--Advertisement--

3 अगस्त 16 की घटना मेंं फैसला

3 अगस्त 16 की घटना मेंं फैसला हत्या के आरोपी भाई और उसके पुत्र को आजीवन कारावास कुक्षी | सगे भाई की हत्या करने...

Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 02:36 AM IST
3 अगस्त 16 की घटना मेंं फैसला

हत्या के आरोपी भाई और उसके पुत्र को आजीवन कारावास

कुक्षी | सगे भाई की हत्या करने वाले आरोपी भाई और उसके बेटे को अपर सत्र न्यायाधीश संजय कुमार गुप्ता ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। मंगलवार शाम इसका फैसला दिया। अपर लोक अभियोजक आरके गुप्ता ने बताया घटना 3 अगस्त 2016 की है। आरोपी मानसिंग पिता जालम नि. पीपल दलिया ने लड़के धन सिंह और वेस्ता के साथ मिलकर रात 10 बजे आरोपी मानसिंह के सगे भाई गणपत से विवाद किया। दोनों बेटों के साथ लट्ठ और पत्थरों से मारपीट कर नाले तरफ ले गए और नाले के पास पटक कर भाग गए। जहां गणपत की मौत हो गई। घटना के समय आरोपी मानसिंह तथा गणपत के पिता जालम तथा घर के सभी लोग मौके पर ही थे। गौरतलब है कि मृतक गणपत का कोई पुत्र नहीं था। उसने उसकी एक मात्र लड़की सनबाई को जमीन दे दी थी। इसी बात को लेकर आरोपियों ने घटना की थी। प्रकरण थाना टांडा में पंजीबद्ध होकर अपर सत्र न्यायाधीश संजय कुमार गुप्ता के न्यायालय में चला। प्रकरण में साक्ष्यों के आधार पर आरोपी मानसिंह एवं पुत्र वेस्ता को हत्या का दोषी पाते हुए आजीवन कारावास व 5-5 हजार के अर्थदंड से दंडित किया। आरोपी धन सिंह के खिलाफ साक्ष्य नहीं मिलने से उसे बरी कर दिया।