• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Ganjbasoda News
  • न मैं औपचारिकता करता हूं न ही मुझे यह पसंद है, सेवा ही प्राथमिकता: जैन
--Advertisement--

न मैं औपचारिकता करता हूं न ही मुझे यह पसंद है, सेवा ही प्राथमिकता: जैन

भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा विधायक निशंक जैन ने रविवार को अधिकारियों से दो टूक शब्दों में कहा कि भ्रमण के दौरान...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:55 AM IST
भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा

विधायक निशंक जैन ने रविवार को अधिकारियों से दो टूक शब्दों में कहा कि भ्रमण के दौरान वार्डों में मिली समस्याओं का निराकरण त्वरित करें। न मैं फार्मेल्टी करता हूं न ही मुझे यह पसंद हैं। जनता की सेवा मेरी पहली प्राथमिकता है। जब तक समस्या नहीं सुलझती न मैं चैन से बैठूंगा न बैठने दूंगा।

इन दिनों पूरे नगर में आपका विधायक आपके द्वार कार्यक्रम चलाया जा रहा है। वह नगर के सभी वार्डोंं में गली-गली पहुंच कर नागरिकों की समस्याओं को दर्ज कर रहे हैं।

इस अवसर पर नगरपालिका अधिकारी व अन्य विभागीय अधिकारी साथ भ्रमण कर रहे हैं। वार्ड क्रमांक 14 में रहवासियों द्वारा बताया गया कि अवैध शराब की बिक्री खुलेआम चल रही है। जुए-सट्‌टे का कारोबार युवाओं का भविष्य खराब कर रहा है। विद्युत विभाग उपभोक्ताओं को आंकलित खपत का बिल दे रही है। शिकायत के बाद भी विद्युत विभाग के अधिकारी उसका निराकरण नहीं कर रहे हैं। विधायक ने कहा कि बिजली विभाग के लिए अलग से शिविर लगाया जाएगा। भ्रमण के दौरान साफ-सफाई, पेंशन न मिलना, राशन कार्ड न बनना, खाद्यान्न पर्ची न मिलना, आवास व शौचालय निर्माण योजना की सूची में नाम सम्मिलित न होना आदि शिकायत प्राप्त हुई है। बेरोजगार युवकों ने भी रोजगार की समस्या बताते हुए रोजगार दिलाने की मांग की।

इस अवसर पर आबिद हुसैन, कल्लू मामा, मो.अदनान भाई, विष्णुप्रसाद शर्मा, आनंदी कुशवाह, ताराचंद्र अहिरवार, राजकुमार सेन, कमल सिंह मैना, राजेश जैन , जितेन्द्र वाल्मीकि, देवीराम अहिरवार, धर्मेंद्र पटेल, कोमल सूर्यवंशी, बृजेश लोधी, रवि जैन, रवि यादव, अनुराग जैन, डॉ. ओपी भदौरिया, मनोज पंथी, धर्मचन्द्र सेन, नीलम साहू, पप्पू यादव, विकास सेन, दिनेश जैन, नारायणी कुशवाह, मंजू कुशवाह, मणि अहिरवार, आनंदीलाल पवार, जावेद भाई, हरीश भावसार, सौरभ दुबे, जितेन्द्र दुबे, संजू यादव, नीलेश जैन, राजू अहिरवार, गोलू रघुवंशी आदि विधायक के साथ रहे।

विधायक ने घर- घर जाकर सुनी शिकायतें।