• Hindi News
  • Mp
  • Dewas
  • Sonkutch News mp news tirthankara is not reserved for anyone even a creature with a clean mind can become a god mun vipranatji

तीर्थंकर किसी के लिए आरक्षित नहीं है, निर्मल मन वाला जीव भी भगवान बन सकता है: मुन विप्रणतजी

Dewas News - श्रीमजिनेंद्र जिनबिम्ब पंचकल्याणक पंच कल्याण प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव में मंगलवार काे भगवान आदि कुमार का...

Feb 12, 2020, 09:26 AM IST

श्रीमजिनेंद्र जिनबिम्ब पंचकल्याणक पंच कल्याण प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव में मंगलवार काे भगवान आदि कुमार का जन्मोत्सव मनाया गया। मुनि विप्रणतजी ने प्रवचन में कहा, जन्मों-जन्मों की साधना का फल जन्म कल्याण है, पूर्व में जिस-जिस ने वसुदेव कुटुंबकम की भावना से अपने स्वार्थों को त्याग कर परमार्थ की भावना से स्वयं की साधना की उस परम उदार भगवान का फल ही तीर्थंकर बनना है, तीर्थंकर किसी व्यक्ति के लिए आरक्षित नहीं है, जिसके अंदर लोक कल्याण की भावना है, जो प्राणी मात्र का ही सोचता है, वह उदारदृष्टि रखता, वह निर्मल मन वाला भव्य जीव भगवान बन सकता है। जब हम अपने सभी दोषाें पर विजय प्राप्त कर लेते हैं, वहीं निर्दोष प्राणी ही परमात्मा के पद का अधिकारी होता है। आज जनमानस को मंच से दिखाए गए जन्म कल्याण के भव्य प्राणियों को प्रेरणा देता है, जो भी इंद्रजयी बनने का पात्र बनेगा, वही विश्व विजई त्रिलोकीनाथ बन सकेगा।

भगवान किसी भी जाति, विशेष धर्म के नहीं होकर रहे हैं, वह तो सर्व शक्तिमान, सर्व ज्ञानी है। सबके प्रति दयालु है। वह किसी का भला या बुरा नहीं करते। हम तो केवल भगवान के जीवन चरित्र से प्रेरणा लेकर हम अपने जीवन का भला कर सकते हैं। भगवान के जन्म कल्याणक महोत्सव पर विशिष्ट एरावत हाथी पर बैठकर नगर परिक्रमा पर जुलूस निकाला, जिसमें गंधर्वपुरी सकल जैन समाज सोनकच्छ, कोटा, दिल्ली, जावर, इंदौर, देवास, सीहोर आष्टा के सभी जैन धर्म के अनुयायी अाए। जुलूस आयोजन स्थल पर पहुंचने पर क्रत्यम सुमेरी स्थल की प्रक्रिया की गई। पांडु का अभिषेक नवीन जिनबिम्ब के रूप में किया गया। भगवान की पालना झुलाई का कार्यक्रम भी हुआ। ब्रह्मचारी तरुण भैया ने बताया, बुधवार को भी विभिन्न कार्यक्रम होंगे। सोनकच्छ एसडीएम कार्यालय में लिखित आवेदन देने के बाद भी भीड़ में ट्रैफिक जाम होता रहा। शाम काे अधिक भीड़ होने से एक कार अनियंत्रित होकर 2 लाेगाें को घायल करते हुए बिजली के पोल से टकरा गई। आने वाले 2 दिनों में अधिक भीड़ होने की संभावना है।

भगवान विशिष्ट एरावत हाथी पर नगर भ्रमण करते हुए

मुनिश्री विप्रणत सागरजी जनमानस को प्रवचन देते।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना