--Advertisement--

20 एम्स खुलेंगे, पेंशन के लिए 15 लाख निवेश कर सकेंगे बुजुर्ग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए। इनमें किसान,...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:40 AM IST
20 एम्स खुलेंगे, पेंशन के लिए 15 लाख निवेश कर सकेंगे बुजुर्ग
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए। इनमें किसान, बुजुर्ग और स्वास्थ्य से जुड़े फैसले भी शामिल हैं। 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को लेकर हरित क्रांति-कृषि उन्नति योजना को मंजूरी दी गई है। पहले से चल रही 11 अलग-अलग योजनाएं अब इस अंब्रेला स्कीम के तहत एक साथ चलेंगी। वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन के लिए प्रधानमंत्री वय वंदन योजना में निवेश की सीमा 7.5 लाख से बढ़ाकर 15 लाख कर दी गई है। 20 नए एम्स भी खुलेंगे, जिनसे करीब 60 हजार नई नौकरियां पैदा होंगी।

कैबिनेट के फैसले और उनका असर

फैसला: प्रधानमंत्री वय वंदन योजना में निवेश सीमा 7.5 लाख से बढ़ाकर 15 लाख रुपए की गई है। निवेश की अवधि 4 मई 2018 से बढ़ाकर 31 मार्च 2020 तक की गई।

असर: निवेशक को हर माह 10 हजार रु. तक पेंशन मिल सकेगी। 10 साल के निवेश पर पेंशन के रूप में 8 फीसदी रिटर्न मिलता है। मार्च 2018 तक 2.23 लाख वरिष्ठ नागरिकों ने लाभ उठाया।

फैसला: दिल्ली के नजफगढ़ में 100 बिस्तरों वाले अस्पताल को मंजूरी

असर: नजफगढ़ के आस-पास 73 गांवों की करीब 13.65 लाख की आबादी को फायदा होगा। स्त्री रोग, पेडियाट्रिक, सर्जरी व ब्लड बैंक जैसी सुविधाएं होंगी। सस्ती चिकित्सा सुविधा मिलेगी।

फैसला: लखनऊ, गुवाहाटी और चेन्नई हवाई अड्डों पर नए टर्मिनल

असर: तीनों एयरपोर्ट का क्षेत्र व यात्री क्षमता बढ़ेगी। लखनऊ एयरपोर्ट की सालाना घरेलू यात्री क्षमता 1.10 करोड़, चेन्नई की 3.5 करोड़ होगी। गुवाहाटी एयरपोर्ट की क्षमता 90 लाख होगी।

फैसला: अल्पसंख्यक कार्यक्रम का नाम बदलने को दी गई मंजूरी

असर: कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘मंत्रिमंडल ने अल्पसंख्यक समुदाय के लिए दूरगामी बदलावों को मंजूरी दी है। इसमें विशेष रूप से शिक्षा, स्वास्थ्य व कौशल विकास हैं।’ जनसंख्या प्रतिशत मानदंड कम कर अल्पसंख्यकों के समूहों की पहचान को भी तर्कसंगत बनाया गया है।

फैसला: कृषि मंत्रालय की 11 योजनाओं का ‘हरित क्रांति कृषि उन्नति योजना’ में विलय। दो साल में 33269.97 करोड़ खर्च होंगे।

असर: वैज्ञानिक तरीके से खेती और इससे जुड़ी योजनाएं शामिल। पैदावार बढ़ने, किसानों को फसलों के बेहतर दाम मिलने की उम्मीद।

फैसला: 20 नए एम्स खुलेंगे, साथ ही 73 मेडिकल कॉलेज को अपग्रेड किया जाएगा

असर: 2003 में घोषित योजना के तहत 20 में से 6 एम्स बन चुके हैं। नए एम्स से स्वास्थ्य शिक्षा और प्रशिक्षण में सुधार आएगा। दावा है कि हर एम्स में 3-3 हजार नई नौकरियां मिलेंगी।

X
20 एम्स खुलेंगे, पेंशन के लिए 15 लाख निवेश कर सकेंगे बुजुर्ग
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..