--Advertisement--

महाकाल का जलाभिषेक आधा लीटर आरओ से ही होगा, प्रस्ताव लागू हुआ

सुप्रीम कोर्ट का दखल से इनकार एजेंसी | नई दिल्ली/उज्जैन. महाकालेश्वर मंदिर की पूजा पद्धति में दखल देने से सुप्रीम...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:40 AM IST
सुप्रीम कोर्ट का दखल से इनकार

एजेंसी | नई दिल्ली/उज्जैन. महाकालेश्वर मंदिर की पूजा पद्धति में दखल देने से सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को इनकार कर दिया। सुप्रीम कोर्ट इस प्राचीन मंदिर में स्थित ज्योर्तिलिंगम के संरक्षण के मुद्दे पर सुनवाई कर रहा है। जस्टिस अरुण मिश्रा और यूयू ललित की बेंच ने कहा कि मंदिर के धार्मिक रीति-रिवाजों में न तो उन्होंने कोई दखल दिया है और न ही इसकी विशेषताओं पर कुछ कहा है। बेंच ने विभिन्न पक्षों के सुझाव सुने हैं और मंदिर प्रबंधन समिति से पारित प्रस्ताव ही लागू किया जा रहा है। श्रद्धालु आधा लीटर पानी से ही शिवलिंग पर जलाभिषेक कर सकता है। यह पानी मंदिर परिसर के आरओ से लिया जाएगा, जिसका कनेक्शन गर्भगृह में करवाया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने चेतावनी दी कि इसके आदेश को गलत तरीके से पेश नं किया जाए।





कोर्ट ने पहले भी कहा था कि उसने मंदिर में नई पूजा पद्धति लागू करने के लिए कभी कोई निर्देश नहीं दिया है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..