• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Dhar News
  • Dhar - शहर से बाहर की गई साढ़े 11 हजार गायों का हिसाब नहीं दिया नगर निगम ने
--Advertisement--

शहर से बाहर की गई साढ़े 11 हजार गायों का हिसाब नहीं दिया नगर निगम ने

शहर को साफ-सुथरा बनाने के लिए शहर से बाहर की गई लगभग 12 हजार गायों की क्या स्थिति है, यह नगर निगम पूरी तरह नहीं बता...

Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 02:35 AM IST
शहर को साफ-सुथरा बनाने के लिए शहर से बाहर की गई लगभग 12 हजार गायों की क्या स्थिति है, यह नगर निगम पूरी तरह नहीं बता पाया। केवल साढ़े सात सौ गायों की रिपोर्ट ही हाई कोर्ट में पेश की गई। हाई कोर्ट ने निगम को बाहर की गई सभी गायों की क्या स्थिति है, इसकी वस्तुस्थिति तीन महीने में स्पष्ट करने के आदेश दिए हैं।

शहर से बाहर करने के बाद गायों की क्या स्थिति है, गायों को किन्हें सौंपा गया है, इसे लेकर जनहित याचिका दायर की गई थी। नगर निगम को गायों के बारे में जानकारी देना है। निगम ने इसके लिए 12 सदस्यीय टीम भी गठित की थी। बुधवार को डिविजन बेंच के समक्ष यह मामला सुनवाई के लिए लगा था। निगम ने साढ़े सात सौ गायों का ही ब्योरा दिया। याचिकाकर्ता की ओर से सीनियर एडवोकेट मनोहर दलाल, लोकेंद्र जोशी ने आपत्ति ली कि निगम ने गायों को बाहर करने के नाम पर विधायकों को गाय सौंप दीं। कोर्ट को निगम सही जानकारी नहीं दे रहा है। हाई कोर्ट ने टिप्पणी की कि आपको जनप्रतिनिधियों से एलर्जी हो सकती है, कोर्ट को नहीं। दलाल ने फिर कहा- जब 12 हजार से ज्यादा गाय शहर से बाहर की हैं तो फिर सभी की रिपोर्ट दी जाना चाहिए। निगम ने उनकी बेहतर देखभाल, इलाज की व्यवस्था के बगैर ही इंदौर से बाहर कर दिया। झाबुआ, धार, आलीराजपुर में गायों को भेजना बताया है। इनकी स्थिति वहां ठीक नहीं है। इस पर हाई कोर्ट ने तीन महीने में रिपोर्ट देने के लिए कहा।

डिविजन बेंच ने तीन महीने में स्टेटस रिपोर्ट देने को कहा, 750 गायों की जानकारी ही पेश की