भगवान ने एक बार भी सबूत नहीं मांगा कि हम इंसान हैं कि नहीं : पं. अनुराग जोशी

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:20 AM IST

Dhar News - रास मंडल में 11 मई से सतत चल रही भागवत गीता का कल 17 मई को समापन हुआ। जिसमें व्यासपीठ पर विराजमान अनुराग जोशी ने...

Dhar News - mp news god never asked for proof whether we are human or not pt anurag joshi
रास मंडल में 11 मई से सतत चल रही भागवत गीता का कल 17 मई को समापन हुआ। जिसमें व्यासपीठ पर विराजमान अनुराग जोशी ने श्रोताओं को अलग-अलग दिन अलग-अलग कथाओं का वाचन कर भाव विभोर कर दिया। उन्होंने बताया कि भगवत गीता के उपदेश सबसे बड़े धर्म युद्ध महाभारत की रणभूमि कुरुक्षेत्र के युद्ध में अपने शिष्य अर्जुन को भगवान श्री कृष्ण ने दिए थे, जिसे हम गीता सार भी कहते हैं। उन्होंने कहा कि तुम अपने आप को भगवान को अर्पित करो यही सबसे उत्तम सहारा है जो इसके सहारे को जानता है वह भय, चिंता, शोक से सर्वदा मुक्त है। परिवर्तन ही संसार का नियम है जैसे संपूर्ण नदियों का जल चारों ओर से जल द्वारा परिपूर्ण समुद्र से आकर मिलता है पर समुद्र अपनी मर्यादा में अचल स्थिर रहता है। ऐसे ही संपूर्ण भोग पदार्थ जिस संयमी मनुष्य को विकार उत्पन्न किए बिना ही प्राप्त होते हैं। वही मनुष्य परम शांति को प्राप्त होता है भोगों की कामना वाला नहीं है। हम हर बार आजमाते हैं कि ईश्वर है कि नहीं पर उसने एक बार भी सबूत नहीं मांगा कि हम इंसान हैं कि नहीं। हम जैसा कार्य करेंगे वैसा ही हमें फल मिलेगा। इस दुनिया में हमें सब के साथ अच्छा बर्ताव करना चाहिए। इसी से हमें सुख की प्राप्ति होगी। जानकारी भोज जागरूक महिला मंडल सोसायटी की मीना अग्रवाल ने दी।

X
Dhar News - mp news god never asked for proof whether we are human or not pt anurag joshi
COMMENT