• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Dhar
  • Dhar - एससी-एसटी एक्ट में संशोधन का विरोध, करणी सेना ने धार आए मंत्री सारंंग को दिखाए काले झंडे
--Advertisement--

एससी-एसटी एक्ट में संशोधन का विरोध, करणी सेना ने धार आए मंत्री सारंंग को दिखाए काले झंडे

बुधवार को धार आए सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग को एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में राजपूत करणी सेना के...

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2018, 02:36 AM IST
Dhar - एससी-एसटी एक्ट में संशोधन का विरोध, करणी सेना ने धार आए मंत्री सारंंग को दिखाए काले झंडे
बुधवार को धार आए सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग को एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में राजपूत करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए और जमकर नारेबाजी की। मंत्री सारंग जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित के नवनिर्मित मुख्यालय भवन का लोकार्पण और सहकारिता व कृषक सम्मेलन में भाग लेने मिलन महल आए थे। पुलिस बमुश्किल उन्हें वहां से सभास्थल पर बने मंच तक ले गई। मंच पर मंत्री सारंग ने 25 मिनट भाषण दिया। शाम 4.30 बजे वे भोपाल के लिए रवाना हो गए। जब मंत्री सारंग से काले झंडे दिखाने संबंधी पूछा तो उनका कहना था- हमें किसी ने काले झंडे नहीं दिखाए, मैंने तो नहीं देखे। इधर, कांग्रेस ने लोकार्पण कार्यक्रम को लेकर आरोप लगाया कि धार जिला सहकारी केंद्रीय बैंक को भाजपा की प्राइवेट संस्था बना दिया है।

दोपहर 2 बजे सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग मिलन महल में सभा स्थल पर पहुंचे। यहां पहले से राजपूत करणीसेना के कार्यकर्ता मौजूद थे। जैसे ही मंत्री कार से उतरे करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाना प्रारंभ कर दिए। करणीसेना के कार्यकर्ता अपनी जेब में रखकर काले झंडे लाए थे। उनमें डंडा नहीं लगा था। जैसे ही मंत्री आए कार्यकर्ताओं ने जेब से झंडे निकालकर लहरा दिए। साथ ही नारेबाजी भी करने लगे इससे मंत्री घबरा गए। पुलिस और कार्यकर्ताओं में धक्का-मुक्की की स्थिति बन गई। मंत्री तेजी से सभास्थल की ओर बढ़े इस दौरान वे चलने में लड़खड़ा भी गए। पुलिस जवानों ने कार्यकर्ताओं को मौके पर पहुंचकर रोका और वहां से खदेड़ा। इधर पुलिस की सुरक्षा के बीच मंत्री को मंच पर ले जाया गया। दोपहर 3 बजे एसडीएम वीरेंद्र कटारे ने करणी सेना के कार्यकर्ताओं से कहा आपसे मंत्री सारंग सर्किट हाउस पर मिलेंगे और चर्चा करेंगे। आप वहां पहुंचे। कार्यकर्ता सर्किट हाउस के लिए रवाना हो गए।

मंत्री सारंग बोले

सहकारिता मंत्री सारंग को काले झंडे (गोल घेरे में) दिखाते करणीसेना के सदस्य।

बाहर गेट पर की नारेबाजी, एसडीएम ने दी समझाइश

बाहर खदेड़े कार्यकर्ताओं ने बाहर गेट पर नारेबाजी और विरोध प्रदर्शन करते हुए अंदर जाने का प्रयास किया। एसडीएम वीरेंद्र कटारे, सीएसपी संजीव मुले, कोतवाली थाने के टीआई सीबीएस चडार, नौगांव थाना प्रभारी विनोद दीक्षित और पुलिस जवान कार्यकर्ताओं को घेरकर खड़े हो गए। कार्यकर्ताओं की उनसे जमकर बहस हुई। एसडीएम कटारे ने कहा कि मैं मंत्री से बात करता हूं कि वे बाहर आकर आपकी बात सुनेंगे तब तक आप शांति बनाए रखें। पुलिस के अधिकारियों ने सभास्थल के बाहर गेट पर कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन और नारेबाजी के दौरान स्थिति बिगड़ते देख व्रज वाहन बुलाया। करीब आधे घंटे तक अधिकारियों और कार्यकर्ताओं में बात चलती रही। कई बार नारेबाजी कर रहे कार्यकर्ताओं को समझाइश भी दी और ऐसा करने से रोका गया।

काले झंडे नहीं दिखाए, मैंने तो नहीं देखे


हमें किसी ने काले झंडे नहीं दिखाए, मैंने तो नहीं देखे, लोगों से मिला उनकी समस्या भी सुनी

