• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Dhar News
  • राहुल 15 साल भी बोलें तो किसी की समझ में नहीं आएगा : सीएम, कमलनाथ बोले - आप भी तो 13 साल से रटा-रटाया बोल रहे हैं
--Advertisement--

राहुल 15 साल भी बोलें तो किसी की समझ में नहीं आएगा : सीएम, कमलनाथ बोले - आप भी तो 13 साल से रटा-रटाया बोल रहे हैं

मप्र में चुनावी हलचल के तेज होते ही भाजपा और कांग्रेस के बीच सोशल मीडिया पर बयानों का सिलसिला शुरू हो गया।...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:40 AM IST
मप्र में चुनावी हलचल के तेज होते ही भाजपा और कांग्रेस के बीच सोशल मीडिया पर बयानों का सिलसिला शुरू हो गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया कि कुछ लोग 15 साल भी लगातार बोले तो भी उनके अलावा किसी को समझ नहीं आएगा। इस पर कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने पलटवार किया कि आज मध्यप्रदेश की यही स्थिति है। शिवराज सिंह लगातार 13 वर्ष से रटा रटाया ही बोल रहे हैं। समझ में किसी को कुछ नहीं आ रहा। धरातल पर कुछ नहीं है।

यह बयानबाजी तब शुरू हुई, जब राहुल गांधी ने कहा कि उन्हें संसद में 15 मिनट ही बोलने का समय मिल जाए तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खड़े नहीं रह पाएंगे। इस पर मोदी से लेकर भाजपा के बड़े नेताओं ने राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला। इसी कड़ी में बुधवार को मुख्यमंत्री ने भी ट्वीट कर दिया। इसमें शिवराज सिंह ने राहुल गांधी पर तो निशाना साधा, लेकिन एक शब्द की गलती के कारण वे भी ट्विटर पर ट्रोल हुए। दरअसल उन्होंने ट्वीट किया कि-‘कुछ लोग 15 मिनट क्या, 15 साल भी लगातार बोलें तो भी उनके अलावा किसी को समज नहीं आएगा।’ इसमें समझ को वे समज लिख गए। इसके बाद प्रदेश युवक कांग्रेस के अध्यक्ष कुणाल चौधरी ने कटाक्ष किया कि पहले लिखना तो सिख लें। बहरहाल, शब्द की गलती सामने आने के बाद मुख्यमंत्री ने दोबारा ट्वीट कर साफ कर दिया कि - ‘फोन पर टाइप करते वक्त समझ की जगह समज हो गया। लेकिन, समझने वाले समझ गए...’।

कमलनाथ ने फिर ट्वीट किया कि ‘भाजपा हटाओ-मध्यप्रदेश बचाओ’ के नारे के साथ प्रदेश का हर कांग्रेसी अपने-अपने इलाकों में पूरी ताकत से जुट जाएं। भाजपा की जनविरोधी नीतियों व वादा खिलाफी को जनता के बीच ले जाकर, इस कुशासन से मुक्ति का अभियान चलाएं। कांग्रेस नेता व राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने भी शिवराज सिंह के ट्वीट पर कहा कि - ‘मैं पीएम की डिग्री की तलाश कर रहा हूं। आरटीआई में भी जानकारी नहीं मिल रही है। जहां तक भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के दौरे की बात है तो भाजपा का प्रदेश में हारना तय है। इसलिए उन्हें मजबूत नीति बनाने की जरूरत है। अरुण यादव की नाराजगी पर तन्खा ने कहा कि वे कांग्रेस के मजबूत सिपाही हैं।

जाम लगने के लिए कमलनाथ ने माफी मांगी : कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार मंगलवार को भोपाल आए कमलनाथ ने 12 किमी लंबी रैली निकाली, जिसके कारण भोपाल में जाम लग गया। कमलनाथ ने ट्विटर पर लिखा कि मेरी स्वागत रैली में कार्यकर्ताओं की बड़ी उपस्थिति व उत्साह से आमजन को कोई परेशानी हुई हो तो उसके लिए मैं क्षमा प्रार्थी हूं।

नर्मदा किनारे 6 करोड़ पौध लगाने में हुआ भ्रष्टाचार, अब फिर नए पौधे लगाने की तैयारी : कमलनाथ

भोपाल |
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने पदभार ग्रहण करने के एक दिन बाद ही भाजपा पर बड़ा हमला बोला है। नाथ ने बुधवार को कहा कि शिवराज सरकार ने नर्मदा किनारे 6 करोड़ पौधे लगाने में जमकर भ्रष्टाचार किया। हमारा उनसे प्रश्न है कि इस पर कितनी राशि खर्च हुई, किसको कितनी दी? अपने कार्यकर्ताओं को रक्षक बनाकर कितना भुगतान किया, यह बताएं। अब फिर बरसात में नए पौधारोपण की तैयारी। मैं दिग्विजय सिंह की यात्रा में गया, ढूंढे पर मुझे पौधे नहीं मिले।

कमलनाथ से जब मंदिरों में दर्शन के लिए जाने संबंधी सवाल पूछा तो उनका कहना था कि यह हमारा आस्था का प्रतीक, पर इस पर इस पर राजनीति नहीं करते और न ही राजनीतिक लाभ के लिए प्रचार। आज यह स्थिति है कि किसान बिना दाम के, युवा बिना काम के। अब जनता पूछ रही है कि फिर मोदी-शिवराज किस काम के। मध्यप्रदेश में आज भी प्रतिदिन शिवराज घोषणाएं कर रहे हैं, अब समय हिसाब का है। घोषणाएं करने का समय अब खत्म हो गया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव गांधी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए बयान पर बोले भाजपा सिर्फ गुमराह व ध्यान भटकाने के लिए यह सब कहती है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..