ने स्कूल बसों को वापस स्कूल में बुलवाया और छोटे बच्चों को स्कूल में ही खाने-पीने की व्यवस्था करवाई गई।

टोंकखुर्द : बुधवार सुबह 4 बजे से तेज बारिश का दौर शुरू हुआ। रात तक पानी बरस रहा था। बारिश पूर्व सफाई पर ध्यान नहीं देने से सड़कें जलमग्न हो गई। शक्तिमाता मंदिर और अमोना रोड पर पानी भर गया। लोगों के घरों में पानी घुस गया। हाट बाजार में 3 फीट पानी जमा हो गया।

सतवास : बुधवार को क्षेत्र में पूरे दिन तेज बारिश होती रही। दिनभर रिमझिम के बाद शाम को तेज बारिश होने से सोयाबीन की फसल में तेजी से वृद्धि होगी। इस बार गत वर्ष में ज्यादा बारिश हो चुकी है।

पीपरी : क्षेत्र में बुधवार सुबह से लगातार रिमझिम बारिश का दौर खबर लिखे जाने तक चालू रहा। बुधवार साप्ताहिक हाट-बाजार होने से छोटे व्यापारियों काे दिक्कतों का सामना करना पड़ा। त्यौहार के समीप आने से बाजार में काफी चहल-पहल का माहौल है।

कुसमानिया : सुबह से तेज बारिश होने से खेतों में पानी भर गया, वहीं नदी-नालों में तेजी से पानी बहने लगा। दिनभर बारिश होने से बाजार में भी सन्नाटा रहा।

तीन दिन से हो रही बारिश : पलासी का छोटा तालाब हुआ ओवरफ्लो

पुंजापुरा :
एक बार फिर मौसम ने करवट बदली और 3 दिन से हो रही रिमझिम के बाद बुधवार सुबह 1 घंटा तेज बारिश के बाद दिनभर बारिश का दौर चलता रहा, जिससे नदी-नालों में पानी आ गया। लगातार बारिश से फसलों को फायदा हो रहा है। केवटिया पानी और पलासी के पास छोटा तालाब ओवरफ्लो होने लगा।

जिले में किस विकासखंड में कितनी बारिश (इंच में)

स्थान 24 घंटे में अब तक पिछले साल

बागली 0 20.1 15.2

उदयनगर 0 21.2 16.7

सोनकच्छ 0.9 23.4 31.2

सतवास 0 18.8 6.6

टोंकखुर्द 0.7 21.8 11.5

खातेगांव 0 20.8 12.9

देवास 0.5 13.9 14.4

हाटपीपल्या 0 11.5 18.2

कन्नौद 0 17.0 17.2

औसत 0.2 18.7 16.0

(आंकड़े बुधवार सुबह 6 बजे तक के हैं)

खबरें और भी हैं...