जलसंकट दूर करने के लिए कलेक्टर से लगाई गुहार, एकेवीएन जो पानी ले रहा उसपर लगाएं रोक

Dhar News - नपा क्षेत्र के रहवासियों की जलापूर्ति का एक ही बड़ा स्रोत संजय जलाशय है, जिससे सभी 31 वार्डों में जलप्रदाय किया जाता...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:41 AM IST
Pithampur News - mp news to stop the water conservation stop the attachment to the collector akvn which is taking water
नपा क्षेत्र के रहवासियों की जलापूर्ति का एक ही बड़ा स्रोत संजय जलाशय है, जिससे सभी 31 वार्डों में जलप्रदाय किया जाता है। इस बार बारिश कम होने से यहां पानी की मात्रा कम है। इस पर भी एकेवीएन द्वारा उद्योगों को पानी की आपूर्ति करने के लिए लगातार पानी खींचा जा रहा है, जिससे यहां आने वाले समय में जलसंकट की स्थिति पैदा हो जाएगी।

यह बात कलेक्टर दीपकसिंह से नपाध्यक्ष कविता वैष्णव व प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने कही। वे कलेक्टर सिंह को ज्ञापन सौंपने आए थे। उन्होंने बताया संजय जलाशय ही फिलहाल जलापूर्ति का एकमात्र स्रोत है। इससे नगर के सभी 31 वार्डों सहित औद्याेगिक क्षेत्र में भी जलप्रदाय किया जाता है। वर्तमान में कम बारिश के कारण जलसंकट के आसार बनने की आशंका है। ऐसे में एकेवीएन द्वारा 24 घंटे संजय जलाशय से पानी लिया जा रहा है। इसके चलते नगर में पानी की समस्या आने लगी है। अत: आप हस्तक्षेप कर एकेवीएन द्वारा लगातार खींचे जा रहे पानी पर राेक लगाएं, जिससे जलसंकट की स्थिति नहीं बने। उनके साथ प्रतिनिधिमंडल में उपाध्यक्ष हंसराज पटेल, सुभाष जायसवाल, रंजीत भंडारी, हेमंत पटेल, कालू मारू, मुकेश पांचाल, बीसी प्रजापति, दीपक बिरला, क्षमा जायसवाल आदि उपस्थित थे। कलेक्टर सिंह ने आश्वस्त किया कि वे जल्द से जल्द इस समस्या का निराकरण करेंगे। पीथमपुर नगर पालिका को पानी की समस्या नहीं होने दी जाएगी।

दो योजनाएं हैं, पर एक का भी पानी नहीं मिल रहा…: इस औद्योगिक नगरी में जलापूर्ति के लिए दो बड़ी योजनाओं का काम अधूरा है, जिसकी वजह से उनका फायदा नहीं मिल पा रहा है। शहर में नर्मदा का पानी अभी तक नहीं पहुंचा है। इनमें 84 करोड़ रुपए की लागत वाली अमृत योजना का पानी खलघाट से पीथमपुर तक लाया जाना है। यह नपा की योजना है। इसके अलावा एकेवीएन की 300 करोड़ की जलापूर्ति योजना का काम भी चल रहा है। इसके बावजूद नर्मदा का पानी अभी तक पीथमपुर नहीं आ पाया है। इस संबंध में नपा इंजीनियर मनोज गुप्ता ने बताया अमृत योजना का पानी जल्द ही लाया जाएगा। इसमें वर्तमान में एनएच से अनुमति संबंधी अड़ंगा है, जिसे शीघ्र हल कर अनुमति ली जाएगी। अनुमति मिलने के 10 दिन बाद यहां योजना का पानी आने लगेगा।

पीथमपुर में संजय जलाशय से होता है सभी वार्डों में जलप्रदाय, काम रुकने से अमृत योजना के तहत नर्मदा का पानी भी नहीं मिल पा रहा, जनता हो चुकी है परेशान, नहीं हो रही सुनवाई

पीथमपुर. कलेक्टर सिंह को नपाध्यक्ष कविता वैष्णव सहित ज्ञापन सौंपते प्रतिनिधिमंडल के सदस्य।

X
Pithampur News - mp news to stop the water conservation stop the attachment to the collector akvn which is taking water
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना