--Advertisement--

देश में अभी 15 मिनट भाषण की प्रतियोगिता शुरू हो

देश में अभी 15 मिनट भाषण की प्रतियोगिता शुरू हो गई है। तो क्यों न प्रधानमंत्री से कहा जाए कि वे 15 मिनट किसानों की...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:45 AM IST
देश में अभी 15 मिनट भाषण की प्रतियोगिता शुरू हो
देश में अभी 15 मिनट भाषण की प्रतियोगिता शुरू हो गई है। तो क्यों न प्रधानमंत्री से कहा जाए कि वे 15 मिनट किसानों की आत्महत्या और बर्बाद फसलों के बारे में बोले।

- योगेंद्र यादव, सामाजिक कार्यकर्ता

15 का आंकड़ा लकी है मोदी के लिए। पिछली बार 15 लाख जैसा कुछ लेकर आए थे। इस बार 15 मिनट।

- कीर्तीश भट्‌ट, कार्टूनिस्ट

सर, क्या लालू यादव की सेहत को देखते हुए उन्हें मानवीय आधार पर 14 घंटे की ट्रेन यात्रा के बजाय प्लेन से नहीं भेजा जा सकता था। -शत्रुघ्न सिन्हा, भाजपा सांसद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब राहुल गांधी की मां की मातृभाषा का संदर्भ लेते हैं तो खुद को ही नीचा दिखा देते हैं। ये टिप्पणी ठीक उसी तरह है जैसे 2014 में उन्हें विपक्ष ने चायवाला कहा था। राजदीप सरदेसाई, पत्रकार

ग्रैंडमास्टर्स शी जिनपिंग और नरेंद्र मोदी नए जियोपोलिटिकल शतंरज के खेल में बिजी हैं और इसमें अफगानिस्तान चेस बोर्ड है।

-मिन्हाज मर्चेंट, पत्रकार

X
देश में अभी 15 मिनट भाषण की प्रतियोगिता शुरू हो
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..