• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Dhar News
  • ई-वे बिल लागू, कारोबारियों ने कहा- अगले हफ्ते होगी असली परीक्षा
--Advertisement--

ई-वे बिल लागू, कारोबारियों ने कहा- अगले हफ्ते होगी असली परीक्षा

एक राज्य से दूसरे राज्य में सामान की ढुलाई के लिए ई-वे बिल रविवार से लागू हो गया। राज्य के भीतर यह सिर्फ कर्नाटक में...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:50 AM IST
एक राज्य से दूसरे राज्य में सामान की ढुलाई के लिए ई-वे बिल रविवार से लागू हो गया। राज्य के भीतर यह सिर्फ कर्नाटक में लागू हुआ है। जीएसटी नेटवर्क के अधिकारियों ने बताया कि पहले दिन बिल जेनरेट करने वाले प्लेटफॉर्म पर कोई दिक्कत नहीं आई। हालांकि सूत्रों के मुताबिक दोपहर एक बजे से तीन बजे तक साइट बंद रही।

ऑल हरियाणा ट्रक ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के प्रेसिडेंट सुरेश शर्मा ने बताया कि रविवार को 80-90% फैक्ट्रियां बंद रहती हैं। इसलिए पहले दिन ज्यादा बिल जेनरेट नहीं हुए। वित्त वर्ष के पहले हफ्ते में कारोबार धीमा ही रहता है। इसलिए ई-वे बिल प्लेटफॉर्म की असली परीक्षा दूसरे हफ्ते में होगी। उन्होंने कहा कि सोमवार को नेटवर्क सही नहीं चला तो ई-वे बिल को फिर टाला जा सकता है।

पहले दिन विभिन्न राज्यों में ऐसी रही स्थिति

मध्यप्रदेश

रविवार को ज्यादातर ऐसे माल की लोडिंग-अनलोडिंग हुई जो 31 मार्च के पहले बुक किए गए थे। भोपाल की सबसे बड़ी ट्रांसपोर्ट कंपनी हरीश ट्रांसपोर्ट के संचालक कमल पंजवानी ने बताया कि ई-वे बिल की टेस्टिंग तो सोमवार सुबह होगी, जब सभी ट्रांसपोर्टर एक साथ डाउनलोड करेंगे।

झारखंड

पहले दिन रांची से लगभग 300 बिल जारी हुए। प्रदेश चैंबर के परिवहन उपसमिति के चेयरमैन सुनील सिंह चौहान ने बताया पोर्टल की खामियां दूर हो गई हैं। वाणिज्यकर विभाग के रांची जोन के ज्वाइंट कमिश्नर ने बताया कि पोर्टल सही तरीके से काम कर रहा है।

ई-वे बिल को पहले 1 फरवरी से लागू करना था। लोड बढ़ने पर दिक्कतें आईं और इसे मुल्तवी कर दिया गया। उसके बाद इसमें कई सुधार किए गए। सरकार का दावा है कि इससे रोजाना 75 लाख इंटर-स्टेट बिल जेनरेट किए जा सकते हैं। जीएसटी नेटवर्क पर 1.05 करोड़ कारोबारियों-कंपनियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है।

राजस्थान

फेडरेशन ऑफ राजस्थान ट्रेड एंड इंडस्ट्री (फोर्टी) के अध्यक्ष तथा ट्रांसपोर्टर सुरेश अग्रवाल ने बताया रविवार को अधिकांश ट्रांसपोर्ट बंद होने से माल की ढुलाई नहीं हुई। ई-वे बिल से ट्रांसपोर्टर्स की परेशानी बढ़ना तय है। कुछ ट्रांसपोर्टर तो फिलहाल काम बंद करने की बात कर रहे हैं।

हरियाणा

आयरन स्टील एंड ट्रेडर्स के प्रधान अरुण गुप्ता के अनुसार पहले दिन शिकायत नहीं मिली। असली परीक्षा सोमवार से होगी। फरीदाबाद इंडस्ट्री एसोसिएशन के प्रधान कर्नल एस. कपूर ने बताया कि जिले में 23 हजार इंडस्ट्रियल यूनिट्स हैं, अधिकांश रविवार को बंद रहती हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..