पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Kannod News Mp News Woman Dies After Delivery Due To Not Having A Female Doctor In Hospital

अस्पताल में महिला डॉक्टर नहीं होने से प्रसव के बाद महिला की मौत, परिजनों ने लगाए लापरवाही के आरोप

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नगर के शासकीय अस्पताल में मंगलवार को ग्राम कलवार निवासी महिला की प्रसव के बाद मौत होने से महिला डाॅक्टर की कमी परिजनों को खली है। पहले मृतक के परिजनों ने ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाकर विरोध दर्ज कराया। उसके बाद पुलिस को लिखित में आवेदन देकर शव बिना पोस्टमार्टम कराए ही घर ले गए।

मंगलवार को सुबह करीब 8 बजे प्रसूता द्रोपता बाई (20) पति विक्रम को परिजनों ने भर्ती कराया और दोपहर करीब 2.10 बजे महिला ने प्रसव के दौरान सामान्य तरीके से एक स्वास्थ्य बालक को जन्म दिया, लेकिन अधिक रक्त स्त्राव होने से संभवतः शाम मौत हो गई। महिला के पति विक्रम ने मीडिया से चर्चा के दौरान गंभीर आरोप लगाते हुए बताया, मेरी प|ी की मौत अस्पताल स्टाॅफ की लापरवाही से हुई है। सोमवार रात मेरी प|ी को अस्पताल कन्नौद लाए थे। मौजूद स्टाॅफ ने अस्पताल में भर्ती कर लिया था। रात में दर्द होने के बाद भी लापरवाही बरती, जिसका परिणाम यह रहा अगले दिन मंगलवार दोपहर 2 बजे प|ी ने एक पुत्र को जन्म दिया। उसके 1 घंटे बाद दर्दनाक मौत हो गई, यदि समय रहते मुझे बता दिया जाता तो, मैं उसे इंदौर या देवास उपचार के लिए ले जाता, जिससे जान बच जाती। गौरतलब है कि 27 जुलाई को दैनिक भास्कर ने शासकीय अस्पताल में महिला डाॅक्टर के नहीं होने से डिलीवरी के दौरान होने वाली परेशानियां और जच्चा-बच्चा की जान पर खतरा मंडराने को लेकर हर माह होती है औसतन 70 से ज्यादा डिलेवरी फिर भी 3 महीने से नहीं है महिला डाॅक्टर शीर्षक से प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी। बावजूद इसके प्रशासन ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया और कलवार की महिला की मौत हो गई।

उपचार शुरू कर दिया था

महिला को जिस समय अस्पताल में लाया गया था, तभी से इलाज शुरू कर दिया था। महिला की डिलीवरी भी नाॅर्मल हुई थी। अधिक रक्त स्त्राव होने की वजह से संभवत: मौत हो गई। डाॅ. विवेक अहिरवार, शासकीय अस्पताल कन्नौद।

मृतक द्रोपता बाई

खबरें और भी हैं...