दो घंटे बोलूंगा…25 मिनट में खत्म कर दिया भाषण

मंच पर पहुंचने के पहले मंत्री विश्वास सारंग ने कहा था कि दो घंटे बोलूंगा, लेकिन काले झंडे दिखाने के से मंत्री सारंग इतने अधिक घबरा गए कि उन्होंने अपना भाषण मात्र 25 मिनट में खत्म कर दिया। दोपहर 2.45 पर भाषण प्रारंभ किया और 3.10 मिनट पर खत्म कर दिया। भाषण खत्म होते ही कार्यकर्ता व अन्य मंच पर चढ़ गए। मंत्री को ज्ञापन दिए। मंत्री सारंग ने पत्रकार वार्ता करने से मना कर दिया। घटनाक्रम के बारे में भी कुछ भी कहने से इनकार किया और कार में बैठ गए और शीशे चढ़ा लिए। शाम 4.30 बजे मंत्री सारंग को पुलिस अधिकारियों ने सीधे इंदौर रोड से न ले जाते हुए अन्य रास्ते से बायपास पर छोड़ा। यहां से वे इंदौर के लिए निकल गए।

सभी जनप्रतिनिधियों को आमंत्रण भेजे थे


मिलन महल में कृषक सम्मेलन को संबोधित करते हुए मंत्री सारंग।

कड़कनाथ, मसाला उद्याेग के लिए देंगे दस लाख का अनुदान

सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग दोपहर 1.40 बजे कृषक सम्मेलन के पहले मांडव लिंक रोड पर स्थित दीनदयालपुरम पहुंचे। यहां उन्होंने नवनिर्मित सहकारी केंद्रीय बैंक के मुख्यालय भवन का लोकार्पण किया। फिर वे मिलन महल में सभास्थल पहुंचे। धार में सोसायटियों के परिसीमन को लेकर कहा 25-30 साल से कार्य पेंडिंग था। परिसीमन के लिए धार जिले के नेता और सीबीसी अध्यक्ष युक्ति युक्तिकरण के प्रस्ताव बनाकर भेजें, उनका तत्काल निराकरण किया जाएगा। अंत्योदय सोसायटी में कड़कनाथ, मसाला उद्योेग, डिटर्जेंट उद्योग के लिए 10 लाख का अनुदान दिया जाएगा और 40% सब्सिडी दी जाएगी। भाजपा ने 15 सालों में सहकारिता आंदोलन को सही मायनों में स्थापित करने का काम किया है। पहले सहकारी आंदोलन चंद नेताओं की राजनीति हुआ करता था। मंच पर सांसद सावित्री ठाकुर, विधायक नीना वर्मा, पूर्व केंद्रीय मंत्री विक्रम वर्मा, सीसीबी अध्यक्ष राजीव यादव, भाजपा जिलाध्यक्ष राज बर्फा, नरेश राजपुरोहित, खेमराज पाटीदार आदि मौजूद थे।

एक्ट में फिर से संशोधन होना चाहिए, इसलिए झंडे दिखाए


कांग्रेस का आरोप

धार जिला सहकारी केंद्रीय बैंक को बना दिया भाजपा की प्राइवेट संस्था

धार जिला सहकारिता केंद्रीय बैंक धार के नवीन भवन के लोकार्पण के कार्यक्रम में सहकारिता संस्था द्वारा पार्टी विशेष के लिए कार्य किया जा रहा है। धार जिला सहकारिता बैंक के लोकार्पण कार्यक्रम में किसी पद पर नहीं होने के बावजूद भी संस्था द्वारा भाजपाइयों को लोकार्पण समारोह में अतिथि बनाया गया, यह जिले के निर्वाचित कांग्रेस विधायकों व जनादेश का अपमान है। यह आरोप कांग्रेस ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर लगाया है। जिला कांग्रेस प्रवक्ता राजेश पटेल ने बताया कि संस्था को पूरे जिले के समस्त विधायक जनप्रतिनिधियों को आमंत्रण पत्र में अतिथि के तौर पर आमंत्रित करना था। आमंत्रण पत्र में विक्रम वर्मा एवं भाजपा के जिलाध्यक्ष राज बर्फा को बतौर अतिथि बनाया गया है, जो किसी पद पर नहीं हैं। धार जिले के कुक्षी विधायक सुरेंद्रसिंह बघेल, गंधवानी विधायक उमंग सिंघार की उपेक्षा पार्टी विशेष के इशारे पर की गई है। इस कार्यक्रम में होने वाला समस्त व्यय बैंक प्रबंधक वसुनिया व जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष राजीव यादव से वसूल किया जाए।

X
Dhar - एससी-एसटी एक्ट में संशोधन का विरोध, करणी सेना ने धार आए मंत्री सारंंग को दिखाए काले झंडे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..