खलघाट के पुराने ब्रिज से 15 फीट ऊपर बहा पानी खुज नदी में पांचवीं बार आई बाढ़, आवागमन बंद

Dhar News - टवलाई में सरदार सरोवर के बढ़ते जल स्तर से कोठडा़, सरसगांव, भोमलापुरा, टवलाई के कुछ किसानों के खेत डूब गए है। कई...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:22 AM IST
Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
टवलाई में सरदार सरोवर के बढ़ते जल स्तर से कोठडा़, सरसगांव, भोमलापुरा, टवलाई के कुछ किसानों के खेत डूब गए है। कई किसानों के खेत में जाने के रास्ते पानी भरने से बंद हो गए है। चार गांव के सैकड़ों किसानों की हजारों बीघा जमीनें टापू बन गई है। किसानों ने बताया हमें फसल की देखरेख करने व पालतु पशुओं के लिए खेत में चारा लाने के रास्ते बंद हो गए। कोठड़ा, सरसगांव, भोमलापुरा के गांव मुख्य मार्ग पानी भरने से रास्ते बंद होने के साथ बच्चों को स्कूल भेजना, स्वास्थ खराब होता है तो जाने के लिए सभी रास्ते कीचड़ से भरे है। कोठड़ा में डूब प्रभावितों की सर्वे सूची से कई परिवारों को छोड़ दिया है।

कालीबावड़ी: खुज नदी 11 बजे से लबालब- खुज नदी 11 बजे से लबालब होकर बहने लगी। 40 वर्षों में पहली बार साकल्दा तालाब फूल होने से नदी में यह पांचवी बार बाढ़ आ गई। नदी की पुलिया से होकर पानी बहने से आवागमन बंद हो गया।

मांडू: गिद्धया खो का झरना मूल स्वरूप में लौटा - नालछा और मांडू के बीच ग्राम पनाला में गिद्धया खो का झरना बहने लगा। आसपास के क्षेत्र के लोग इस झरने को देखने पहुंचे। शासन-प्रशासन और ग्राम पंचायत द्वारा पर्यटकों को यहां लाने के लिए प्रयास करना चाहिए। झरने के आस-पास पहाड़ियां, घना जंगल होने से पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बन सकता है।

कालीबावड़ी. खुज नदी में पांचवी बार बाढ़ देखने को मिली।

केसूर : हैंडपंप से बाहर आ रहा अपने आप पानी

गर्मी के दिनों में 50 बार हैंडल चलाने पर एक बाल्टी मुश्किल से पानी भरता था। वहीं अब हैंडपंप से अपने आप पानी निकल रहा है। केसूर के हनुमान मंदिर की गली में पानी ही पानी हो गया। इधर केसूर-मौलानी मार्ग पर बनी रपट पर पानी आ जाने के बावजूद आवागमन जारी रहा।

नालछा : मान नदी उफान, इस तरह लोग निकल रहे

ब्लॉक के ग्राम बड़ा बरखेड़ा में मान नदी उफान पर आने से लोग जान जोखिम में डालकर निकले। पिछले 3 दिनों से लगातार हो रही बारिश से कमर तक पानी होकर बह रहा। इसके बावजूद लोग पुलिया से वाहन निकालते नजर आए। दूसरा कोई रास्ता नहीं होने से लोगों को इसी मार्ग से गुजरना पड़ता है।

मांडू. सालाें बाद गिद्धया खो का झरना अपने मूल स्वरूप में अाया।

नागदा: ट्यूबवेल से बाहर आने लगा पानी

नागदा की चामला नदी सहित आसपास क्षेत्र की खाल में बाढ़ आ गई। ट्यूबवेलों में पानी ओवरफ्लो होकर बाहर आने लगा है। लगातार बारिश से सोयाबीन फसल को नुकसान होने लगा है।

Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
X
Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
Dhar News - mp news fifth time flood in bahu water flowing 15 feet above old bridge of khalghat traffic stopped
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना