• Hindi News
  • Mp
  • Dhar
  • Dhar News mp news relief up to 150 units after that electricity is four times more expensive

150 यूनिट तक राहत, उसके बाद बिजली चार गुना महंगी

Dhar News - राज्य सरकार ने सभी तरह के बिजली उपभोक्ताओं को 150 यूनिट तक बिजली उपयोग करने पर राहत दी है। इसके बाद एक यूनिट ज्यादा...

Aug 20, 2019, 07:10 AM IST
राज्य सरकार ने सभी तरह के बिजली उपभोक्ताओं को 150 यूनिट तक बिजली उपयोग करने पर राहत दी है। इसके बाद एक यूनिट ज्यादा बिजली का उपभोग करने पर पूरा चार्ज देना हाेगा। यानी 150 यूनिट बिजली का उपयोग करने पर बिल 385 रुपए आएगा और 200 यूनिट पर यह 1501 रुपए हो जाएगा लगभग चार गुना। कैबिनेट ने सोमवार को इंदिरा गृह ज्योति योजना को मंजूरी दे दी।

ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह का दावा है कि इससे प्रदेश के 1 करोड़ 1 लाख उपभोक्ता लाभांवित होंगे। सरकार पर 2623 करोड़ का अतिरिक्त भार आएगा। कैबिनेट ने बिजली उपभोक्ताओं के लिए राहत दी जाने वाली सभी योजनाओं को इंदिरा गृह ज्योति योजना में शामिल किए जाने को भी मंजूरी दे दी। इससे अब तक गरीबों को हर महीने 30 यूनिट बिजली पर राहत दी जाती थी। जिसे घटाकर 25 यूनिट कर दिया है। शेष|पेज 4 पर



मंत्री पीसी शर्मा और प्रद्युमन सिंह तोमर ने कहा- योजना में पात्रता 200 यूनिट तक की जाए

इंदिरा गृह ज्योति योजना में उपभोक्ताओं को राहत दिए जाने को जनसंपर्क मंत्री मंत्री पीसी शर्मा और खाद्य मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर ने नाकाफी बताया। शर्मा का कहना था कि उपभोक्ताओं को 200 यूनिट तक राहत दी जाती तो इससे बड़े वर्ग को फायदा होता। इस पर ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा कि वचन पत्र में तो 100 यूनिट बिजली पर राहत देने का वादा था, लेकिन इसे बढ़ाकर 150 यूनिट कर दिया गया है। मंत्रियों के सुझाव के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि आगे इन सुझावों पर विचार किया जाएगा।

बिजली के बिल अभी भी मार रहे हैं करंट - सिंघार

वन मंत्री उमंग सिंघार का कहना था कि लोगों के अभी भी बिजली के बिल बढ़े हुए आ रहे हैं। अब तक उपभोक्ताओं की सुनवाई के लिए जो समितियां गठित की गई हैं, उनके पास किसी तरह के अधिकार नहीं है। इसलिए जरूरत है कि इन समितियों को अधिकार संपन्न बनाया जाए। इस पर ऊर्जा मंत्री ने समितियों को बिजली बिलों में सुधार किए जाने के पर्याप्त अधिकार दिए जाने का आश्वासन दिया। इसके आदेश जल्दी ही जारी कर दिए जाएंगे।

इंदिरा गृह ज्योति योजना में यह है बिजली का गणित

प्रदेश में कुल बिजली उपभोक्ताओं की संख्या 1 करोड़ 50 लाख है जिसमें से इंदिरा गृह ज्योति योजना में 1 करोड़ उपभोक्ता लाभांवित होंगे। उन्हें पहली 100 यूनिट बिजली 100 रुपए में दी जाएगी। इसके बाद 100 से 150 यूनिट बिजली पर सामान्य दर से बिजली का बिल लिया जाएगा और अधिकतम बिल 385 रुपए लिया जाएगा। यह लाभ 1 करोड़ उपभोक्ताओं को मिलेगा, लेकिन इसके बाद ऐसे 50 लाख उपभोक्ता जो 151 यूनिट से ज्यादा बिजली का उपयोग करते हैं उन्हें बिजली का झटका लगेगा और न्यूनतम 151 से 200 यूनिट पर 1501 रुपए और 350 यूनिट पर 2875 रुपए तक बिजली का बिल जमा करना पड़ेगा।

अनुसूचित जनजाति साहूकार अधिनियम (संशोधन) अध्यादेश को भी मंजूरी मिली

साहूकारों द्वारा 89 अनुसूचित जनजाति ब्लाॅक में आदिवासियों को ज्यादा ब्याज पर कर्ज देने पर रोक लगाने के लिए अनुसूचित जनजाति साहूकार अधिनियम (संशोधन) अध्यादेश 2019 के लिए भी स्वीकृति दे दी गई। इसके तहत अब साहूकारों को लाइसेंस शुल्क 5000 रुपए जमा करना होगा। बगैर लाइसेंस कर्ज देने पर 3 साल की सजा का प्रावधान है।



अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री आरिफ अकील ने इस अधिनियम को प्रदेश भर में लागू करने की बात कही। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी तो इसे अनुसूचित जनजाति क्षेत्रों में लागू किया जा रहा है। आगे इसका प्रदेश में क्रियान्वयन करने पर विचार किया जाएगा।

कैबिनेट के अन्य फैसले









इस निर्णय से प्राथमिक और माध्यमिक कक्षाओं में पढ़ रहे कुल 34 हजार 250 विद्यार्थी लाभांवित होंगे। इसे लागू करने से 10 करोड़ का अतिरिक्त भार आएगा।



X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना