• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Dhar News
  • 500 ग्राम बारदान पर एक किलो ज्यादा चने तौलने का किसानों ने किया विरोध, आधे घंटे बंद रहा काम
--Advertisement--

500 ग्राम बारदान पर एक किलो ज्यादा चने तौलने का किसानों ने किया विरोध, आधे घंटे बंद रहा काम

धार. सहकारिता विभाग के वैद्य को समस्या बताता दिगठान का किसान। घौड़ा चौपाटी स्थित मार्केटिंग सोसायटी में चल रही...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:00 AM IST
धार. सहकारिता विभाग के वैद्य को समस्या बताता दिगठान का किसान।

घौड़ा चौपाटी स्थित मार्केटिंग सोसायटी में चल रही चने की खरीदी में किसानों ने लगाया धांधली का आरोप

भास्कर संवाददाता | धार

घौड़ा चौपाटी स्थित मार्केटिंग सोसायटी में समर्थन मूल्य पर चल रही चने की खरीदी में किसानों ने धांधली का आरोप लगाया है। गुरुवार को यहां पहुंचे किसानों से इसका विरोध कर दिया। जिससे आधे घंटे तक खरीदी बंद रही। मौके पर अधिकारी भी पहुंचे और समस्या दिखवाने का आश्वासन दिया। जिससे किसान संतुष्ट नहीं है। किसानों ने बताया शुरू दिन से यहां इस तरह का काम चल रहा है।

गुरुवार को दिगठान के किसान भगवान अग्रवाल ने 62 क्विंटल चना बेचा। जिस पर समिति के तौल कांटे पर 50 किलो चने व 500 ग्राम बारदान के वजन सहित 5500 किलो वजन होना चाहिए था। लेकिन यहां उनकी उपज का सीधे तौर पर 51.190 किलो का वजन किया गया। किसान ने इसकी शिकायत तुलावटी सहित कर्मचारियों से की लेकिन बात नहीं बनी। शाम 4 बजे किसान ने इसका विरोध कर मौजूद कर्मचारियों को खरी खोटी सुनाई। जिस पर वहां मौजूद तीन कांटों पर खरीदी उपज का तौल किया गया। पहले कांटे पर 51 किलो 700 ग्राम, दूसरे कांटे पर 51.500 और तीसरे कांटे पर 51.300 ग्राम का वजन आया। यह देख वहां मौजूद किसानों ने अपने साथ भी धोखाधड़ी होने का अंदेशा जताया।

किसानों ने बताया नियमानुसार 50 किलाे पर 600 ग्राम अधिक तौल वाजिब है, लेकिन यहां तो एक किलो उपज अधिक ली जा रही। बाद में सहकारिता विभाग के उपायुक्त अंबरिश वैद्य, मार्केटिंग सोसायटी के अधिकारी भूदीप सक्सेना वहां पहुंचे। उन्होंने भी तीनों कांटों पर किसान की उपज का तौल कराया। जिसमें इस तरह की गड़बड़ी सामने आने पर उन्होंने शुक्रवार को फिर से तौल कराने का आश्वासन दिया। साथ ही कांटाें की चेकिंग भी कराने की बात कही है।