शासकीय शिक्षक किसी भी मायने में कमजोर नहीं है

Dhar News - कक्षा 5वीं, 8वीं की बोर्ड परीक्षा को लेकर शिक्षा विभाग की चिंता की लकीर शुक्रवार काे मांगलिक भवन में हुई बैठक में...

Feb 15, 2020, 09:11 AM IST
Sardarpur News - mp news the government teacher is not weak in any sense

कक्षा 5वीं, 8वीं की बोर्ड परीक्षा को लेकर शिक्षा विभाग की चिंता की लकीर शुक्रवार काे मांगलिक भवन में हुई बैठक में स्पष्ट दिखाई दी। डीपीसी कमलसिंह ठाकुर ने 455 प्रावि, मावि के प्रधानाध्यापकों व प्राचार्याें की 3 घंटे क्लास लेकर स्पष्ट शब्दों में कहा बच्चों की पढ़ाई व उनके श्रेष्ठ परीक्षा परिणामों की जिम्मेदारी आपकी है। इसमें लापरवाही कदापि बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

डीपीसी ने कहा सरकार की चिंता और उसमें डूबी आशा यह है कि शासकीय शालाएं श्रेष्ठ प्रदर्शन करें। शासकीय शिक्षक किसी भी मायने में कमजोर नहीं है। 5वीं, 8वीं के बच्चों की तैयारियों को लेकर गंभीरता से आगे बढ़ने की जरूरत है। इसके लिए अतिरिक्त समय व अवकाश के दिन का सदुपयोग कर बच्चों को परीक्षा के लिए दक्ष करे।

ठाकुर ने कहा सोशल मीडिया पर एक तबका बोर्ड पैटर्न परीक्षा और उसके परिणामों को लेकर शिक्षकों में कार्रवाई का भय और भ्रम फैला रहा है जो मिथ्या व निराधार है। जबकि हकीकत यह है कि शिक्षा विभाग परीक्षा को लेकर शिक्षकों को मानसिक रूप से बच्चों के बेहतर परिणाम देने के लिए तैयार कर रहा है। इस बार हाे रही पांचवीं, अाठवीं की बाेर्ड परीक्षा में प्रत्येक विद्यालय से शत-प्रतिशत छात्र-छात्रा शामिल हाेना चाहिए। इसके लिए शिक्षक पालकों के सतत संपर्क में रहकर सामंजस्य स्थापित करें। यह भी सुनिश्चित कर लिया जाए कि 80 प्रतिशत से कम परीक्षा परिणाम नहीं होना चाहिए। प्राेजेक्टर पर प्रधानाध्यापकों व प्राचार्याें काे परीक्षा से संबंधित कई महत्वपूर्ण बाते भी बताई। जिसका सभी काे ध्यान रखने काे कहा। खंड स्त्रोत समन्वयक मगनसिंह मेड़ा, खंड अकादमिक समन्वयक अनोखीलाल चौधरी, मनीष चौबे, राजेश सोलंकी सहित ब्लाॅक के जनशिक्षक माैजूद थे।

बैठक में शामिल प्रावि, मावि के प्रधानाध्यापक व प्राचार्य।

X
Sardarpur News - mp news the government teacher is not weak in any sense
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना