Hindi News »Madhya Pradesh »Dhar» दिगठान के पास बस पलटी, दो की मौत, 42 घायल

दिगठान के पास बस पलटी, दो की मौत, 42 घायल

भास्कर संवाददाता | धार/दिगठान इंदौर से मांडू जा रही एक यात्री बस बुधवार शाम 5.30 बजे दिगठान और नारायणपुरा के बीच पलट...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 01, 2018, 04:25 AM IST

दिगठान के पास बस पलटी, दो की मौत, 42 घायल
भास्कर संवाददाता | धार/दिगठान

इंदौर से मांडू जा रही एक यात्री बस बुधवार शाम 5.30 बजे दिगठान और नारायणपुरा के बीच पलट गई। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। 42 घायल हैं। इनमें से आठ की हालत गंभीर हैं। हादसा सामने से आए एक वाहन को बचाने के दौरान हुआ। बस में 60 से ज्यादा सवारियां बैठी थीं। छत पर भी सवारियां थीं। बस पलटी तो कई लोग नीचे दब गए। आसपास के ग्रामीण पहुंचे और उन्होंने मिल कर बस को उठाया और घायल निकाल कर चार अलग-अलग वाहनों से धार पहुंचाया। धार से इंदौर रैफर करते समय रास्ते में रुकमाबाई पति भेरुसिंह (65) की मौत हो गई। संतोष पिता नारायण निवासी कचहरी पिपल्या की मौत जिला अस्पताल में हुई। 8 लोगों की हालत गंभीर है।

लोगों ने मिल कर उठाई बस, तब निकले घायल

कई घायल बस में दबे हुए थे। आसपास के ग्रामीणों ने बस उठाकर घायलों को निकाला। लोडिंग, क्वालिस, पुलिस वाहन और एंबुलेंस में 30 से 40 घायलों को जिला अस्पताल धार भेजा।

मानवता के लिए हड़ताली कर्मचारी उतरे सेवा में

घायलों के पहुंचने के पहले ही सूचना पर अस्पताल में बड़ी संख्या में डॉक्टर और स्टाफ तैयार था। हड़ताल में शामिल मेल नर्स दिनेश जायसवाल, दीपक चौधरी सुनील, सलीम, अजय पाटीदार आदि ने उपचार किया। घायल मरीजों का दौड़-दौड़कर त्वरित इलाज किया। लोग भी मदद के लिए तैयार थे।

हादसा हुआ तब छत पर बैठी सवारियों से किराया ले रहा था कंडक्टर

इंदौर से मांडू जा रही जो बस (एमपी 09 एफए 4499) िदगठान से नारायणपुरा के बीच दुर्घटनाग्रस्त हुई, उसमें 60 से ज्यादा सवारियां थीं। छत पर भी सवारियां बैठी थीं। हादसे के वक्त कंडक्टर सुभाष पिता मड़िया नि. तीतीपुरा छत पर ही बैठी हुई सवारियों से किराया ले रहा था। यात्रियों समेत वह भी घायल हो गया। दो फ्रेक्चर हुए। जिला अस्पताल में भर्ती कंडक्टर सुभाष ने बताया होली के कारण ग्रामीण क्षेत्र के लोग अपने घरों को जा रहे थे, इसलिए संख्या ज्यादा थी। उसने बताया सामने से आए किसी वाहन को बचाने में अचानक बस लहराई और फिर पलट गई। बाद में कंडक्टर को इंदौर के लिए रैफर कर दिया। उसके अलावा अन्य 7 को भी इंदौर रैफर किया गया था। इनमें दिगठान के तनिष्क पिता संजय मंडलोई को इंदौर के यूनिक अस्पताल भेजा गया। भेरू पिता रतन, रूपसिंह दरियाव, अंबरीश पिता दिनेश, शोभाबाई को भी रैफर किया गया। कुल 42 लोगों को चोंटें आई हैं। कुछ कूदने से बच गए।

होली खेलने के लिए जा रहे बच्चे भी दब गए

गुगली गांव का रतन घाटाबिल्लौद छात्रावास में रह आठवीं कक्षा में पढ़ता है। हाेली खेलने के लिए गांव जा रहा था। सीट पर जगह नहीं होने से गेट पर खड़ा था। हादसे में दब गया। उसे पैर में फ्रेक्चर हुआ। नौ साल की राजनंदिनी पिता कालू अपने गांव पायकुंडा से मामा के यहां पिपल्या मामा घर जा रही थी। उसे भी नाक पर चोट आई।

धार. बस एक्सीडेंट में घायल मरीजों को पुलिस वाहन व एबुलेंस से जिला अस्पताल लाया गया।

दुर्घटना के बाद क्षतिग्रस्त बस।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Dhar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: दिगठान के पास बस पलटी, दो की मौत, 42 घायल
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Dhar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×